मर्दों को भी आते हैं पीरियड्स , जानें आपमें है लक्षण!

मर्दों को भी आते हैं  पीरियड्स , जानें आपमें है लक्षण!

औरतों की माहवारी की बारे में जानते होंगे पर क्या आपको पता है कि कुछ मर्द भी इस समस्या से गुजरते हैं।

औरतों की माहवारी की बारे में जानते होंगे पर क्या आपको पता है कि कुछ मर्द भी इस समस्या से गुजरते हैं। यह भी पढ़ें: जानिए, सपने में सेक्स का क्या है मतलब? हम आपको एक सर्वे के हवाले से बता रहे हैं जिसके अंतर्गत ये सामने आया है कि चार में से एक मर्द को हर महीने माहवारी होती है। अंतर बस इतना है कि इसमें रक्तस्राव नहीं होता बल्कि दूसरे लक्षण सामने आते हैं।


डेलीमेल में छपी एक सर्वे रिपोर्ट कहती है कि इसके लक्षण औरतों जैसे ही होते हैं। मतलब मर्दों के पेट में भी ऐंठन होती है, वे जल्दी जल्दी थकान महसूस करते हैं। मर्द भी चिड़चिड़े हो जाते हैं। उन्हें अलग अलग तरह की चीजें खाने का मन करता है। जिसे क्रेविंग कहते हैं।


सर्वे रिपोर्ट के अनुसार इससे गुजरने वाले मर्दों की महिला साथियों में से दो तिहाई ने यह माना कि उनके पार्टनर के साथ ऐसा होता है। और पुरुष माहवारी जैसी चीज सच में होती है। जबकि कुछ महिलाओं का ये कहना था कि उनके साथी का इस दौरान उनसे भी ज्यादा बुरा हाल हो जाता है।

Men suffer

किसने किया था सर्वे
वाउचरक्लाउड.को.यूके ने 2412 लोगों पर यह सर्वे किया था। 
जिनमें से आधे मर्द थे। ये लोग 12 महीनों से ज्यादा तक रिलेशनशिप में रहे हैं। 
उनमें से 26 प्रतिशत मर्दों में ये सारे लक्षण पाए गए।


क्या कहा महिलाओं ने
महिलाओं से भी पूछा गया कि इस दौरान उन्होंने अपने साथी का दर्द कम करने के लिए कुछ किया या नहीं?
43 प्रतिशत महिलाओं का जवाब हां था। 
उन्होंने साथी को खुश करने की कोशिश की। 
33 प्रतिशत महिलाओं ने कहा कि वे बस उन्हें मर्द की तरह मजबूत बनने की सलाह देती हैं।


प्रतिशत में लक्ष्ण
लक्षणों में 56% चिड़िचिड़ापन था।
51% ज्यादा थकान होना, 47% क्रेविंग।
43% लगातार भूख लगना।
43% ने बात बात पर दुखी हो जाना और 15% शरीर का फूल जाना बताया।


2012 की एक ब्रिटिश स्टडी का दावा है कि पुरुषों को भी इसका का उतना ही दर्द होता हैं जितना औरतों को। वैसे दर्द को परिभाषित नहीं किया जा सकता। पुरुष माहवारी की जो धारणा है इस पर काफी समय तक शोध हुए हैं। कुछ शोधकर्ताओं ने माना है कि पुरुषों के हार्मोन घटते-बढ़ते हैं।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned