भाजपा सांसद ने मोदी सरकार को लेकर किया गोपनीय खुलासा, सरकार में मची खलबली!

भाजपा अध्यक्ष नंद कुमार सिंह चौहान मध्यप्रदेश के मंत्री समेत PM नरेंद्र मोदी पर भी बोल चुके हैं बड़ी बात...।

By: Manish Gite

Updated: 09 Dec 2017, 10:51 AM IST

 

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष नंद कुमार सिंह चौहान का एक बार फिर विवादित बयान आया है। इस बार उन्होंने मंत्री लाल सिंह आर्य की गिरफ्तारी वारंट पर बोला है। उन्होंने कहा है कि वारंट से क्या होता है, जब कानून में अग्रिम जमानत का प्रावधान है, तो अग्रिम जमानत के लिए प्रयास करें और सामने न आएं।

 

शुक्रवार को भाजपा अध्यक्ष की यह टिप्पणी राजनीतिक गलियारों में चर्चा का विषय बनी रही। कांग्रेस को भी हमला बोलने का मौका मिल गया। विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने भाजपा सरकार को दोहरे चरित्र वाली बताते हुए कहा है कि भाजपा सरकार हत्या के आरोपी मंत्री लाल सिंह आर्य को बचाने में लगी है। उनके खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी हो चुका है, लेकिन वे फरारी काट रहे हैं।

 

नेता प्रतिपक्ष कहना है कि भाजपा की नजरों में तो 302 का मुजरिम होता है या नहीं। या सिर्फ साधारण आदमी ही दोषी होता है। क्या भाजपा का मंत्री और रसूखदार व्यक्ति निर्दोष होते हैं। यही है भाजपा का दोहरा चरित्र है। इधर कांग्रेस से जुड़े लोगों का आरोप है कि मोदी सरकार के सांसद इतने परेशान हो गए हैं कि वे उलजलूल बयानबाजी कर रहे हैं। वे खुद ही भाजपा सरकार के दोहरे चरित्र का खुलासा कर रहे हैं।

पूर्व महाधिवक्ता एवं कांग्रेस के राज्यसभा सांसद विवेक तन्खा का कहना है कि दुर्भाग्यवश नंदकुमार को कानून का ज्ञान नहीं है। होता तो वो ऐसा बयान नहीं देते। आरोपी की जमानत नहीं होने तक तो वारंट लीगल होता है, उसका पालन करना ही होगा।

भाजपा अध्यक्ष एवं सांसद नंदकुमार सिंह चौहान ने पहले भी कई बार दे चुके हैं विवादित बयान...।

 

विवादित बयान-1
प्रधानमंत्री मोदी को बयान में लपेटा
कोलारस विधानसभा चुनाव से पहले एक सभा को संबोधित करते हुए नंदकुमार सिंह चौहान ने कहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत हितग्राहियों को ऐसे मकान दे रहे हैं, जिसमें एक बार जाने के बाद 'अर्थी' ही बाहर आएगी। वहीं मरने के बाद औलादें भी इस मकान में रह सकेंगी। इस बार उनके बयान ने एक बार फिर बखेड़ा खड़ा कर दिया था।

 

विवादित बयान-2
किसानों की मौत को कर्ज की वजह बताना फैशन
पिछले जून में हुए किसान आंदोलन के बाद भी उनका बड़बोलापन सामने आया था। जिसमें उन्होंने किसानों की कर्ज माफी की मांग के बाद कहा था कि किसी भी किसान की मौत हो जाती है तो उसे किसान बनाकर कर्ज की वजह बताना फैशन हो गया है। चौहान के इस बयान के बाद नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा था कि कार्पोरेट कल्चर वाली भाजपा सरकार की यही असलीयत है। भाजपा के लिए किसान यूज एंड थ्रो मटेरियल हो गए हैं

 

विवादित बयान-3
दगा देने वालों को गाड़ दो जमीन में
इधर पिछले साल दिसंबर में ही हरदा नगर पालिका चुनाव में चौहान भाषण देते वक्त अपना आपा खो बैठे। उन्होंने यहां तक कह दिया था कि पार्टी से दगा करने वालों को जमीन मे गाड़ दो।

 

विवादित बयान-4
मोदी से पहले देश भिखमंगा था
भाजपा अध्यक्ष बनने से पहले भी वे कई बार विवादित बयान देकर भाजपा की किरकिरी करा चुके हैं। सांसद सिंह ने भारत को भिखमंगा देश कहकर विवाद खड़ा कर दिया था। हालांकि बाद में वो इस बयान से पलट गए थे। सागर के एक कार्यक्रम में चौहान ने मोदी की तारीफ़ करते हुए उन्हें असाधारण व्यक्ति बताया था। अपने भाषण में वे यह कह गए कि मोदी के PM बनने से पहले देश भिखमंगा था।

 

विवादित बयान-5
शिवराज गंगा के समान पवित्र
भाजपा अध्यक्ष ने यह बयान भी अध्यक्ष बनने से पहले दिया था। उन्होंने कहा था कि उन्हें व्यापमं का कोई दुःख नहीं है और न ही कोई अफसोस है। उन्होंने CM शिवराज सिंह चौहान की तारीफ करते हुए कहा था कि शिवराज गंगा के समान पवित्र हैं। इस बयान के बाद कांग्रेस काफी मुखर हो गई थी।

 

विवादित बयान-6
चने फुटाने खाने वालों को मिलने लगे 20 हजार
चौहान टीचर्स पर भी विवादित बयान दे चुके हैं। एक बार समान काम समान वेतन की मांग को लेकर आंदोलन कर रहे टीचर्स को उन्होंने पांच सौ रुपए में चने-फुटाने खाकर काम चलाने वाले को अब पंद्रह से बीस हजार रुपए मिलने लगे' कहकर बखेड़ा खड़ा कर दिया था। उन्होंने अपने बयान को आगे जोड़ते हुए कहा था कि लेकिन इतने में भी उनका पेट नहीं भर रहा है।

 

विवादित बयान-7
हमारे इशारे पर काम करता है लोकायुक्त
बैतूल में प्रदेश अध्यक्ष ने कहा था कि लोकायुक्त संगठन सीएम के आदेश पर ही भ्रष्टाचारियों पर कार्रवाई करता है। लोकायुक्त की हर ट्रैप की कार्रवाई मुख्यमंत्री के आदेश और मंशा के बगैर संभव नहीं होती है। बाद में लोकायुक्त पीपी नावलेकर ने इस बयान को सिरे से खारिज करते हुए कहा था कि संगठन किसी के आदेश पर काम नहीं करता है।

 

विवादित बयान-8
भाजपा को जिताइए नहीं तो धन कहां से आएगा
नरसिंहपुर के करेली में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए नंद सिंह चौहान ने कहा था कि भाजपा के प्रत्याशी को जिताइए अगर नहीं जिताइएगा तो विकास के लिए धन नहीं आ पाएगा। उन्‍होंने आगे कहा था कि आप सत्‍तारुढ़ पार्टी के प्रत्‍याशी को जिताएंगे तो विकास के लिए धन भी अधिक मिलेगा।

 

विवादित बयान-9
कपड़े उतारकर प्रदर्शन करने वाले किसानों पर कसा तंज
अक्टूबर माह में भाजपा अध्यक्ष का किसानों पर विवादित बयान आया था। उन्होंने टीकमगढ़ की घटना पर कहा था कि कांग्रेस के तथाकथित किसानों ने खुद ही कपड़े उतारकर प्रदर्शन कर दिया। कांग्रेस के कहने पर तो वे पूरे ही कपड़े उतार देंगे। इसे कांग्रेस ने किसानों का अपमान बताया था।

 

विवादित बयान-10
आजादी के पहले वाले सिंधिया कांग्रेस के
जब सीएम और सिंधिया के आपस में बयानों का दौर चल रहा था उसमें भाजपा अध्यक्ष ने भी विवादित बयान दे डाला था। उन्होंने कहा था कि आजादी के पहले वाले सिंधिया कांग्रेस के थे। क्योंकि उन्होंने अंग्रेजों का साथ दिया था। तो आजादी के बाद वाले सिंधिया हमारे सिंधिया हैं। जिन्होंने जनसंघ और भाजपा की स्थापना में अहम योगदान दिया।

BJP
Manish Gite
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned