scriptजीजी फ्लाइओवर की लोड टेस्टिंग शुरू हुई, 200 टन का भार डालकर जांचेंगे ब्रिज की मजबूती | Patrika News
भोपाल

जीजी फ्लाइओवर की लोड टेस्टिंग शुरू हुई, 200 टन का भार डालकर जांचेंगे ब्रिज की मजबूती

24 घंटे नो-लोड, फिर 24 घंटे 200 टन का लोड 22 माह की देरी से चल रही ब्रिज ब्रिज आंकड़ों में कोट्सहमने लोड टेस्टिंग शुरू की है। अब सितंबर आखिर तक ब्रिज ट्रैफिक के लिए तैयार हो जाएगा।

भोपालJul 05, 2024 / 11:44 am

देवेंद्र शर्मा

  • तीन दिन चलेगी लोड टेस्टिंग की प्रक्रिया, अभी नो-लोड पर दो डंपर खड़े किए, सुबह से इनमें दस-दस फीसदी बढ़ाएंगे भार
    भोपाल. गणेश मंदिर से गायत्री मंदिर तक 2700 मीटर लंबे फ्लाइओवर को शुरू करने से पहले इसकी भार वहन क्षमता जांचने का काम शुरू हुआ है। गुरुवार को गणेश मंदिर की ओर से ब्रिज पर दो डंपर खड़े किए गए हैं। इनमें रेत की बोरियों के तौर पर 200 टन भार डालकर जांच की जाएगी। ये प्रक्रिया पूरे तीन दिन चलेगी। भार नापने ब्रिज में डायल गेज यान भार मापने की घड़ी लगाई है। ये तापमान और वजन की स्थिति लगातार रिकॉर्ड करेगी। तीसरे दिन अनलोड कर लोड टेस्टिंग को लेकर रिपोर्ट बनेगी।
24 घंटे नो-लोड, फिर 24 घंटे 200 टन का लोड
  • लोड टेस्टिंग के तहत शुरुआती 24 घंटे खाली डंफर पूरे 24 घंटे के लिए खड़े किए गए हैं। इस नो-लोड में डायल गेज से भार की स्थिति का आंकलन होगा। इसके बाद 10-10 फीसदी भार डंपर में बढ़ाया जाएगा। इसे 200 टन की उच्चतम सीमा तक लाएंगे। 200 टन का भार पूरे 24 घंटे के लिए ब्रिज पर ही रखा जाएगा। इसकी रीडिंग व तापमान में परिवर्तन की स्थिति का आंकलन होगा। अंतिम दिन फिर दस-दस फीसदी वजन घटाकर अनलोड की प्रक्रिया होगी।
22 माह की देरी से चल रही ब्रिज
  • ब्रिज निर्माण का काम 22 माह की देरी से चल रहा है। कोरोना, मेट्रो ट्रेन प्रोजेक्ट, निगम की पाइप लाइन को इस देरी की वजह बताया जा रहा। हाल में मेट्रो के गणेश मंदिर रेलवे ओवरब्रिज के पोर्टल की वजह से लोड टेस्टिंग में भी देरी हुई। 30 सितंबर 2024 इस ब्रिज को शुरू करने की अंतिम समय सीमा तय की गई है। गौरतलब है कि फ्लाइओवर का बजट अभी 148 करोड़ रुपए तक पहुंच गया। शुरुआती बजट से ये करीब आठ करोड़ रुपए अधिक है। ब्रिज का काम अगस्त 2022 को पूरा हो जाना था।
ब्रिज आंकड़ों में
  • 15 मीटर चौड़ा ब्रिज
  • 2734 मीटर लंबाई है
  • 140 करोड़ रुपए शुरुआती लागत
  • 148 करोड़ रुपए अब लागत है
  • 2020 अगस्त में शुरू हुआ था काम
  • 24 माह में इसे पूरा करना था
  • 2022 अगस्त काम पूरा करने की समय सीमा तय थी
  • 22 माह की देरी से चल रहा काम
  • 60 फीसदी ट्रैफिक एमपी नगर आने वाला गुजरेगा
  • 05 मिनट में पौने तीन किमी की दूरी तय होगी
कोट्स
हमने लोड टेस्टिंग शुरू की है। अब सितंबर आखिर तक ब्रिज ट्रैफिक के लिए तैयार हो जाएगा।
  • जावेद शकील, कार्यपालन यंत्री, पीडब्ल्यूडी ब्रिज

Hindi News/ Bhopal / जीजी फ्लाइओवर की लोड टेस्टिंग शुरू हुई, 200 टन का भार डालकर जांचेंगे ब्रिज की मजबूती

ट्रेंडिंग वीडियो