स्थानीय चुनाव की तैयारियां पूरी, ऑनलाइन नामांकन भर सकेंगे उम्मीदवार

लोकसेवा केंद्रों पर निकाय चुनाव के नामांकन पत्र जमा करने प्रत्याशियों को देनी होगी 40 रुपये फीस

By: Hitendra Sharma

Published: 16 Dec 2020, 10:11 AM IST

भोपाल. मध्यप्रदेश राज्य निर्वाचन आयोग ने स्थानीय चुनाव की तैयारियां पूरी कर ली है। चुनाव की अधिसूचना अगले हफ्ते तक होने की संभावना है। पहले निकायों के चुनाव होंगे, इसके बाद पंचायतों में चुनाव कराए जाएंगे। चुनाव लडऩे के लिए उम्मीदवार लोकसेवा केन्द्रों और एमपी ऑन लाइन के कियास्क में नामांकन पत्र ऑनलाइन दाखिल कर सकेंगे। इसके लिए उन्हें 40 रुपए शुल्क देना होगा। नामांकन भरने के बाद उसका प्रिंट आउट लेकर रिटर्निंग आफिसर को स्वयं उपस्थित होना पड़ेगा।

प्रदेश के 345 निकायों में चुनाव होना है। सागर जिले के दो नगरीय निकायों को छोड़कर सभी 342 निकायों की मतदाता सूची तैयार हो गई है। धार जिले के बाग नगर परिषद में हाईकोर्ट इंदौर खंडपीट के स्टे के बाद यहां चुनाव कार्य रोक दिया है, जबकि अन्य सभी 244 निकायों में चुनाव तैयारियां पूरी हो गई हैं।
अब इन निकायों को चुनाव अधिसूचना का इंतजार है। निकायों में करीब 21 हजार से अधिक मतदान केंद्र बनाए गए हैं, जबकि पंचायतों में 55 हजार से अधिक मतदान केन्द्र हैं। वहीं 62 निकायों में वर्ष 2022 में चुनाव होना है। इन में से कुछ निकाय आदिवासी क्षेत्रों में हैं। प्रदेश में कुल 407 नगरीय निकाय हैं।

सिर्फ दो को अनुमति
उम्मीदवारों को नामांकन के समय दो लोगों को ही साथ ले जाने कीअनुमति होगी। पांच वाहन ही काफिले में शामिल हो सकेंगे। घर-घर प्रचार में भी पांच लोग ही शामिल हो पाएंगे। सभा, रोड-शो में भीड़ कोरोना प्रोटोकाल व जिला आपदा प्रबंधन समिति तय करेगी।

आरओ मुख्यालय में होगी मतगणना
मतगणना रिटर्निंग आफिसर (आरओ) मुख्यालय में होगा। नगर निगम, जिला मुख्यालय के नगर पालिका में कलेक्टर आरओ होगा। जबकि जिला मुख्यालय के बाहर के नगरीय निकायों में एसडीएम और तहसीलदारों को आरओ बनाया गया है। इनके कार्यालय मुख्यालय में मतगणना केन्द्र बनाए जाएंगे। निकायों में चुनाव दो चरणों में होंगे और मतगणना भी दो चरणों में होगी। मतदान और मतगणना में चार से पांच दिन का अंतर होगा।

कोरोना संक्रमण से बचाने के पूरे इंतजाम
कोरोना संक्रमण से बचने के लिए मतदान केन्द्रों पर पूरी व्यवस्थाएं की जाएगी। हर मतदान केन्द्रों के लिए एक-एक लीटर सेनेटाइजर, मतदाताओं की संख्या के हिसाब से मास्क, दस्ताने और साबुन-पानी का इंतजाम किया जाएगा। वहीं मतदान कर्मियों को 50-50 एमएल सेनेटाइजर, मास्क, फेस कवर, पीपीई किट दिया जाएगा। इसकी व्यवस्था करने के लिए आयोग ने स्वास्थ्य विभाग को कहा है।

Show More
Hitendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned