खुशखबरी: 20 अप्रैल से online खरीद सकेंगे ये सारे सामान, नहीं होगी कोई परेशानी

- 20 अप्रैल से कई तरह की सेवाएं शुरू...
- ई-कॉमर्स कंपनियां कर रहीं सर्विस देने की तैयारी...

By: Ashtha Awasthi

Updated: 18 Apr 2020, 01:51 PM IST

भोपाल। पूरी दुनिया में कोरोना ने हाहकार मचा के रखा हुआ है। कोरोना संकट के चलते केंद्र सरकार ने 14 अप्रैल को खत्म हुए लॉकडाउन को 3 मई तक के लिए बढ़ा दिया है। इसके साथ ही केंद्र ने यह भी कहा कि कुछ मामलों में आने वाली 20 अप्रैल से ढील दी जाएगी जिससे आम जनता और अर्थव्यवस्था को बेहतर किया जा सके।

coronavirus.jpg

इस कड़ी में अब सरकार ने अब ई-कॉमर्स वेबसाइटों को 20 अप्रैल से गैर-आवश्यक वस्तुओं को बेचने और डिलीवर करने की अनुमति दी है। अभी के लिए, अमेजन और फ्लिपकार्ट जैसी ई-कॉमर्स वेबसाइट केवल आवश्यक किराना और मेडिकल उत्पादों की बिक्री कर रही हैं लेकिन अब सभी कंपनिया 20 अप्रैल से सभी गैर-आवश्यक चीजों के ऑर्डर स्वीकार करेंगी। अधिकारियों की मानें तो लॉकडाउन में मोबाइल फोन, टीवी, रेफ्रिजरेटर, लैपटॉप और स्टेशनरी आइटम को ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म जैसे अमेजन, फ्लिपकार्ट और स्नैपडील के माध्यम से लॉकडाउन के दौरान बेचने की अनुमति होगी।

12 new coronavirus positive patients found in jodhpur

इनको भी मिलेगी छूट

20 अप्रैल से स्व-रोजगार में लगे इलेक्ट्रिशियंस, आईटी संबंधी मरम्मत का काम करने वाले लोगों, प्लंबर, मोटर मैकेनिक, बढ़ई को काम करने की अनुमति दी जाएगी। इसके अलावा, ई-कॉमर्स ऑपरेटरों द्वारा उपयोग की जाने वाली कूरियर सेवाओं और वाहनों को भी सरकार द्वारा अनुमति दी गई है। साथ ही कोरियर सेवाओं को भी शुरू किया जाएगा। इसमें यह भी कहा गया है कि सभी तरह की माल की आवाजाही शुरू की जाएगी।

coronavirus_1_5871964_835x547-m_5976551_835x547-m.jpg

आपको बता दें कि अमेजन (Amazon) के प्रवक्ता ने कहा कि कंपनी उपभोक्ताओं की तात्कालिक जरूरतों को पूरा करने और आर्थिक गतिविधियों में भागीदारी की तैयारी कर रही है। बता दें करीब एक महीने से ई-कॉमर्स कंपनियों का ऑनलाइन कारोबार लगभग बंद है। केंद्र सरकार की तरफ से 20 अप्रैल से सभी आईटी, आईटी सेवाएं प्रदाता कंपनी (आईटीईएस) और ई-कॉमर्स कंपनियों को काम करने की इजाजत दे दी गई है।

Ashtha Awasthi
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned