Lok Sabha Election 2019: दिग्गजों से दूर रहे राहुल, यहां नहीं आए मोदी

Lok Sabha Election 2019: दिग्गजों से दूर रहे राहुल,  यहां नहीं आए मोदी
PM modi congress rahul gandhi news

KRISHNAKANT SHUKLA | Publish: May, 14 2019 09:42:41 AM (IST) Bhopal, Bhopal, Madhya Pradesh, India

लोकसभा का संग्राम : नए प्रत्याशियों की सीटों पर ही पहुंचे दिग्गज नेता, दिग्गजों की सीट पर प्रचार करने नहीं आए राहुल-मोदी

भोपाल. भाजपा और कांग्रेस के दो सबसे बड़े नेता मध्यप्रदेश में अपने दिग्गज नेताओं की लोकसभा सीट पर प्रचार करने नहीं आए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रदेश में करीब सात सभाएं कीं, लेकिन बड़े नेताओं के यहां सभा करने से परहेज किया। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी दिग्गजों के यहां प्रचार करने नहीं आए।

राहुल की प्रदेश में 17 सभाएं हो चुकी हैं, जिनमें से अधिकतर नए प्रत्याशियों के पक्ष में हुईं। यहां तक कि देश की सबसे लोकप्रिय लोकसभा सीटों में शुमार भोपाल सीट पर भी मोदी और राहुल की सभा नहीं हुई। प्रदेश के दिग्गज नेता खुद के सहारे नैया पार लगाने में जुटे रहे। पहले ये माना जाता था कि बड़े नेताओं के यहां पार्टी हाईकमान का फोकस ज्यादा रहता है।

दिग्गजों से दूर रहे राहुल

राहुल ने प्रदेश में 17 सभाएं कीं, लेकिन दिग्गज नेताओं की सीटों से दूरी बनाए रखी। राहुल भोपाल में न दिग्विजय सिंह के यहां आए और न ही गुना में ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थन में प्रचार किया। वे सीधी में अजय सिंह, रतलाम में कांतिलाल भूरिया और छिंदवाड़ा में सीएम कमलनाथ या उनके पुत्र नकुलनाथ की सीट पर भी प्रचार करने नहीं गए।

राहुल ने पार्टी के नए प्रत्याशियों की सीटों पर फोकस किया। राहुल ने प्रदेश में जबलपुर, शहडोल, टीकमगढ़, दमोह, खजुराहो, होशंगाबाद, रीवा, सागर, भिंड, मुरैना, ग्वालियर, देवास, धार, खरगौन, नीमच, उज्जैन और खंंडवा में प्रचार किया।

मध्य, विंध्य, महाकौशल पर फोकस

मध्य क्षेत्र की होशंगाबाद सीट पर मोदी और राहुल एक ही दिन पहुंचे। महाकौशल क्षेत्र की सबसे अहम सीट जबलपुर में भी दोनों नेताओं ने चुनाव प्रचार किया। विंध्य में मोदी सीधी पहुंचे तो राहुल ने शहडोल और रीवा के जरिए विंध्य को अपने पाले में लाने का प्रयास किया। रतलाम में एक ही दिन नरेंद्र मोदी और प्रियंका गांधी ने सभाएं लीं।

यहां नहीं आए मोदी

भाजपा के सबसे बड़े स्टार प्रचारक नरेंद्र मोदी, जिनके नाम पर ही चुनाव लड़ा जा रहा है वे पार्टी के बड़े नेताओं के क्षेत्र में प्रचार करने नहीं गए। केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर की सीट मुरैना, केंद्रीय मंत्री वीरेंद्र खटीक की सीट टीकमगढ़, प्रहलाद पटेल की दमोह, गणेश सिंह की सतना, फग्गन सिंह कुलस्ते की मंडला और प्रज्ञा ठाकुर की भोपाल पर मोदी ने सभा नहीं की, जबकि इन सीटों पर कांटे का मुकाबला माना गया है। मोदी ने सीधी, जबलपुर, होशंगाबाद, इंदौर, खंडवा, खरगौन और रतलाम में सभाएं कीं।

हॉट सीट से भी दूरी

देश की सबसे हॉट सीट में शामिल भोपाल लोकसभा सीट पर न नरेंद्र मोदी आए और न राहुल गांधी। इस सीट की चर्चा सबसे ज्यादा देशभर में हुई। भाजपा प्रत्याशी प्रज्ञा ठाकुर और कांग्रेस प्रत्याशी दिग्विजय सिंह के इस मुकाबले की सुर्खियां टीवी चैनल्स पर छाई रहीं, लेकिन प्रतिष्ठापूर्ण इस चुनाव पर मोदी और राहुल दोनों ने गौर नहीं किया।

यहां दिग्गजों के चुनाव मैदान में उतरने के बाद सियासी सरगर्मी को देखकर ये कयास खूब लगाए गए कि इस सीट पर मोदी और राहुल की नजर है, इसलिए वे यहां चुनाव प्रचार के लिए आएंगे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। भोपाल में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने रोड शो किया।

 

 

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned