scriptLong distance trains not stopping at rural stations, passengers upset | Trains : ग्रामीण railway stations पर नहीं रुक रहीं लंबी दूरी की trains, यात्री परेशान | Patrika News

Trains : ग्रामीण railway stations पर नहीं रुक रहीं लंबी दूरी की trains, यात्री परेशान

कोरोना के बाद सब दोबारा चालू लेकिन ग्रामीण railway stations पर हॉल्ट बंद, जोनल रेल उपयोगकर्ता समिति सदस्यों ने जीएम के सामने रखी है मांग

भोपाल

Published: March 26, 2022 10:19:43 pm

भोपाल. कोरोना के बाद सरकार सभी प्रकार के प्रतिबंध समाप्त कर रही है, लेकिन पश्चिम मध्य रेलवे के ग्रामीण railway stations पर trains के पुराने हॉल्ट की व्यवस्था को सुचारू नहीं किया जा सका है। रेलवे लंबे समय से हॉल्ट बढ़ाने के मुद्दे पर रेल उपयोगकर्ता समिति सदस्यों एवं अप डाउनर्स एसोसिएशन से वायदे करता आ रहा है, लेकिन अभी तक इस मामले में कोई ठोस कार्रवाई नहीं हुई है। जोनल रेल उपयोगकर्ता समिति सदस्यों ने एक बार फिर इस मामले में महाप्रबंधक से मिलकर जल्द फैसला लेने की मांग की है। भोपाल प्रदेश की राजधानी है एवं यहां आकर गुजरने वाली trains यदि छोटे स्टेशनों पर ठहरती हैं तो लंबी दूरी का सफर तय करने वाले यात्रियों के अलावा बड़ी संख्या में ग्रामीण आबादी को इसका फायदा पहुंचेगा।

Half a dozen Holi special train started for many routes, seats are not empty in normal trains to go home,
Half a dozen Holi special train started for many routes, seats are not empty in normal trains to go home,

छोटे स्टेशनों के लिए मेमू trains के ये हैं फायदे
- सभी प्रमुख छोटे railway stations पर ठहराव लेकर चलेगी। जल्दी ठहराव लेगी और कम समय में गति पकड़ लेगी। यह पैसेंजर trains की तुलना में अधिक गति से चलने में सक्षम होती है।
- दोनों ही छोर पर इंजन लगे होते हैं, इसलिए बार-बार इंजन बदलने की नौबत नहीं पड़ती। इस तरह इंजन बदलने में लगने वाला समय बचता है जो रेलवे और यात्रियों के काम आता है। आमतौर पर एक दिशा से इंजन निकालकर उसे दूसरी दिशा में लगाने में आधे से पौन घंटे लगते हैं।
- सभी मेमू trains नए कोचों से लैस हैं। ये कोच आधुनिक सुविधाओं वाले हैं। इनमें बैठक व्यवस्था अच्छी होती है और सीटों के बीच गैप अधिक होता है। यात्रियों को बैठने में सहूलियतें होती हैं। इन trains में खड़े होकर सफर करने वाले यात्रियों के सहारे के लिए जगह-जगह व्यवस्था की जाती है।
- इनमें लगने वाले कोच जर्मन कंपनी लिंक हाफमैन बुश के तकनीकी सहयोग से बनाए गए हैं जो दुर्घटना की स्थिति में भी एक—दूसरे पर नहीं चढ़ते हैं। नुकसान कम से कम होता है।
- अंदर की बनावट स्क्रू रहित होती है। हादसे होने पर चोटें भी कम लगती हैं। कोचों की दीवारें अधिक मजबूत होती हैं हादसे होने की स्थिति में यात्रियों को न के बराबर या कम चोट आती हैं।

प्रस्ताव सौंपा है
महाप्रबंधक से मिलकर उन्हें लंबी दूरी की trains के ग्रामीण स्टेशनों पर हॉल्ट शुरू करने एवं मेमू trains के बारे में प्रस्ताव सौंपा है। अप्रेल में उपयोगकर्ता समिति की बैठक में अंतिम निर्णय लिए जाएंगे।
- नीतेश लाल, सदस्य, जोनल रेलवे समिति

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

17 जनवरी 2023 तक 4 राशियों पर रहेगी 'शनि' की कृपा दृष्टि, जानें क्या मिलेगा लाभज्योतिष अनुसार घर में इस यंत्र को लगाने से व्यापार-नौकरी में जबरदस्त तरक्की मिलने की है मान्यतासूर्य-मंगल बैक-टू-बैक बदलेंगे राशि, जानें किन राशि वालों की होगी चांदी ही चांदीससुराल को स्वर्ग बनाकर रखती हैं इन 3 नाम वाली लड़कियां, मां लक्ष्मी का मानी जाती हैं रूपबंद हो गए 1, 2, 5 और 10 रुपए के सिक्के, लोग परेशान, अब क्या करें'दिलजले' के लिए अजय देवगन नहीं ये थे पहली पसंद, एक्टर ने दाढ़ी कटवाने की शर्त पर छोड़ी थी फिल्ममेष से मीन तक ये 4 राशियां होती हैं सबसे भाग्यशाली, जानें इनके बारे में खास बातेंरत्न ज्योतिष: इस लग्न या राशि के लोगों के लिए वरदान साबित होता है मोती रत्न, चमक उठती है किस्मत

बड़ी खबरें

IPL 2022 MI vs SRH Live Updates : रोमांचक मुकाबले में हैदराबाद ने मुंबई को 3 रनों से हरायामुस्लिम पक्षकार क्यों चाहते हैं 1991 एक्ट को लागू कराना, क्या कनेक्शन है काशी की ज्ञानवापी मस्जिद और शिवलिंग...जम्मू कश्मीर के बारामूला में आतंकवादियों ने शराब की दुकान पर फेंका ग्रेनेड,3 घायल, 1 की मौतमॉब लिंचिंग : भीड़ ने युवक को पुलिस के सामने पीट पीटकर मार डाला, दूसरी पत्नी से मिलने पहुंचा थादिल्ली के अशोक विहार के बैंक्वेट हॉल में लगी आग, 10 दमकल मौके पर मौजूदभारत में पेट्रोल अमेरिका, चीन, पाकिस्तान और श्रीलंका से भी महंगाकर्नाटक के राज्यपाल ने धर्मांतरण विरोधी विधेयक को दी मंजूरी, इस कानून को लागू करने वाला 9वां राज्य बनाSwayamvar Mika Di Vohti : सिंगर मीका का जोधपुर में हो रहा स्वयंवर, भाई दिलर मेहंदी व कॉमेडियन कपिल शर्मा सहित कई सितारे आए
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.