आसमान से अचानक गायब हुई बारिश, उमस के चलते बदला मौसम का हाल

आसमान से अचानक गायब हुई बारिश, उमस के चलते बदला मौसम का हाल

Deepesh Tiwari | Updated: 14 Jul 2019, 03:50:10 PM (IST) Bhopal, Bhopal, Madhya Pradesh, India

जुलाई में ही आएगा एक ताकतवर सिस्टम और फिर...

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में पिछले दिनों हुई मानसून ( monsoon 2019 ) की बारिश, अचानक कहीं खो ( Low rain ) गई है। जिसके चलते जिले में इन दिनों उमस का माहौल बना हुआ है।

मध्यप्रदेश में पहले ही 14 दिन देरी से आए मानसून 2019 ( monsoon 2019 ) के कारण लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा था, लेकिन अब अचानक आसमान में बादल ( badal ) होते हुए भी बारिश का न होना परेशाान किया हुआ है।

एक ओर जहां मौसम विभाग आसमान में बादलों के चलते भोपाल में लगातार बारिश ( barish ) का अनुमान लगा रहा है। वहीं आसमान में छाए बादल बरसते नहीं ( low rain ) दिख रहे हैं। जिसके चलते पिछले 5 दिनों से यहां बारिश ( mansoon ) नहीं हो सकी है।

barish

मानसून ब्रेक: जानें किसका का असर!
वहीं मौसम के जानकार और मौसम विभाग से रिटायर्ड हुए एके शर्मा कहते हैं कि ऐसा लगता है कि मानसून पर अल-नीनो का आंशिक असर पड़ा है। जिसके चलते अभी अचानक बारिश गायब ( low rain ) हो गई है।

आधे महीने रूठा ( low rain ) रहेगा मानसून: low rain in monsoon 2019 ...
वहीं शर्मा का कहना है कि सेटेलाइट चित्रों को देखकर लगता है कि अगला सिस्टम करीब 10 दिन के बाद बनेगा। लेकिन ये एक ताकतवर सिस्टम होगा, जिसके चलते से जुलाई अंत में प्रदेश और राजधानी में कुछ ही घंटों में सामान्य से अधिक बारिश होगी।

इधर, पांच दिन से तो अभी बारिश हुई ही नहीं है, अभी 10 दिन तक और इंतजार करने का अर्थ है कि करीब 15 दिन मानसून की बेरुखी। यानि केवल जलाई में ही मानसून के करीब आधे महीने रूठे रहने का संकेत है।

no rain

मौसम विभाग का पूर्वानुमान ( Weather forecast ) ...

अगले 24 घंटों में यानि सोमवार 15 जुलाई 2019 को इंदौर,धार,खंडवा,खरगौन, अलीराजपुर, झाबुआ, बडवानी,बुरहानपुर, भोपाल, रायसेन, सीहोर,उज्जैन,शाजापुर, देवास, होशंगाबाद,बैतूल,हरदा, जबलपुर, मंडला,बालाघाट,छिंदवाडा, सिवनी,रीवा और डिंडोरी जिलों में कहीं कही हल्की वर्षा या गरज चमक के साथ बौछारें पड़ सकती हैं।

वहीं दूसरी ओर नीमच, रतलाम, मंदसौर, आगर, राजगढ, विदिशा, नरसिंहपुर,कटनी, दतिया, गुना, ग्वालियर, शिवपुरी, अशोकनगर,श्योपुरकलां ,भिण्ड, मुरैना, सागर ,पन्ना, टीकमगढ, दमोह, छतरपुर, सतना, सीधी, सिंगरौली, उमरिया, अनूपपुर अनूपपुर और शहडोल जिलों में मुख्यत: मौसम शुष्क रहने का अनुमान है।
वहीं तकरीबन यही स्थिति 16 व 17जुलाई 2019 को भी रह सकती है।


ये हो रहा नुकसान: वहीं दूसरी ओर जिला प्रशासन सहित वन विभाग, नगर निगम समेत अन्य सरकारी विभागों ने एक जुलाई से हरित भोपाल-शीतल भोपाल अभियान चला रखा है।

Cloudy weather

ऐसे में मामूली बूंदाबांदी छोड़ दें तो 7 जुलाई के बाद से शहर में तेज बारिश नहीं हुई है। जानकारों के अनुसार ऐसे में अभियान के तहत रोपे गए पौधों को पर्याप्त नमी नहीं मिल रही है, जिससे इनकी मिट्टी में पकड़ कमजोर हो रही है।

विशेषज्ञों का कहना है कि यदि समय रहते इन्हें पानी नहीं दिया गया तो पौधे सूख सकते हैं। वहीं खरीफ सीजन में धान और सोयाबीन की बोवनी हो चुकी है, पर पानी नहीं मिलने से इन्हें नुकसान हो सकता है।

बादल छाए रहेंगे, धूप भी लुकाछिपी करेगी
इससे पहले शनिवार को भी शहर के आसमान में बादल छाए रहे, जिससे दिन और रात के तापमान में खास अंतर नहीं आया। शहर का अधिकतम तापमान शुक्रवार के स्तर पर रहते हुए 33.1 डिग्री दर्ज किया गया जो सामान्य से 1.6 डिग्री अधिक रहा।

रात का न्यूनतम तापमान भी 25 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो सामान्य से 1.2 डिग्री अधिक रहा। मौसम विभाग के वैज्ञानिकों ने आगामी 24 घंटों में हल्के बादल छाए रहने और मौसम शुष्क रहने का अनुमान व्यक्त किया है।

प्रशांत महासागर पर अल-नीनो का असर है। बंगाल की खाड़ी या अरब सागर में 24 जुलाई के आसपास सिस्टम बन सकता है। फिलहाल मानसून ब्रेक की स्थिति बन रही है।
- एसके नायक, वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक

24 जुलाई के आसपास कोई न कोई सिस्टम बन ही जाएगा। इस दौरान स्थानीय बादलों से थोड़ी-बहुत बारिश की संभावना है। पूरे प्रदेश में मानसून की झड़ी तो सिस्टम के सक्रिय होने के बाद ही लगेगी।
- पीके शाह, वैज्ञानिक, मौसम केंद्र

no rain in MP

अगले 7 दिनों का मौसम पूर्वानुमान : weather prediction ...

: 14 जुलाई को आसमान में आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे, जो आमतौर पर दोपहर या शाम या रात में और बढ़ेंगे।

: 15 जुलाई को अधिकतम तापमान में कुछ इजाफा हो सकता है, वहीं इस दिन भी आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे।

: 16 जुलाई को तापमान 45 जुलाई के समान रहने व आसमान पर आंशिक रूप से बादल छाए रहने का अनुमान है।

: 17 जुलाई अधिकतम तापमान में पुन: गिरावट हो सकती है। इस दिन मुख्य रूप से आसमान साफ़ रहेगा, लेकिन दोपहर या शाम को आसमान पर आंशिक रूप से बादल छा जाएंगे।

: 18 जुलाई को एक बार फिर अधिकतम तापमान में और कमी होगी, वहीं दोपहर या शाम को आसमान में बादल छाए रहेंगे।

: 19 जुलाई को भी आसमान में बादल छाए रहने की संभावना है।

: 20 जुलाई को आकाश में बादल छाए रहने के साथ ही कुछ जगहों पर हल्की वर्षा होने का अंदेशा है।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned