कुछ तो है, जिसे छिपा रही है बीजेपी! बैठक में नहीं पहुंचे कई विधायक

कुछ तो है, जिसे छिपा रही है बीजेपी! बैठक में नहीं पहुंचे कई विधायक

Muneshwar Kumar | Updated: 02 Aug 2019, 08:43:08 PM (IST) Bhopal, Bhopal, Madhya Pradesh, India

अनिवार्यता के बाद भी मध्यप्रदेश में बीजेपी के कई विधायक पार्टी मीटिंग में नहीं शामिल हुए।


भोपाल. मध्यप्रदेश ( madhya pradesh ) बीजेपी ( BJP ) में इन दिनों सब कुछ ठीक नहीं है। फिर भी पार्टी के दिग्गज नेता लगातार ऑल इज वेल बताने की कोशिश में लगे हैं। मध्यप्रदेश विधानसभा में एक विधेयक के लिए हुई वोटिंग के दौरान भी बीजेपी के दो विधायकों ने क्रॉस वोटिंग कर पार्टी को गच्चा दिया था। अब गुरुवार को भोपाल में आयोजित बैठक में भी पार्टी के कई विधायक नहीं पहुंचे। पार्टी ने जवाब में कहा कि न आने वाले लोगों ने पहले ही सूचना दे दी थी।

 

विधानसभा में क्रॉस वोटिंग के बीजेपी के दो विधायक नारायण त्रिपाठी और शरद कोल ने सबको चौंका दिया। वोटिंग के बाद सरेआम कहा कि हमलोग कमलनाथ जी के साथ हैं। हमलोगों की घर वापसी हुई। उसके बाद मध्यप्रदेश बीजेपी में खलबली मच गई। लेकिन पार्टी ने कहा कि सब कुछ ठीक है। सदस्यता अभियान को लेकर भोपाल में आयोजित बैठक में पार्टी के कई विधायक नहीं पहुंचे। वो भी तब जब इस बैठक में पहुंचने की अनिवार्यता सबके लिए थी।

इसे भी पढ़ें: Zomato: धर्म के चक्कर में फंसा जोमैटो, कुछ लोग ऐसे सिखा रहे हैं सबक!

bjp

 

ये लोग थे मौजूद
इस बैठक में पार्टी के वरिष्ठ नेता सुहास भगत, प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह, नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव मौजूद थे। वहीं, सदस्यता अभियान के प्रभारी शिवराज सिंह चौहान ने अगरतला से बीजेपी नेताओं को संबोधित किया। मीटिंग के दौरान सदस्यता अभियान पर चर्चा हुई। साथ जो टास्क दिए गए हैं, उसकी स्थिति क्या है।

bjp

 

कांग्रेस फैला रही है भम्र

कुछ विधायकों की अनुपस्थिति में प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने अपने विधायकों को नसीहत दी है कि कांग्रेस भ्रम फैला रही है। आप उस पर ध्यान न दें। राकेश ने पार्टी के विधायकों से कहा कि वे संगठन को मजबूत बनाने के लिए सारे काम छोड़कर 11 अगस्त तक सदस्यता अभियान पर फोकस करें। वहीं, राकेश सिंह संसद सत्र की वजह से बीच बैठक में ही दिल्ली चले गए। राकेश सिंह के जाने के बाद सेकंड हॉफ नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव भी नहीं पहुंचे।

इसे भी पढ़ें: Tiger State: ...तो मध्यप्रदेश से 4 दिन में ही छिन जाएगा टाइगर स्टेट का दर्जा?

bjp


कांग्रेस कमजोर विधायकों पर डाल रही है डोरे
नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने कहा कि कांग्रेस हमारे कमजोर विधायकों पर डोरे डाल रही है, लेकिन हमारे विधायक लोहे के चने हैं। जो इन चनों को चबाने की कोशिश करेगा, उसके दांत टूट जाएंगे। हालांकि बीजेपी के राहत भरी खबर यह है कि दोनों बागी विधायक नारायण त्रिपाठी और शरद कोल इस बैठक में शामिल थे।

bjp

 

बत्तीसी टूट जाएगी
वहीं, गोपाल भार्गव के इस बयान पर उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी ने कहा कि अभी उनके दो दांत ही टूटे हैं। यदि वे सरकार के खिलाफ नकारात्मक राजनीति करेंगे तो बत्तीसी भी टूट जाएगा। जीतू ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि हमें भाजपा के विधायक न खरीदने की जरूरत है और न तोड़ने की, ऐसी राजनीति कांग्रेस करती भी नहीं है।

इसे भी पढ़ें: सदन में भिड़े दिग्विजय और अमित शाह, दिग्गी ने बीच में टोका तो शाह बोले- बोल रहा हूं तो सुनना पड़ेगा

bjp

 

विधायक ने लगाए हैं ये आरोप
कुछ दिन पहले बीजेपी के श्योपुर से विधायक सीताराम आदिवासी ने कांग्रेस पर खरीद परोख्त का आरोप लगाया था। उन्होंने कहा था कि कांग्रेस दल बदलने के लिए हमें पैसों का ऑफर दे रही है। लेकिन हमने ऑफर ठुकरा दिया और कहा कि मैं सिर्फ बीजेपी के साथ ही रहूंगा।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned