कोरोना फैलने में देश में चौथे नंबर पर मध्यप्रदेश

दिल्ली की गति से हुआ सात हजार का आंकड़ा पार

- दिल्ली और मप्र में 67 दिन में 7 हजार मरीज



By: Arun Tiwari

Published: 02 Jun 2020, 04:21 PM IST

भोपाल : कोरोना संक्रमण फैलने के मामले में मध्यप्रदेश, देश के चार शीर्ष राज्यों में राज्यों में आ गया है। कोरोना के पॉजिटिव केस बढऩे में मध्यप्रदेश चौथे नंबर पर है। सात हजार कोरोना मरीज का आंकड़ा पार करने में मध्यप्रदेश और दिल्ली की रफ्तार बराबर रही। इन दोनों राज्यों ने 67 दिन में कोरोना संक्रमण का सात हजार का आंकड़ा पार कर लिया। सात हजार से ज्यादा मरीज वाले राजस्थान और उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश से पीछे हैं यानी इन राज्यों में कोरोना फैलने की गति मध्यप्रदेश से कम है। कोरोना के मामले बढऩे की रफ्तार में महाराष्ट्र पहले नंबर पर, गुजरात दूसरे नंबर पर और तमिलनाडु तीसरे नंबर पर हैं।

इन तीनों राज्यों में सात हजार मरीज मध्यप्रदेश से कम दिनों में हो गए। वहीं 300 से ज्यादा मौत के मामलों में मध्यप्रदेश, देश में तीसरे नंबर है। प्रदेश में मौत की दर दिल्ली से ज्यादा है। वहीं राजस्थान,उत्तरप्रदेश और तमिलनाडु में मौत का आंकड़ा 300 से कम है। यानी यहां पर पॉजिटिव मरीज भले ही ज्यादा है लेकिन मौत की दर कम रही है।

इन राज्यों में इतने दिन में हुए 7000 मरीज :

- महाराष्ट्र - 14 मार्च को कोरोना संक्रमण के मामले सामने आए और 25 अप्रैल को 7000 पॉजिटिव केसों का आंकड़ा पार हो गया। 42 दिन में 7000 मामले।
- गुजरात - 19 मार्च को कोरोना के मरीज पाए गए और 7 मई को 7000 तक कोरोना संक्रमण फैल गया। 50 दिन में 7000 मामले।
- तमिलनाडु - 14 मार्च को कोरोना का पहला मरीज पाया गया और 10 मई को 7000 से ज्यादा मरीज हो गए। 57 दिन में 7000 मामले।
- मध्यप्रदेश - 20 मार्च से कोरोना का संक्रमण शुरु हुआ और 26 मई को 7000 का आंकड़ा पार हो गया। 67 दिन में 7000 मामले।
- दिल्ली - यहां पर कोरोना सबसे पहले शुरु हुआ। 4 मार्च को कोरोना के मामले सामने आए जो 10 मई को 7000 से ज्यादा पर पहुंच गए। 67 दिन में 7000 मामले।
- राजस्थान - 14 मार्च को कोरोना ने राज्य में प्रवेश किया और 24 मई को 7000 लोगों को अपनी चपेट में ले लिया। 71 दिन में 7000 मामले।
- उत्तरप्रदेश : 14 मार्च को पहली बार कोरोना के मामले सामने आए जो 28 मई को 7000 से ज्यादा हो गए। 75 दिन में 7000 मामले।

इन राज्यों में इतने दिन में मौत के 300 मामले :

- महाराष्ट्र - 17 मार्च को पहली मौत हुई और 24 अप्रैल को मौत का आंकड़ा 300 पार कर गया। 39 दिन में 300 मौत।
- गुजरात - 22 मार्च को मौत का मामला सामने आया और 4 मई को 300 से ज्यादा कोरोना मरीजों की मौत हो गई। 44 दिन में 300 मौत।
- मध्यप्रदेश - 25 मार्च को कोरोना मरीज की पहली मौत हुई और 25 मई को 300 का आंकड़ा पार हो गया। 62 दिन में 300 मौत।
- पश्चिम बंगाल - 24 मार्च को कोरोना से मौत का सिलसिला शुरु हुआ जो 29 मई को 300 से ज्यादा हो गया। 67 दिन में 300 मौत।
- दिल्ली - 14 मार्च को पहली बार मौत के मामले सामने आए जो 27 मई को 300 से ज्यादा हो गए। 74 दिन में 300 मौत।

Corona virus
Arun Tiwari Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned