बड़ी खबर : विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस कर सकती है बड़ा फेरबदल, इन दिग्गजों को मिल सकता है मौका

खबर है कि मध्यप्रदेश कांग्रेस पार्टी में फेरबदल करते हुए कुछ नए चेहरों को मौका दे सकती है।

By: rishi upadhyay

Published: 04 Jan 2018, 04:03 PM IST

भोपाल। चुनाव से पहले मध्यप्रदेश कांग्रेस अपना चेहरा बदलने की कोशिश में लगी हुई है। प्रदेश में होने वाले चुनावों के लिए जहां राष्ट्रीय स्तर पर नवनिर्वाचित अध्यक्ष राहुल गांधी का फोकस मध्यप्रदेश पर है, वहीं प्रदेश कांग्रेस भी कई कोशिशें इसी बात के लिए कर रही है कि मध्यप्रदेश में आगामी चुनाव के समय कांग्रेस अपने पुराने स्वरूप में यानि एक दमदार पार्टी के तौर पर उतरे। खबर है कि मध्यप्रदेश कांग्रेस पार्टी में फेरबदल करते हुए कुछ नए चेहरों को मौका दे सकती है। इसके लिए बकायदा पार्टी की ओर से वैंकेसी निकाली गई है। ये वैकेंसी है मध्यप्रदेश के कई होनहार दिग्गज युवाओं के लिए, जो मध्यप्रदेश कांग्रेस में आगामी समय में प्रवक्ता की भूमिका निभाएंगे।

 

 

दरअसल मध्यप्रदेश कांग्रेस की ओर से प्रवक्ता पद के लिए वैकेंसी निकाली गई है। पिछले दिनों इस पद के लिए वैकेंसी निकाले जाने के बाद से अब तक 200 से भी ज्यादा लोगों ने अप्लाई किया है। जानकारी के मुताबिक करीब 200 से ज्यादा ऐसे उम्मीदवारों ने इस पद के लिए अप्लाई किया है जिनकी एजुकेशनल क्वॉलिफिकेशन एमफिल, एमटेक से लेकर पीएचडी तक है।

 

 

इस भर्ती के माध्यम से कांग्रेस मध्यप्रदेश में अपना चेहरा बदलने की जद्दोजहद में है। कांग्रेस प्रवक्ता पद के लिए प्रखर वक्ता, रिसर्च स्कॉलर्स, कन्टेन्ट राइटर्स और सोशल मीडिया एक्टिविस्ट तक को सर्च कर रही है। कांग्रेस की कोशिश है कि इस पद के लिए की जाने वाली भर्ती के माध्यम से वो प्रदेश में अपनी मजबूती को बना सके।

 

 

वर्तमान समय में कांग्रेस के पास 6 प्रवक्ता और 4 पेनलिस्ट हैं। ये सभी टीवी चैनलों पर होने वाली बहस में पार्टी का चेहरा बनकर पहुंचते हैं। वहीं अन्य आयोजनों के लिए पार्टी का संवाद बाकी लोगों से करते हैं। ये सभी लोग पार्टी में वरिष्ठ पद पर हैं और काफी समय से इस भूमिका में चले आ रहे हैं। अब कांग्रेस की कोशिश है कि इस परिपाटी को बदला जाए। नए चेहरों को मौका दिया जाए ताकि पार्टी को मजबूती मिले और लोगों से जुड़ाव के लिए पार्टी की संभावनाओं में बढ़ोत्तरी हो।


गुजरात में मिली सीख से उठाएंगे फायदा
इस बारे में कांग्रेस के प्रवक्ता पंकज चतुर्वेदी का कहना है कि कांग्रेस को गुजरात चुनावों में पहले से ज्यादा सीटें मिली हैं। इस सफलता के पीछे कांग्रेस की सोशल मीडिया में बढ़ती एक्टिवटी है। वहीं प्रदेश में पार्टी के लिए मजबूती के लिए जरूरी है कि पार्टी के संवाद करने वाले चेहरे ज्यादा बेहतर हों। इसलिए इन पदों पर क्वालिफाइड लोगों को ही रखा जाएगा। इसके अलावा उनका ये भी कहना था कि फिलहाल पार्टी में प्रवक्ता और पेनलिस्ट्स की जरूरत है, क्योंकि चुनावी साल में समाचार चैनलों और प्रेस कॉन्फ्रेंस के लिए प्रवक्ता की आवश्यकता होगी। इसीलिए मध्यप्रदेश कांग्रेस ने ये फैसला लिया है।


वैसे इस बार पार्टी अपनी तैयारियों में कोई कोर कसर नहीं छोड़ना चाहती है। 2014 के बाद से ही पार्टी हर चुनाव में अपनी रणनीति पर गौर कर रही है। खासकर मध्यप्रदेश में वापसी के लिए कांग्रेस एड़ी चोटी का जोर लगाती नजर आ रही है। बीजेपी और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सोशल मीडिया पर बढ़ती सक्रियता पर भी कांग्रेस की नजर है। चूंकि पार्टी के प्रवक्ता सोशल मीडिया पर सक्रियता दिखाकर लोगों तक आसानी से अपनी पहुंच बना लेते हैं, जो कि मध्यप्रदेश में पार्टी को सीधा फायदा पहुंचाने के काम आ सकता है।

Congress
rishi upadhyay
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned