दिन में छूट पर रात में कर्फ्यू, मध्य प्रदेश में कुछ ऐसा होगा लॉकडाउन 4.0

लॉकडाउन 4 में संक्रमित क्षेत्र को पूरी तरह सील रखा जाएगा

By: Devendra Kashyap

Updated: 16 May 2020, 01:09 PM IST

भोपाल. प्रदेश की शिवराज सरकार ने लॉकडाउन 4.0 के स्वरूप को लेकर आम और बुद्धिजिवियों के सुझाव पर रोडमौप तैयार कर लिया है और इसको फाइलन करने के लिए केन्द्र सरकार के पास भेज दिया है। केन्द्र सरकार की मुहर लगने के बाद ही इसे प्रदेश में लागू किया जाएगा।

प्रस्ताव में क्या है

शिवराज सरकार ने केन्द्र को जो प्रस्ताव भेजा है उसके अनुसार, संक्रमित क्षेत्र को पूरी तरह सील रखा जाएगा। इसके अलावे ग्रीन जोन में सोशल डिस्टेंसिंग के साथ अधिकतर गतिविधियों को चालू करन के बात कही गई है। साथ ही रेड जोन में जहां संक्रमण नहीं है, वहां चरणबद्ध तरीके से गतिविधियां चालू करने का भी प्रस्ताव है।

12 घंटे छूट और 12 घंटे कर्फ्यू

राज्य की शिवराज सरकार ने 12 घंटे छूट और 12 घंटे कर्फ्यू का भी प्रस्ताव रखा है। इससे पहले भी राज्य सरकार लॉकडाउन एक से लॉकडाउन तीन तक इसी फॉर्मूले को ही अपनाया है। ऐसे में लॉकडाउन 4 में भी इसी फॉर्मूले पर काम करने की तैयारी कर रही है।

क्या-क्या रह सकते हैं बंद

लॉकडाउन 4 में स्कूल, कॉलेज, आंगनबाड़ी, शैक्षणिक संस्थान और भीड़ जुटने वाली जगहें पूरी तरह बंद रहेगी। बताया जा रहा है कि निजी कंपनियों में 30 फीसदी फॉर्मूले के साथ छूट मिल सकती है। इसके अलावे मॉल, रेस्टोरेंट, सिनेमाघर, टूरिज्स स्पॉट, स्वीमिंग पूल आदि फिलहाल बंद रहेंगे।

ये खुल सकते हैं

प्रदेश की शिवराज सरकार ने ग्रीन और ऑरेंज जोन में छोटे बाजार खोलने का प्रस्ताव रखा है, साथ ही कंटेनमेंट जोन वाले इलाकों में पूरी तरह पाबंदी रखने का प्रस्ताव रखा है। इसके अलावे ग्रीन जोन में यातायात की सुविधा बहाल करने का भी प्रस्ताव है, वहीं अन्य जोन में पूरी तरह पाबंदी रहेगी। निजी वाहनों को छूट मिल सकती है।

अंतिम निर्णय केन्द्र सरकार लेगी

शिवराज सरकार ने लॉ़कडाउन 4 का रोडमैप तैयार कर केन्द्र को भेज दिया है। हालांकि इस ड्राफ्ट पर अंतिम निर्णय केन्द्र सरकार को लेना है। उम्मीद की जा रही है कि लॉकडाउन 4 की रूपरेखा 17 मई तक जारी हो सकता है।

Show More
Devendra Kashyap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned