अपने बयान से मुकरे MP के गृहमंत्री, अब बोले- पुलिस ने ही चलाई किसानों पर गोली

मंदसौर के पिपलिया मंडी में दो दिन पहले फायरिंग में मारे गए 6 किसानों की मौत को लेकर गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह अपने बयान से मुकर गए। उन्होंने गुरुवार को मीडिया से कहा कि इन किसानों की मौत पुलिस की गोली लगने से ही हुई है।


भोपाल। मंदसौर के पिपलिया मंडी में दो दिन पहले फायरिंग में मारे गए 6 किसानों की मौत को लेकर गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह अपने बयान से मुकर गए हैं। उन्होंने गुरुवार को मीडिया से कहा कि इन किसानों की मौत पुलिस की गोली लगने से ही हुई है।

उन्होंने कहा कि प्रारंभिक जांच में यह तथ्य सामने आया था कि फायरिंग पुलिस की तरफ से की गई है। इससे पहले, घटना के समय गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह ने कहा था कि किसानों को गोलियां पुलिस या सीआरपीएफ ने नहीं चलाई थी। किसानों की मौत किसकी गोली से हुई है, ये साफ नहीं है।

भूपेंद्र सिंह ने कहा, हालांकि घटना के बाद सरकार ने न्यायिक जांच के आदेश दिए हैं, लेकिन मुख्यमंत्री ने इसके समानांतर उन्हें फायरिंग किसने की इसका पता लगाने के लिए उन्हें निर्देश दिए थे।

क्या हुआ था घटना के बाद

पहले दिए निर्देश
गृहमंत्री भूपेन्द्र सिंह बोले, सख्ती से निपटो...
गृहमंत्री भूपेन्द्र सिंह दोपहर में मंत्रालय में कानून-व्यवस्था की समीक्षा ले रहे थे। इस दौरान उन्होंने कहा, किसानों की आड़ में असामाजिक तत्व गड़बड़ी कर रहे हैं। ऐसे लोगों के साथ सख्ती से निपटा जाए। संदेश के बाद मंदसौर से पुलिस की गोली चलाने की खबर आई।

फिर किया दावा...
गोलियों की जांच से सब साफ हो जाएगा
किसानों पर गोलियां दागने के सवाल पर गृहमंत्री भूपेंद्र ने साफ इनकार कर दिया। उन्होंने दावा किया कि पुलिस ने कोई गोली नहीं चलाई। उन्होंने कहा कि घटना व गोलियों की जांच से सब साफ हो जाएगा। हालांकि दोपहर तक दावे की हवा निकल गई।

गृहमंत्री को दी थी गलत जानकारी
किसान आंदोलन में हुई फायरिंग को लेकर गृहमंत्री से झूठ बोले जाने की बातें सामने आई हैं। इस बीच गृहमंत्री और एसपी की सीधी बातचीत में भी पुलिस फायरिंग की बात को छुपाए रखा। सरकार को स्पष्ट नहीं किया गया कि गोली किसने चलाई। मंदसौर एसपी ओपी त्रिपाठी यही कहते रहे कि गोली पुलिस वालों ने नहीं चलाई। जब सीआरपीएफ के असिस्टेंट कमांडेंट से भी गृहमंत्री की बात करवाई गई तो बताया गया कि गोली सीआरपीएफ जवानों की ओर से भी नहीं चलाई गई। जांच में झूठ सामने आने के बाद एसपी ओपी त्रिपाठी को हटा दिया गया।


यह भी पढ़ें
swatantra kumar

यह भी पढ़ें

यह भी पढ़ें
mandsaur news

यह भी पढ़ें
mandsaur

यह भी पढ़ें
Ex CM gives clean chit to congress

Show More
Manish Gite Desk/Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned