सीएम के रथ पर पथराव में बोले कमलनाथ, कहा - सच्चाई सबके सामने आ गई..

सीएम के रथ पर पथराव में बोले कमलनाथ, कहा - सच्चाई सबके सामने आ गई..

Deepesh Tiwari | Publish: Sep, 12 2018 01:04:05 PM (IST) Bhopal, Madhya Pradesh, India

सीएम के रथ पर पथराव में बोले कमलनाथ, कहा - सच्चाई सबके सामने आ गई..

भोपाल. विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह को सीधी जिले में सीएम के रथ पर पथराव मामले में क्लीन चीट मिलने के बाद पीसीसी चीफ़ कमलनाथ ने कहा, मुख्यमंत्री ने जो आरोप लगाए थे वो पूरी तरह से गलत थे। सच्चाई सबके सामने आ गई है।

मैं निवेदन करता हूं कि इस तरह के आरोप न लगाएं। प्रदेश के गृहमंत्री की हत्या की साजिश के आरोप पर उन्होंने कहा कि झूठे आरोप लगाने से कुछ नहीं होता। कुछ सच्चाई अभी सामने आ गयी है, कुछ चुनावों के बाद सामने आ जाएंगी। अभी तो ऐसी बहुत सच्चाई सामने आनी है।

सीएम के रथ पर पथराव में अजय सिंह को कलेक्टर ने दी क्लीनचिट

जनआशीर्वाद यात्रा के दौरान 2 सितंबर को चुरहट में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के रथ पर हुए पथराव में सीधी कलेक्टर दिलीप कुमार ने अपनी रिपोर्ट में नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह सहित कांग्रेस नेताओं को क्लीनचिट दी है। गृहमंत्री भूपेन्द्र सिंह ने इसमें कांग्रेसियों का हाथ बताते हुए इसे हत्या की साजिश करार दिया था।

कलेक्टर ने राज्य सरकार को भेजी रिपोर्ट में कहा है कि कुछ अज्ञात लोगों ने सीएम के खिलाफ नारेबाजी करते हुए रथ पर पत्थर फेंका था। रिपोर्ट में अजय सिंह की भूमिका को लेकर टिप्पणी नहीं की। आरोपियों के नाम बताने वाला संदीप पहले ही मुकर चुका है।

सीधी के कलेक्टर ने रिपोर्ट में किया तीन घटनाओं का जिक्र

- हमलावर अज्ञात
कलेक्टर ने रिपोर्ट में कहा है कि पटपरा के पास 6-7 अज्ञात लोगों ने काले झंडे दिखाए और मुर्दाबाद के नारे लगाते हुए पत्थर फेंके। पत्थर रथ के ड्राइवर के पीछे वाले गेट के कांच में लगा। कमर्जी थाने ने 9 लोगों को हिरासत में लिया।

- कांग्रेसियों का हाथ
कलेक्टर ने रिपोर्ट में कहा, कुछ दिन पहले कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने रथ रोकने की मौखिक सूचना दी थी। पुलिस-प्रशासन अलर्ट था। जब रथ रोकने का प्रयास किया, तब पुलिस ने उन्हें समझाया भी। 22 लोगों को गिरफ्तार भी किया गया था।

- भाजपा का हंगामा
कलेक्टर ने रिपोर्ट में बताया है कि सीधी बाजार के पूजा पार्क में सभा स्थल पर भाजपा की पट्टी लगाए 2-3 कार्यकर्ता सीएम विरोधी नारेबाजी कर रहे थे। प्रतिबंधात्मक कार्रवाई करते हुए उन्हें गिरफ्तार किया
गया है।

मैंने सीएम को विरोध में काले झंडे दिखाने को कहा था, लेकिन पथराव जैसी घटना हमारी संस्कृति नहीं है। सीएम को दो दिन पहले ही पत्र लिखकर कहा है कि वे मेरे खिलाफ लगाए गए आरोप सिद्ध करें, अन्यथा मैं कोर्ट जाऊंगा।
अजय सिंह, नेता प्रतिपक्ष

Ad Block is Banned