scriptmadhya pradesh rajya sabha election bjp congress news | राज्यसभा की ये सीटें हो रही हैं खाली, भाजपा-कांग्रेस में हलचल तेज | Patrika News

राज्यसभा की ये सीटें हो रही हैं खाली, भाजपा-कांग्रेस में हलचल तेज

जून में खाली होने वाली है मध्यप्रदेश राज्यसभा की सीटें...। देखें अपडेट...।

भोपाल

Published: March 28, 2022 02:56:16 pm

भोपाल। मध्यप्रदेश में एक बार फिर राज्यसभा की आहट शुरू हो गई है। तीन सीटों पर वर्तमान राज्यसभा सदस्यों का कार्यकाल पूरा होने वाला है। इसे लेकर भाजपा-कांग्रेस में हलचल तेज हो गई है। वर्तमान विधानसभा सीटों के गणित के हिसाब से राज्यसभा के लिए दो सीटें भाजपा और एक सीट कांग्रेस को मिलना तय है।

rajyasabha.png

मध्यप्रदेश कोटे की तीन राज्यसभा सीटें खाली होने वाली हैं। इस पर भाजपा और कांग्रेस खेमे में हलचल तेज हो गई है। इन तीन सीटों पर पूर्व केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर (भाजपा), संपतिया उइके (भाजपा) और विवेक तन्खा (कांग्रेस) राज्यसभा सदस्य हैं। इन तीनों का ही कार्यकाल अगले दो माह में पूरा हो रहा है।

सूत्रों मुताबिक राज्यसभा चुनाव की आहट से प्रदेश में भाजपा-कांग्रेस खेमे में हलचल तेज हो गई है। भाजपा कांग्रेस के कई दावेदार सक्रिय हो गए हैं। राजधानी भोपाल से लेकर दिल्ली तक आलाकमान तक बात रखने पहुंच रहे हैं। इस बार माना जा रहा है कि भाजपा कोटेवाली सीटों पर नए चेहरे को मौका दे सकती है। क्योंकि मध्यप्रदेश में आदिवासियों और ओबीसी का मुद्दा जोरों पर है। इसके साथ ही मालवा अंचल से भी किसी उम्मीदवार को मौका दिया जा सकता है। हालांकि भाजपा का केंद्रीय नेतृत्व ही यह तय करेगा कि किसे राज्यसभा में लाया जाए।

गौरतलब है कि पूर्व केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर, सम्पतिया उइके और कांग्रेस के विवेक कृष्ण तन्खा का कार्यकाल खत्म हो रहा है। एमजे अकबर और विवेक तन्खा 11 जून 2016 को राज्यसभा के लिए निर्वाचित हुए थे। वहीं, सम्पतिया उइके का निर्वाचन 31 जुलाई, 2017 को हुआ था। वे केंद्रीय मंत्री अनिल माधव दवे के निधन से खाली हुई सीट पर निर्वाचित हुई थीं।

डॉ. मुरुगन निर्विरोध राज्यसभा सदस्य बने, मोदी सरकार में हैं राज्य मंत्री

वर्तमान राज्यसभा सांसद

दिग्विजय सिंह, प्रभात झा, सत्यनारायण जटिया, सम्पतिया उइके, एमजे अकबर, विवेक तन्खा, अजय प्रताप सिंह, कैलाश सोनी, थावरचंद गेहलोत, धर्मेंद्र प्रधान, राजमणि पटेल।

मध्यप्रदेश से अब तक यह महिलाएं पहुंची राज्यसभा

शमीउल्ला खान 1952 से 1954
कृष्णा कुमारी 1954 से 1960
रुकमणी बाई 1956 से 1962 (तीन बार)
रतन कुमारी 1986 से 1992 (तीन बार)
सईदा खातून 1986 से 1992
मैवल रिबेलो 1998 से 2004
माया सिंह 2003 से 2014 (दो बार)
अनुसुइया उइके 2006 से 2012
नजमा हेपतुल्ला 2012 से 2016
सम्पतिया उइके 2017 से 2022

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

सीएम Yogi का बड़ा ऐलान, हर परिवार के एक सदस्य को मिलेगी सरकारी नौकरीश्योक नदी में गिरा सेना का वाहन, 26 सैनिकों में से 7 की मौतआय से अधिक संपत्ति मामले में हरियाणा के पूर्व CM ओमप्रकाश चौटाला को 4 साल की जेल, 50 लाख रुपए जुर्माना31 मई को सत्ता के 8 साल पूरा होने पर पीएम मोदी शिमला में करेंगे रोड शो, किसानों को करेंगे संबोधितपूर्व विधायक पीसी जार्ज को बड़ी राहत, हेट स्पीच के मामले में केरल हाईकोर्ट ने इस शर्त पर दी जमानतRenault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चआजम खान को सुप्रीम कोर्ट से फिर बड़ी राहत, जौहर यूनिवर्सिटी पर नहीं चलेगा बुलडोजरMumbai Drugs Case: क्रूज ड्रग्स केस में शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान को NCB से क्लीन चिट
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.