दिग्गजों के करीबियों ने ही बजाया बगावत का बिगुल

दिग्गजों के करीबियों ने ही बजाया बगावत का बिगुल

Anil Chaudhary | Publish: Nov, 11 2018 05:03:03 AM (IST) Bhopal, Bhopal, Madhya Pradesh, India

मान-मनौव्वल में जुटी भाजपा और कांगे्रस

 

भोपाल। भाजपा और कांग्रेस दोनों ही दलों की चुनावी रणभेरी की आवाज फिलहाल पार्टी के भीतर से ही गूंजे बगावत के बिगुल में दबती नजर आ रही है। दोनों दलों के बागियों में दिग्गज नेताओं के करीबी भी कम नहीं हैं। पिछले चुनावों में बागियों की संख्या कम होती थी तो पार्टियां इन्हें बाहर का रास्ता दिखा देती थी। इस बार ये काम बहुत मुश्किल दिख रहा है, इसलिए मान-मनौव्वल कर रही हैं। भाजपा के करीब 70 तो कांग्रेस के 71 से ज्यादा बागियों ने निर्दलीय या दूसरे दलों से पर्चा दाखिल किया है। मुख्यमंत्री ने देर शाम सुहास भगत को बुलाकर बागियों का ब्योरा लिया है। उधर, नरेंद्र सिंह तोमर और विनय सहस्रबुद्धे को बागियों से पर्चा वापस करवाने का जिम्मा सौंपा है।
- भाजपा की डैमेज कंट्रोल पॉलिसी
बागियों से सरकार बनने पर उनके कद के अनुसार सत्ता या संगठन में पद देने का वादा किया जा रहा है। दो टूक कहा जा रहा है कि वे चुनाव लड़ते हैं तो पार्टी में वापसी के रास्ते बंद हो जाएंगे। कुछ से नगरीय निकाय चुनाव में एडजस्ट करने का वादा भी किया है।
- दिग्विजय-कमलनाथ खेमे से ज्यादा बागी
कांग्रेस के बागियों बड़े चेहरे कम हैं, लेकिन छोटे चेहरे भी चुनावी समीकरण उलट-पुलट करने के लिए ताल ठोंक रहे हैं। दिग्विजय गुट से सबसे ज्यादा 19 बागी हैं। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ खेमे से 17, अजय सिंह के सात, ज्योतिरादित्य सिंधिया के खेमे से पांच, सुरेश पचौरी और अरुण यादव के चार-चार समर्थकों ने निर्दलीय नामांकन दाखिल किया है। पूर्व सांसद सत्यव्रत चतुर्वेदी के तीन और मीनाक्षी नटराजन के दो समर्थक भी निर्दलीय उम्मीदवार बन चुके हैं।
** भाजपा में कौन किसके दम पर कूदा **
पनागर से पूर्व विधायक नरेंद्र त्रिपाठी और पृथ्वीपुर से गणेशीलाल नायक। संघ से जुड़े हैं।
जबलपुर केंट से योगेश अग्रवाल। विहिप और संघ से जुड़े हैं।
नीमच में बाबूलाल नागडï्ढा। बजरंग दल से जुड़े हैं।
जबलपुर उत्तर से युवा मोर्चा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष धीरज पटेरिया। संघ से जुड़े हैं।
भिंड में निर्दलीय उतरे विधायक नरेंद्र सिंह कुशवाह, केंद्रीय मंत्री नरेंद्र तोमर के करीबी
खरगापुर से सुरेंद्र प्रताप ङ्क्षसह बुंदेला। नरेंद्र सिंह तोमर के समर्थक।
ग्वालियर दक्षिण से समीक्षा गुप्ता, पार्टी उपाध्यक्ष प्रभात झा समर्थक।
बमोरी से उतरे पूर्व मंत्री केएल अग्रवाल। शिवराज कैंंप के हैं।
दमोह व पथरिया से निर्दलीय उतरे रामकृष्ण कुसमरिया भाजपा के स्टार प्रचारक और बुंदेलखंड के दिग्गज नेता हैं।
राजनगर से खजुराहो विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष डॉ. घासीराम पटेल। शिवराज के करीबी।
मलहरा में सुनील घुवारा। शिवराज समर्थक।
जतारा से अनीता प्रभुदयाल खटीक। केंद्रीय मंत्री डॉ. वीरेंद्र कुमार के समर्थक।
खरगापुर में पूर्व विधायक अजय यादव बसपा से। उमा भारती समर्थक।
सागर में मुकेश जैन ढाना। उमा समर्थक।
पनागर में भारत सिंह यादव। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष राकेश सिंह के करीबी।
मुढ़वारा में नगर निगम अध्यक्ष संतोष शुक्ला और अजय शर्मा। मंत्री संजय पाठक करीबी।
जावरा में श्याम बिहारी पटेल। सांसद सुधीर गुप्ता गुट के हैं।
गरोठ में विधायक चंदर सिंह सिसोदिया। पूर्व मंत्री जगदीश देवड़ा के खास हैं।
सैलाना में विधायक संगीता चारेल। रतलाम विधायक चेतन कश्यप और शिवराज समर्थक।
भोपाल की हुजूर सीट से उतरे जितेंद्र डागा। केंद्रीय मंत्री सुषमा स्वराज और शिवराज के करीबी।
बैरसिया मेंं पूर्व विधायक ब्रह्मानंद रत्नाकर। शिवराज के समर्थक।
भोपाल उत्तर में रवींद्र अवस्थी। विधायक एवं जिला अध्यक्ष सुरेंद्रनाथ सिंह के करीबी।
सीहोर में रमेश सक्सेना। शिवराज समर्थक।
सिंहावल में पूर्व विधायक विश्वामित्र पाठक। अरविंद मेनन के करीबी।
पन्ना में पूर्व विधायक जयप्रकाश चतुर्वेदी। अरविंद मेनन के करीबी।
सतना में रामोराम गुप्ता। पूर्व संगठन मंत्री भगवत शरण माथुर के खास हैं।
बडनग़र में जितेंद्र पण्ड्या। केंद्रीय मंत्री थावरचंद गेहलोत के करीबी।

** कांग्रेस**
सिहोरा से पूर्व मंत्री कौशल्या गोटिया। दिग्विजय समर्थक।
जमना मरावी। दिग्विजय समर्थक।
वारासिवनी से विधायक प्रदीप जायसवाल। कमलनाथ समर्थक।
रतलाम ग्रामीण से पूर्व विधायक लक्ष्मीदेवी खराड़ी। दिग्विजय समर्थक।
बालाघाट से अनुराग चतुर मोहता। दिग्विजय समर्थक।
कोतमा से विधायक मनोज अग्रवाल। अजय सिंह समर्थक।
मानपुर से तिलकराज सिंह। अजय सिंह समर्थक।
शहपुरा से कृष्णा उरैती। कमलनाथ समर्थक।
मल्हारगढ़ से श्यामलाल जोकचंद। मीनाक्षी नटराजन के समर्थक।
गरोठ से त्रिलोक पाटीदार। यह एक ही गु्रप है। सोजतिया ग्रुप। दिग्विजय-कमलनाथ समर्थक।
किशन सिंह चौहान। दिग्विजय-कमलनाथ समर्थक।
दिलीप तिलानी। दिग्विजय-कमलनाथ समर्थक।
तूफान सिंह सिसोदिया। दिग्विजय-कमलनाथ समर्थक।
पूर्व जनपद पंचायत अध्यक्ष रिना तूफान सिंह सिसोदिया। सुभाष सजोतिया-दिग्विजय समर्थक।
कांग्रेस विचार विभाग के सदस्य दिनेश सोनी। सिंधिया समर्थक।
जावरा से डॉ. हमीरसिंह राठौर। अजय सिंह समर्थक
इंदौर-1 से कांग्रेस पार्षद प्रीति अग्निहोत्री। सिंधिया समर्थक।
कमलेश खंडेलवाल। दिग्विजय सिंह समर्थक।
इंदौर-5 से पार्षद छोटे यादव। दिग्विजय समर्थक।
देपालपुर से कांग्रेस के कार्यवाहक जिलाध्यक्ष मोतीसिंह पटेल। कमलनाथ समर्थक
मनगवां से प्रीति वर्मा। कमलनाथ समर्थक।
सिरमौर से विद्यापाल गौतम। अजय सिंह समर्थक।
मैहर से मनीष पटेल, गोंगपा से पर्चा दाखिल। अजय समर्थक।
पवई से अनिल तिवारी ने सपाक्स से फॉर्म भरा। सुरेश पचौरी समर्थक।
सिंगरौली से अमित द्विवेदी निर्दलीय। अजय समर्थक।
धौहनी से श्यामवती सिंह निर्दलीय। अजय समर्थक।
जुन्नारदेव- अरुण परते निर्दलीय - कमलनाथ समर्थक।
बरगी से राजेश सिंह राजपूत। दिग्विजय समर्थक।
जबलपुर पूर्व से नगर निगम में नेता प्रतिपक्ष राजेश सोनकर। अरुण यादव समर्थक ।
वरिष्ठ कार्यकर्ता लक्ष्मी प्रसाद ने पर्चा दाखिल किया। दिग्विजय समर्थक।
सिहोरा से जमुना मरावी ने फॉर्म भरा। दिग्विजय समर्थक।
प्रभा मरावी ने पर्चा भरा। दिग्विजय समर्थक।
मुड़वारा से पूर्व प्रदेश सचिव रमाकांत। अरुण यादव समर्थक।
विजयराघवगढ़ से मजदूर यूनियन के अध्यक्ष श्याम तिवारी। पचौरी समर्थक।
राजनगर से सत्यव्रत चतुर्वेदी ने अपने बेटे नितिन चतुर्वेदी।
मलहरा से तिलक सिंह लोधी। दिग्विजय समर्थक।
हरिकृष्ण द्विवेदी। सिंधिया समर्थक।
बिजावर से राजेश शुक्ला बबलू ने समाजवादी पार्टी। दिग्विजय समर्थक।
जतारा से कांग्रेस विधायक दिनेश अहिरवार। पचौरी समर्थक।
पृथ्वीपुर से रमन पस्तोर। सत्यव्रत के करीबी।
निवाड़ी से नारायण रिछारिया। सत्यव्रत के करीबी।
जबेरा से आदित्य सॉलोमन। कमलनाथ समर्थक।
तान्या सॉलोमन। कमलनाथ समर्थक।
हटा से प्रदीप खटीक। कमलनाथ समर्थक।
पथरिया से कांग्रेस के बृजेंद राव। दिग्विजय समर्थक
कांग्रेस के अनुरागवर्धन सिंह हजारी। सिंधिया समर्थक।
बंडा से पूर्व विधायक नारायण प्रजापति। पचौरी समर्थक।
पुष्पेंद्र सिंह लोधी भारतीय शक्त चेतना पार्टी। कमलनाथ समर्थक।
रहली से ज्योति पटेल। सिंधिया समर्थक।
कमलेश साहू। कमलनाथ समर्थक।
सागर से नगर निगम के पूर्व कांग्रेसी प्रत्याशी जगदीश यादव। सपा से उतरे। अरुण यादव समर्थक।
अंकलेश्वर दुबे। कमलनाथ समर्थक।
घोड़ाडोंगरी से कांग्रेस के पूर्व मंत्री प्रताप सिंह उईके। सपा से। दिग्विजय-कमलनाथ समर्थक।
नीमच से मधुसूदन ओमप्रकाश। मीनाक्षी नटराजन समर्थक।
देवेंद्र सिंह परिहार। बहन पुष्पा भारतीय पूर्व एमएलए।
जावद से समंदर बाबूलाल पटेल। सिंधिया समर्थक।
भोपाल मध्य से सैय्यद साजिद अली। अरुण समर्थक।
गोविंदपुरा से रामबाबू शर्मा। पचौरी के रिश्तेदार।

** इन्होंने भी निर्दलीय भरे फॉर्म **
मुलताई से कांग्रेस के पूर्व विधायक डॉ. पीआर बोडख़े।
पिपरिया से मनोज बामने ने सपा। उनके पिता रमेश कांग्रेस से टिकट मांग रहे थे।
मलहरा से कांग्रेस नेता आनंद सिंह ने अपनी पत्नी निशा राजे को उतारा है।
जतारा से पंकज अहिरवार।
महाराजपुर से अनवरी खातून ने आप ज्वॉइन कर ली है। नामांकन कांग्रेस से दाखिल किया है।
चंदला से कामता वंशल ने भारतीय पंचायत पार्टी।
पनागर से राजेश पटेल ने नामांकन भरा।
जबलपुर उत्तर-मध्य से महमूद।
पवई से भुवन विक्रम सिंह अब सपा से।
सुवासरा से ओम सिंह भाटी।
सैलाना से जिला पंचायत सदस्य कमल देवदा।
आलोट से संगीता पर्वतसिंह।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned