scriptMahakal reached Shriji temple to hand over power to Shrihari | श्रीहरि को सत्ता सौंपने श्रीजी मंदिर पहुंचे महाकाल | Patrika News

श्रीहरि को सत्ता सौंपने श्रीजी मंदिर पहुंचे महाकाल

वैकुण्ठ चतुर्दर्शी पर सरोवरों में हुआ दीपदान

भोपाल

Published: November 19, 2021 12:57:59 am

भोपाल. वैकुण्ठ चतुर्दर्शी का पर्व गुरुवार को राजधानी में श्रद्धा के साथ मनाया गया। इस मौके पर मंदिरों और घरों में विशेष पूजा अर्चना की गई। शहर के अनेक मंदिरों में दीपदान किए गए, इसी प्रकार शहर के सरोवरों में भी अनेक श्रद्धालुओं ने दीपदान किया और देव आराधना की।
श्रीहरि को सत्ता सौंपने श्रीजी मंदिर पहुंचे महाकाल
श्रीहरि को सत्ता सौंपने श्रीजी मंदिर पहुंचे महाकाल
सनातन परम्परा के अनुसार वैकुण्ठ चतुर्दर्शी के दिन भगवान महादेव, भगवान के विष्णु को सत्ता की बागडोर सौंपते हैं। इसी परम्परा का निर्वाह करते हुए वैकुण्ठ चतुदर्शी पर भगवान मुक्तेश्वर महाकाल भगवान विष्णु को सत्ता की बागडोर सौंपने नगर भ्रमण करते हुए देर शाम को श्रीजी मंदिर पहुंचे। इस मौके पर हरि हर मिलन हुआ और परम्परानुसार मुक्तेश्वर महाकाल ने भगवान विष्णु को सत्ता की बागडोर सौंपी।
चांदी के रथ में सवार हुए मुक्तेश्वर
शिव शृंगार उत्सव समिति की ओर से छोला विश्राम घाट से महाकाल की सवारी निकाली। इसमें चांदी के रथ पर मुक्तेश्वर महाकाल विराजमान थे। बस स्टैंड, हनुमान, लोहा बाजार, सराफा चौक होते हुए सवारी देर शाम को श्रीजी मंदिर पहुंची। मंदिर के गोपाल पुरोहित ने बताया कि इस मौके पर हरि और हर का मिलन हुआ और सत्ता सौंपने की लीला की गई। इसके बाद सवारी वापस विभिन्न मार्गों से होते हुए विश्राम घाट पहुंची।
शीतलदास की बगिया सहित शहर के अन्य तालाबों में हुआ दीपदान
वैकुण्ठ चतुर्दर्शी पर दीपदान का विशेष महत्व है। इस पर्व पर शहर के तालाबों में अनेक श्रद्धालुओं ने दीपदान किया और देव आराधना की। शहर के शीतलदास की बगिया, शाहपुरा तालाब सहित अन्य स्थानों पर दीपदान किया गया। इसी प्रकार बांके बिहारी मार्र्कंडेय मंदिर में भी महिलाओं ने दीपदान किया और विशेष पूजा अर्चना की। इस मौके पर भगवान का विशेष शृंगार भी किया गया। कार्यक्रम में बड़ी संख्या में श्रद्धालु उपस्थित थे।
श्रद्धालु सरोवर में करेंगे स्नान
कार्तिक पूर्णिमा का पर्व शुक्रवार को श्रद्धा के साथ मनाया जाएगा। इसी के साथ पवित्र कार्तिक माह का समापन भी होगा। इस दिन पवित्र नदियों में स्नान का विशेष महत्व है। इस पर्व पर बड़ी संख्या में श्रद्धालु पवित्र तीर्थ स्थलों पर पहुंचकर कार्तिक स्नान करते हैं और दान पुण्य करते हैं। राजधानी से बड़ी संख्या में श्रद्धालु होशंगाबाद में नर्मदा स्नान के लिए पहुंचेंगे, वहीं उज्जैन सहित अन्य तीर्थ स्थलों पर भी लोग पहुंचेंगे।
चंद्रग्रहण आज, नहीं पड़ेगा कोई असर
कार्तिक पूर्णिमा के दिन शुक्रवार को चंद्रग्रहण भी रहेगा, लेकिन इस ग्रहण कोई असर नहीं होगा, क्योकि यह ग्रहण भारत के पूर्वोत्तर भाग में अति अल्प समय के लिए दिखाई देगा। मप्र अथवा भोपाल में भी यह ग्रहण दिखाई नहीं देगा। यह ग्रहण विदेशों में दिखाई देगा। इसलिए हमारे यहां इसका कोई खास असर नहीं पड़ेगा।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Health Tips: रोजाना बादाम खाने के कई फायदे , जानिए इसे खाने का सही तरीकाCash Limit in Bank: बैंक में ज्यादा पैसा रखें या नहीं, जानिए क्या हो सकती है दिक्कतSchool Holidays in January 2022: साल के पहले महीने में इतने दिन बंद रहेंगे स्कूल, जानिए कितनी छुट्टियां हैं पूरे सालVideo: राजस्थान में 28 जनवरी तक शीतलहर का पहरा, तीखे होंगे सर्दी के तेवर, गिरेगा तापमानJhalawar News : ऐसा क्या हुआ कि गुस्से में प्रधानाचार्य ने चबाया व्याख्याता का पंजामां लक्ष्मी का रूप मानी जाती हैं इन नाम वाली लड़कियां, चमका देती हैं ससुराल वालों की किस्मतAaj Ka Rashifal - 24 January 2022: कुंभ राशि वालों की व्यापारिक उन्नति होगीMaruti की इस सस्ती 7-सीटर कार के दीवाने हुएं लोग, कंपनी ने बेच दी 1 लाख से ज्यादा यूनिट्स, कीमत 4.53 लाख रुपये

बड़ी खबरें

Punjab Election 2022: गठबंधन के तहत BJP 65 सीटों पर लड़ेगी चुनाव, जानिए कैप्टन की PLC और ढींढसा को क्या मिलाराष्ट्रीय वीरता पुरस्कार के विजेताओं से पीएम मोदी ने किया संवाद, 'वोकल फॉर लोकल' के लिए मांगी बच्चों की मददब्रेंडन टेलर का खुलासा, इंडियन बिजनेसमैन ने किया ब्लैकमेल; लेनी पड़ी ड्रग्ससंसद में फिर फूटा कोरोना बम, बजट सत्र से पहले सभापति नायडू समेत अब तक 875 कर्मचारी संक्रमितकर्नाटक में कोविड के 50 हजार नए मामले आने के बाद भी सरकार ने हटाया वीकेंड कर्फ्यू, जानिए क्या बोले सीएमसीएम योगी की जीत के लिए उज्जैन के श्मशान में हुई तंत्र साधना, बोले बाबा बमबमनाथ योगी का आना ज़रूरीगणतंत्र दिवस के ठीक बाद Tata ग्रुप की हो जाएगी एयर इंडियाICC Awards: शाहीन अफरीदी बने क्रिकेटर ऑफ द ईयर, पाकिस्तान के 3 खिलाड़ियों ने मारी बाजी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.