मोदी के खिलाफ ममता का शक्ति प्रदर्शन, कैलाश ने कहा-चुनाव बाद एक दूसरे की इज़्ज़त की धज्जियां उड़ाएंगे ये नेता

मोदी के खिलाफ ममता का शक्ति प्रदर्शन, विजयवर्गीय ने कहा- लोकसभा के बाद एक दूसरे की इज़्ज़त की धज्जियां उड़ाएंगे ये नेता

By: shailendra tiwari

Published: 19 Jan 2019, 11:56 AM IST

भोपाल. तृणमूल कांग्रेस की अध्यक्ष और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने आज कोलकता में विपक्षी दलों की महारैली बुलाई है। इस रैली में करीब 20 से ज्यादा विरोधी दल शामिल हो रहे हैं। हालांकि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती खुद शामिल नहीं हो रही हैं लेकिन उनकी पार्टी इस रैली में शामिल हो रही है। राहुल और मायावती के इस रैली में शामिल नहीं होने पर भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने तंज कंसा है। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा, सुना है, पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी जी की रैली में मायावती जी और राहुल गांधीजी नहीं आ रहे हैं। मतलब साफ नजर आता है? अभी तो शुरुआत है, लोकसभा चुनाव हो जाने दीजिये, परस्पर विरोधी और अवसरवादी ये नेता एक दूसरे की इज़्ज़त की धज्जियां उड़ाते नजर आयेंगे।

 

 

और क्या कहा कैलाश विजयवर्गीय ने
कैलाश विजयवर्गीय ने ट्वीट करते हुए कहा, प्रधानमंत्री की दावेदारी, महाठगबंधन पर भारी। वहीं, कैलाश विजयवर्गीय ने अपने ट्विटर पर विपक्षी दल के नेता अरविंद केजरीवाल, तेजस्वी यादव , शरद पवार और अखिलेश यादव को टैग करते हुए लिखा है, पश्चिम बंगाल के पंचायत चुनावों में वोटिंग नहीं होती, वरन विपक्ष के कार्यकर्ताओं की हत्यायें होती हैं। पिछले 3 साल मे लगभग 100 से ज़्यादा विपक्ष के कार्यकर्ताओ की हत्या हुई है। अत्यंत शर्मनाक है कि अब तो कार्यकर्ताओ के घर की महिलाओं के साथ बलात्कार जैसे घिनोने कृत्य होने लगे हैं। पश्चिम बंगाल में कहां है लोकतंत्र आप सभी पश्चिम बंगाल में होंगे, क्या आप लोग इसका ज़िक्र अपने भाषण मे करेंगे ??

 

ममता की रैली में ये नेता शामिल
ममता बनर्जी की रैली में पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा, राकांपा प्रमुख शरद पवार और प्रफुल्ल पटेल, समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव, शरद यादव, हेमंत सोरेन, अरुणाचल के पूर्व मुख्यमंत्री गेगोंग अपांग, राष्ट्रीय लोक दल के नेता अजीत सिंह, डीएमके नेता एमके स्टालिन और नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता फारूख अब्दुल्ला के अलावा, कर्नाटक के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी, आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू, अरविंद केजरीवाल, जिग्नेश मेवाणी, पाटीदार आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल और बसपा के सतीश चंद्र मिश्रा शामिल हैं।


मोदी के खिलाफ विपक्ष एकजुट
लोकसभा चुनाव से पहले सभी विपक्षी दल भाजपा और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के खिलाफ सभी दल एकजुट हो रहे हैं। यूपी में समाजवादी पार्टी औ बहुजन समाज पार्टी ने लोसभा चुनाव से पहले गठबंधन का एलान कर दिया है। सपा और बसपा ने इस गठबंधन में कांग्रेस को शामिल नहीं किया गया है। वहीं, दूसरी तरफ इस रैली में खुद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी शामिल नहीं हो रहे हैं उन्होंने रैली के लिए ममता बनर्जी को रैली के लिए लेटर लिखा है और कांग्रेस की तरफ से अभिषेक मनु संघवी को भेजा गया है। माना जा रहा है कि इस बार लोकसभा चुनावों में क्षेत्रीय पार्टियों की भूमिका काफी अहम होगी।

Kamal Nath
Show More
shailendra tiwari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned