scriptमंदाकिनी पुरी का एक और कारनामा, निशाने पर थे देश के कई बड़े उद्योगपति | Mandakini Puri Herbal Product Fraud News | Patrika News
भोपाल

मंदाकिनी पुरी का एक और कारनामा, निशाने पर थे देश के कई बड़े उद्योगपति

Mandakini Puri Herbal Product Fraud News कई ब्रांडेड कंपनियों और उनके मालिकों को लक्ष्य कर वे आयुर्वेदिक प्रोडक्ट्स बनवा रहीं थीं। इतना ही नहीं, उनपर अपनी तस्वीरें भी लगवाकर बेच रहीं थीं।

भोपालMay 12, 2024 / 07:34 pm

deepak deewan

Mandakini Puri Herbal Product Fraud News

Mandakini Puri Herbal Product Fraud News

Mandakini Puri Herbal Product Fraud News – उज्जैन Ujjain की निरंजनी अखाड़े की पूर्व महामंडलेश्वर मंदाकिनी पुरी पर धोखाधड़ी के आरोप में दो केस दर्ज हो चुके हैं। उनके कई फ्राड उजागर हो चुके हैं और रोज नई शिकायतें सामने आ रहीं हैं। ऐसा ही एक केस जब सामने आया तो लोग भौंचक्के रह गए। दरअसल उनके निशाने पर इस बार देश के कई बड़े उद्योगपति थे। वे आयुर्वेदिक उत्पादों की चैन स्थापित करना चाहती थीं। कई ब्रांडेड कंपनियों और उनके मालिकों को लक्ष्य कर वे आयुर्वेदिक प्रोडक्ट्स बनवा रहीं थीं। इतना ही नहीं, उनपर अपनी तस्वीरें भी लगवाकर बेच रहीं थीं। मंदाकिनी पुरी ने कई आयुर्वेदिक उत्पाद बनवा लिए पर उनका भुगतान नहीं किया।
जयपुर की एक आयुर्वेदिक— हर्बल प्रोडक्ट कंपनी से मंदाकिनी पुरी ने कई उत्पाद बनवाए। कंपनी के मालिक ने अब उनपर हर्बल प्रोडक्ट्स के भुगतान नहीं करने के आरोप लगाए हैं। उनका कहना है कि इस मामले में मंदाकिनी पुरी ने लाखों रुपए का चूना लगा दिया।
यह भी पढ़ें : पोते के कारण फंसे पूर्व मंत्री कमल पटेल, विधायक आरिफ मसूद को बेटे ने मुसीबत में डाला

निरंजनी अखाड़े से निष्कासित महामंडलेश्वर मंदाकिनी पुरी ने जयपुर की कंपनी मालिक को पहले विश्वास में लिया। वे मंदाकिनी से इतने प्रभावित हुए कि उनके शिष्य जैसे बन गए। बाद में मंदाकिनी ने उनकी कंपनी से अपने नाम से कई प्रोडक्‍ट्स बनवाए जिन्हें बनाने में 1 लाख 75 हजार रुपए की लागत आई। मंदाकिनी पुरी ने हर्बल कंपनी से आयुर्वेदिक उत्पाद तैयार कर बुला तो लिए पर उसके पैसे नहीं चुकाए। कंपनी मालिक ने अब उनकी इस धोखाधड़ी की शिकायत करने की बात कही है।
खास बात यह है कि मंदाकिनी पुरी ने हर्बल उत्पादों के लिए स्वयं का नाम दिया। इन हर्बल प्रोडक्ट की पैकिंग पर खुद की फोटो भी प्रिंट कराई और कई लोगों को बेचा लेकिन उत्पाद के बदले कंपनी को राशि नहीं चुकाई।
कंपनी के मालिक संदीप शर्मा ने बताया दो साल पहले सन 2022 में साध्वी मंदाकिनी ने उनसे हर्बल उत्पाद बनवाए। करीब 1 लाख 75 हजार रुपए में कुछ उत्पाद बनवाकर कर मैंने उन्हें मंदाकिनी पुरी को उज्जैन भेज दिए थे पर उन्होंने इसका पैसा नहीं दिया। इसके लिए उन्होंने कई बार साध्वी से संपर्क भी किया, लेकिन आजतक भुगतान नहीं किया गया। शर्मा के मुताबिक जब मंदाकिनी पर ठगी के आरोपों की जानकारी लगी तो मैंने महंत रविंदपुरीजी को यह बात बताई। अब व्हाट्सएप पर शिकायत भेज रहा हूं।
दरअसल मंदाकिनी पुरी हर्बल प्रोडक्ट की ब्रांडेड कंपनियों और उनके मालिकों की तर्ज पर आयुर्वेदिक प्रोडक्ट्स बनवाकर उनपर अपनी तस्वीरें लगवाकर बेच रहीं थीं। उन्होंने अपने नाम और तस्वीरों से युक्त कुछ आयुर्वेदिक जेल, क्रीम सहित अन्य उत्पादों का निर्माण करवा लिया था।

Hindi News/ Bhopal / मंदाकिनी पुरी का एक और कारनामा, निशाने पर थे देश के कई बड़े उद्योगपति

ट्रेंडिंग वीडियो