पांच आरोपियों को नासिक जेल से भोपाल लेकर आई पुलिस

पांच आरोपियों को नासिक जेल से भोपाल लेकर आई पुलिस

Krishna singh | Publish: Sep, 09 2018 08:45:42 AM (IST) Bhopal, Madhya Pradesh, India

मेडिकल छात्रा से दाखिले के नाम पर ठगी

भोपाल. डीवाय पाटिल मेडिकल कॉलेज मुंबई में (पोस्ट ग्रेजुएट) पीजी में दाखिला दिलाने का झांसा देकर भोपाल के सरकारी अस्पताल में पदस्थ डॉक्टर की एमबीबीएस बेटी से 4 लाख रुपए ठगने वाले पांच जालसाजों को गोविंदपुरा पुलिस भोपाल लेकर आई है। पांचों जालसाज धोखाधड़ी के आरोप में नासिक जेल में बंद थे। एसपी राहुल लोढ़ा ने बताया कि आरोपियों से पुलिस पूछताछ कर रही है। पुलिस उनसे यह पता लगा रही कि एमबीबीएस छात्रा के अलावा किसी अन्य छात्र-छात्राओं के साथ तो आरोपियों ने ठगी नहीं की है। एसपी राहुल लोढ़ा ने यह भी बताया कि आरोपियों ने छात्रा के साथ ठगी करना कबूल लिया है।

 

मालुम हो कि 27 वर्षीय युवती शक्ति नगर में रहती है। युवती ने पुलिस को बताया कि उसने इस वर्ष मेडिकल कॉलेज में पीजी कोर्स के लिए नीट परीक्षा दी थी। परीक्षा परिणाम आने के बाद उसके पास तीन अलग-अलग मोबाइल नंबरों से कॉल आए। कॉल करने वालों ने डीवाय पाटिल मेडिकल कॉलेज मुंबई में पीजी में दाखिला दिलाने के नाम पर 4 लाख रुपए ठग लिए थे। पुलिस ने मामले में अमित कुमार, राहुल शर्मा, राहुल दुबे, संदीप गुप्ता, कौशिक तिवारी को प्रोटेक्शन वारंट पर नासिक जेल से लेकर आई है। सभी आरोपी धोखाधड़ी के आरोप में नासिक जेल में बंद थे।

 

गोवा में बैठकर खरे करता था डील
आरोपियों ने गोविंदपुरा पुलिस की प्रारंभिक पूछताछ में मितिन्द्र खरे का नाम उगला है। वह इन पांचों आरोपियों को दाखिला के लिए हायर किया था। मितिन्द्र इनसे मिलने के लिए गोवा बुलाता था। जहां, छात्र-छात्राओं से संपर्क करने के लिए डाटा उपलब्ध कराता था। पुलिस के मुताबिक आरोपियों से पूछताछ की जा रही है। जल्द गिरोह के माध्यम से दूसरे भी वारदात का खुलासा हो सकता है। पुलिस का कहना है कि आरोपी के खिलाफ जांच पड़ताल की जा रही है। वहीं जानकारों का कहना है कि अकसर हो रहे वारदात में बड़े गिरोह का हाथ होता है।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned