scriptMinister Inder Singh Parmar's statement on daughter-in-law's suicide | बहू की आत्महत्या पर बोले इंदर सिंह परमार - मैं क्या बताऊं, क्यों किया सुसाइड? जानिए मंत्रीजी ने जांच पर क्या कहा | Patrika News

बहू की आत्महत्या पर बोले इंदर सिंह परमार - मैं क्या बताऊं, क्यों किया सुसाइड? जानिए मंत्रीजी ने जांच पर क्या कहा

अंतिम संस्कार के दौरान सविता के चचेरे भाई एकदम चिल्ला उठे कि हत्या की धारा लगनी चाहिए, मंत्री हैं तो क्या हुआ

भोपाल

Published: May 12, 2022 03:52:09 pm

भोपाल. प्रदेश के स्कूल शिक्षा राज्यमंत्री इंदर सिंह परमार की बहू सविता परमार ने आत्महत्या कर ली. उनका बुधवार को पोस्टमॉर्टम के बाद अंतिम संस्कार कर दिया गया। अब इस केस में स्कूल शिक्षा राज्यमंत्री परमार का बयान भी सामने आया है। उनका कहना है कि सविता को हमसे और हमें उससे कोई तकलीफ ही नहीं थी। मैं खुद हैरान हूं कि उसने यह कदम क्यों उठाया। हालांकि अपने बेटे और बहू के बीच कथित विवाद की बात पर उन्होंने चुप्पी साध ली पर यह भी कहा कि हम खुद इस मामले की जांच चाहते हैं।

mantri_parmar.png
स्कूल शिक्षा राज्यमंत्री परमार का बयान सामने आया

सविता परमार ने गांव पोचानेर में घर में ही मंगलवार को आत्महत्या कर ली थी। बुधवार को उनका अंतिम संस्कार किया गया. अंतिम संस्कार के दौरान चारों ओर मंत्री के परिवार के लोग और उनके समर्थक जमा थे। अस्पताल से लेकर श्मशान तक में किसी को भी जेब से मोबाइल तक नहीं निकालने दिया गया। पूरे गांव में कोई कुछ भी बोलने को तैयार नहीं था। हालांकि अंतिम संस्कार के दौरान सविता के चचेरे भाई एकदम चिल्ला उठे कि हत्या की धारा लगनी चाहिए, मंत्री हैं तो क्या हुआ। इस पर उसे कुछ लोगों ने पकड़ा और गाड़ी में बैठाकर गांव भेज दिया। खास बात यह है कि सविता को पति देवराज ने मुखाग्नि नहीं दी न वे अंतिम यात्रा में शामिल हुए।

मंंत्री की बहू द्वारा सुसाइड करने, पति का अंतिम संस्कार में नहीं आना और भाई के यूं चिल्लाने पर कई सवाल उठने लगे। ऐसे में इस मामले के दो दिन बाद आखिरकार मंत्री इंदर सिंह परमार का मीडिया में पक्ष सामने आया। उन्होंने कहा कि सविता को हमारे परिवार से एक प्रतिशत भी तकलीफ नहीं थी। उसने न ही कभी मायकेवालों से कोई शिकायत की थी और न ही हमसे। मेरा बेटा देवराज सिक्योरिटी एजेंसी और खेती का काम करता है, उसकी तरफ से भी हमें कोई बात या शिकायत कभी नहीं मिली।

परमार ने बताया कि हमने सविता के नाम पर ही जमीन ली है। एक करोड़ रुपए का कर्ज भी लिया। एक वेयरहाउस उसी के नाम पर है। हमारे मन में यदि कुछ गलत होता तो ऐसा क्यों करते? उन्होंने कहा कि मैं भी चाहता हूं कि पूरे मामले की अच्छे से जांच हो जाए।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

बड़ी खबरें

अब तक 11 देशों में मंकीपॉक्स : शुक्रवार को WHO की इमरजेंसी मीटिंग, भारत में अलर्ट, अफ्रीकी वैज्ञानिक हैरानWeather Update: दिल्ली सहित इन राज्यों में बदला मौसम ​का मिजाज, आंधी-बारिश की संभावनाMP में ओबीसी आरक्षण: जिला पंचायत 30, जनपद 20 और सरपंचों को 26 फीसदी आरक्षणInflation Around the World: महंगाई की मार, भारत से ज्यादा ब्रिटेन और अमरीका हैं लाचारसावधान! अब हेलमेट पहनने के बावजूद कट सकता है 2 हजार रुपये का चालान, बाइक चलाने से पहले जान लें नया नियमCNG Price Hike: फिर महंगी हुई सीएनजी, एक हफ्ते में दूसरी बढ़ोतरी, चेक करें लेटेस्ट रेटIPL 2022 RR vs CSK: चेन्नई को हरा टॉप 2 में पहुंची राजस्थानIPL 2022 Point Table: गुजरात और राजस्थान ने प्लेऑफ में टॉप 2 में जगह की पक्की, आरसीबी-मुंबई दिल्ली भरोसे
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.