कांग्रेस में घमासानः दिग्विजय के बाद अब तीन मंत्रियों पर लगे गंभीर आरोप

कमलनाथ सरकार के मंत्री उमंग सिंघार के आरोपों के बाद अब समाजवादी पार्टी के विधायक राजेश शुक्ला (Samajwadi Party MLA Rajesh Shukla) ने गंभीर आरोप लगाकर राजनीति गर्मा दी है।

By: Manish Gite

Updated: 05 Sep 2019, 07:04 PM IST

भोपाल। कमलनाथ सरकार के मंत्री उमंग सिंघार के आरोपों के बाद अब समाजवादी पार्टी के विधायक राजेश शुक्ला (Samajwadi Party MLA Rajesh Shukla) ने गंभीर आरोप लगाकर राजनीति गर्मा दी है। उन्होंने कहा है कि मध्यप्रदेश सरकार के मंत्री दुकान चला रहे हैं। उन्होंने खुलकर आरोप लगाया कि बाला बच्चन, कमलेश्वर पटेल और तुलसी सिलावट समेत 12-13 मंत्री बगैर लिफाफे के काम ही नहीं करते हैं। शुक्ला ने कहा है कि यह लोग मुख्यमंत्री कमलनाथ की छवि बदनाम करने की साजिश कर रहे हैं।

 

VIDEO STORY click here

 

सपा विधायक राजेश शुक्ला ने यह भी आरोप लगाया कि मैं तो पहले ही दिन से कह रहा हूं कि कांग्रेस को कांग्रेस से ही खतरा है। मैंने कमलनाथ से निवेदन किया है कि अपने कुछ मंत्रियों पर लगाम लगाएं। कुछ मंत्री बगैर रुपए के काम ही नहीं कर रहे हैं।

 

पिछले सप्ताह भी जताई थी नाराजगी
कमलनाथ सरकार को समर्थन दे रहे सपा के इकलौते विधायक राजेश शुक्ला ने पिछले सप्ताह भी नाराजगी जाहिर की थी। राजेश शुक्ला ने कहा था कि सरकार के कई मंत्री और जिलों के अधिकारी विधायकों की बात नहीं सुन रहे हैं। उन्होंने यहां तक कह दिया था कि कुछ मंत्री तो खुद को भगवान समझने लगे हैं और विधायकों को बेइज्जत कर रहे हैं।

 

rajesh.jpg

उमंग सिंघार से नाराज हैं शुक्ला
शुक्ला ने वन मंत्री उमंग सिंघार के बारे में कहा था कि वे उनसे मिलने के लिए बंगले पर डेढ़ घंटे खड़े रहे, लेकिन मंत्री ने उनसे मुलाकात नहीं की। शुक्ला ने कहा कि अब मैं 5 साल तक उनके बंगले पर नहीं आउंगा। विधायक जिले के कलेक्टर्स की ओर से सुनवाई न किए जाने के कारण नाराज थे। हालांकि राजेश शुक्ला ने कहा कि वे मुख्यमंत्री कमलनाथ से नाराज नहीं हैं। वे मंत्रियों की शिकायत को सीएम तक लेकर जाएंगे।

 

सरकार को चार विधायकों का समर्थन
गौरतलब है कि कमलनाथ सरकार चार निर्दलीय विधायकों और समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के समर्थन पर चल रही है। इनमें से विधायक राजेश शुक्ला समाजवादी पार्टी के इकलौते विधायक हैं।

 

सिलावट के बचाव में आए विधायक
अम्बाह के विधायक कमलेश जाटव का कहना है कि मैंने केवल क्षेत्र की स्वास्थ्य समस्याओं को लेकर मंत्री तुलसी सिलावट जी को लेकर अवगत कराया था। मेरे और मंत्री जी के बीच पैसे लेन देन की कोई बात ही नही है। ना मुझ से इस प्रकार की कोई मांग की गई है।

 

सिलावट से मेरे अच्छे संबंध
गोहद के विधायक रणवीर जाटव ने कहा कि एक व्यक्ति की बातों में आकर मैंने बिना किसी जानकारी लिए ये बयान दिया गया था जो कि सरासर गलत था। सीधे तौर पर तुलसी सिलावट जी और मेरे बीच ऐसी कोई बात नही है उनसे व्यक्तिगत मेरे बहुत अच्छे सम्बन्ध है। ना ही मुझ से किसी भी कार्य के लिए कभी आर्थिक रूप से कोई मांग की गई थी।

धारा 370: कश्मीर से आया फोन, बारामूला की स्टूडेंट्स ने 25 किमी दूर जाकर बताई परेशानी

मध्यप्रदेश कांग्रेस में घमासान पर यह भी देखें
उमंग सिंघार के आरोपों पर दिग्विजय बोले- जो भी जवाब देना है सीएम कमलनाथ दें
कमलनाथ सरकार के मंत्री ने दिग्विजय पर लगाया ब्लैकमेलिंग का आरोप
दिग्विजय सिंह का विवादित बयान, पार्टी के साथ फिर ठनी, गर्माई राजनीति
फिर सुर्खियों में दिग्विजय सिंह, अपने ही कार्यकर्ताओं को कहा मुर्दाबाद
दिग्विजय सिंह ने अब कश्मीर को बताया 'भारत ऑक्युपाइड कश्मीर'
भाजपा नेता बोले- मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री का नाम है 'दिग्विजय नाथ सिंधिया'

कमलनाथ के मंत्री ने सोनिया गांधी को लिखी चिट्ठी, कहा- दिग्विजय सिंह कर रहे हैं सरकार गिराने की कोशिश

Kamal Nath
Show More
Manish Gite
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned