मोदी सरकार का बड़ा तोहफा, जल्द बिना ब्याज के मिलेगा किसानों को कर्ज

मोदी सरकार का बड़ा तोहफा, जल्द बिना ब्याज के मिलेगा किसानों को कर्ज

By: Faiz

Published: 03 Jan 2019, 01:22 PM IST

भोपालः मध्य प्रदेश समेत राजस्थान और छत्तीसगढ़ में कांग्रेस द्वारा मिली हार के बाद भारतीय जनता पार्टी पूरी सतर्कता के साथ लोकसभा चुनाव की तैयारियों में जुट गई है। इसी रणनीति के तहत मोदी सरकार किसानों को बड़ी सौगात देने जा रही है। तीन राज्यों में हुई किसान कर्जमाफी ने देशभर का ध्यान अपनी ओर खीचा है। लोगों ने इसे कांग्रेस का एक सराहनीय कदम बताया। यह बात भाजपा भी अच्छी तरह से जानती है कि, अगर कांग्रेस को लोकसभा में पटकनी देना है तो, कर्जमाफी का काट करना बेहद जरूरी है। इसी के मद्देनज़र मोदी सरकार देशभर के किसानों को बड़ी सौगात देने की योजना पर काम कर रही है। इस योजना के तहत सरकार खेती के लिए किसानों को हर सीजन में 4 हजार रुपए प्रति एकड़ की दर से आर्थिक मदद देने की तैयारी में है, जो सीधे उनके खातों में आएगी। इसके अलावा सरकार किसानों को 1 लाख रुपये तक का ब्याजमुक्त लोन देने की तैयारी भी कर रही है। जानकारी मिली है कि, एक हफ्ते के भीतर सरकार इस योजना का ऐलान कर सकती है।

कांग्रेस की कर्जमाफी का काट

आपको बता दें कि, गुज़रे विधानसभा चुनाव में जनसभा के दौरान मध्य प्रदेश के मंदसौर में कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने देशभर के किसानो से वादा किया था कि, जिन राज्यों में कांग्रेस की सरकार बनेगी, उसके दस दिनों के भीतर राज्य के किसानो का कर्ज माफ कर दिया जाएगा। हालांकि, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में सरकार बनने के दो घंटों के भीतर ही सरकार ने किसानों के कर्जमाफी का ऐलान कर दिया। बीजेपी के केन्द्रीय नेतृत्व का मानना है कि, किसान कर्जमाफी के फैसले ने विधानसभा में तो कांग्रेस को फायदा पहुंचाया ही, लेकिन अगर लोकसभा में उनकी ओर से इससे बढ़िया कोई वादा नहीं किया गया तो भाजपा के लिए लेकसभा चुनाव भी चुनौती पूर्ण हो सकता है। इसी के मद्देनज़र मोदी सरकार किसानो को बड़ी राहत देने की योजना बना रही है।

किसानों को मिलेगा ये लाभ

कुछ दिनो पहले भी केंद्र सरकार की ओर से ये संकेत मिले थे कि, देश के किसानों को राहत देने पर विचार चल रहा है। इससे अंदाजा लगाया जा रहा था कि, लोकसभा साधने के लिए सरकार किसानों के लिए कोई बड़ा ऐलान कर सकती है। फिलहाल, सरकार के आला नेताओं के बीच लगातार बैठकों का दौर जारी है। जानकारी है कि, खेती के लिए हर सीजन में किसानों को चार हजार रुपए प्रति एकड़ की दर से आर्थिक मदद दी जायेगी, साथ ही सरकार किसानों को एक लाख तक ब्याजमुक्त लोन भी देगी। अगर लोकसभा चुनाव से पहले सरकार की तरफ से ऐसा कोई ऐलान होता है तो यह राहुल गांधी के कर्जमाफी के ऐलान का तोड़ भी हो सकता है।

एक सप्ताह के भीतर ऐलान संभव

मीडिया रिपोर्ट्स में कहा जा रहा है कि, एक हफ्ते में सरकार द्वारा इस योजना का ऐलान हो सकता है। बता दें कि, अगर यह योजना शुरु होती है तो, सरकार पर इसका सालाना भार करीब 2.30 लाख करोड़ रुपये आएगा। इसमें 70 हजार करोड़ की खाद सब्सिडी समेत अन्य छोटी स्कीमें भी शामिल हो सकती हैं। वहीं, इससे पहले केन्द्र सरकार की तरफ से ब्याजमुक्त फसल लोन की सीमा 50,000 रुपये प्रति हेक्टेयर थी। अब नई योजना के तहत इसे बढ़ाकर एक लाख रुपए तक प्रति किसान कर दिया जाएगा| अभी तक 4 फीसदी ब्याज दर की सब्सिडी दर पर किसानों को फसल ऋण मिलता था| इस योजना के तहत, बैंक 1 लाख रुपये तक के लोन पर किसी तरह का ब्याज़ नहीं लिया जाएगा।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned