scriptMost of the focus on law and order during elections is in Morena, Damo | चुनाव के दौरान कानून-व्यवस्था पर सबसे ज्यादा फोकस मुरैना, दमोह और रीवा जिले में | Patrika News

चुनाव के दौरान कानून-व्यवस्था पर सबसे ज्यादा फोकस मुरैना, दमोह और रीवा जिले में

- प्रदेश में 22 हजार से अधिक मतदान केन्द्र संवेदनशील और अतिसंवेदनशील

- पूरे प्रदेश में संवेदनशील और अति संवेदनशील मतदान केन्द्रों की संख्या 22 हजार से अधिक है

भोपाल

Published: December 07, 2021 08:49:44 pm

भोपाल। संवेदनशील और अति संवेदनशील मतदान केन्द्रों वाले क्षेत्रों की अभी से मानीटरिंग शुरू कर दी गई है। नामांकन पत्र जमा होने के बाद इसकी डेली रिपोर्ट भी तैयार की जाएगी। इस तरह के सबसे ज्यादा मतदान केन्द्र मुरैना, दमोह और रीवा जिले में हैं। जबकि पूरे प्रदेश में संवेदनशील और अति संवेदनशील मतदान केन्द्रों की संख्या 22 हजार से अधिक है।
आयोग ने संवेदनशील मदान केन्द्रों की मैपिंग कर ली है। अभ्यर्थी फाइनल होने के बाद एक बार फिर से इनकी मैपिंग की जाएगी। फिलहाल ये मतदान पूर्व में हुए चुनाव और वर्तमान परिस्थिति को देखते हुए तय किए गए हैं। प्रदेश में 62 हजार 351 मतदान केन्द्र बनाए गए हैं, जिनमें 40 हजार मतदान केन्द्र सामान्य हैं, जहां शांतिपूर्ण, बिना किसी विवाद और विरोध के चुनाव कराए जाते हैं।
चित-पट के दूनों दांव तोर
चित-पट के दूनों दांव तोर
संवेदनशील और अति संवेदशीन मतदान केन्द्रों पर राज्य निर्वाचन आयोग अतिरिक्त पुलिस की व्यवस्था के साथ ही इनकी विशेष मानीटरिंग कराएगा। इसके अलावा सेक्टर और जोनल मजिस्ट्रेट भी नियुक्त किए जाएंगे, जो राज्य प्रशासनिक सेवा के अधिकारी होंगे।


सबसे ज्यादा मतदान केन्द्र दमोह में
पंचायत चुनाव के लिए प्रदेश में सबसे ज्याद मतदान केन्द्र दमोह जिले में बनाए गए हैं। जिनकी संख्या 2742 है, इनमें से एक हजार मतदान केन्द्र संवेदनशील और 369 मतदान केन्द्र अति संवेदनशील हैं। दूसरे नम्बर पर सतना और धार जिले का नाम है, जहां 2426 और 2462 मतदान केन्द्र हैं। वहीं सबसे कम मतदान केन्द्र छिंदवाड़ा 108, बुरहानपुर 122, और अलीराजपुर में 129 मतदान केन्द्र बनाए गए हैं।

6 जिलों में सभी मतदान केन्द्र संवेदनशील
प्रदेश में 6 जिले ऐसे हैं, जिनमें सभी मतदान केन्द्र संवेदनशील और अतिसंवेदनशील हैं। इन जिलों में रायसेन, छतरपुर, बुरहानपुर, गुना, रीवा और टीकमगढ़ जिले शामिल हैं। इनमें से अधिकांश जिले मध्य प्रदेश के सीमावर्ती राज्यों से लगे हुए हैं।

टाप पांच संवेदनशील जिले
जिला -----मतदानकेन्द्र
दमोह --------1002
मुरैना -----825
रीवा-------756
भिंड -----724
सतना -----602

टाप पांच अति संवेदनशील जिले
जिला -----मतदानकेन्द्र
मुरैना-----466
रीवा------407
बालाघाट ---451
दमोह -----369
छतरपुर ----293

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Republic Day 2022: आज होगी वीरता पुरस्कारों की घोषणा, गणतंत्र दिवस से पूर्व राजधानी बनी छावनीशरीयत पर हाईकोर्ट का अहम आदेश, काजी के फैसलों पर कही ये बातभाजपा की नई लिस्ट में हो सकती है छंटनी की तैयारी, कट सकते हैं 80 विधायकों के टिकटDelhi: सीएम केजरीवाल का ऐलान, अब सरकारी दफ्तरों में नेताओं की जगह लगेंगी अंबेडकर और भगत सिंह की तस्वीरेंDelhi Metro: गणतंत्र दिवस पर इन रूटों पर नहीं कर सकेंगे सफर, DMRC ने जारी की एडवाइजरीUttar Pradesh Assembly Elections 2022: शह और मात के खेल में डिजिटल घमासान, कौन कितने पानी मेंRepublic Day 2022: जानिए इसका इतिहास, महत्व और रोचक तथ्यकई टेस्ट में भी पकड़ में नहीं आता BA 2 स्ट्रेन, जानिए क्यों खतरनाक है ओमिक्रान का ये सब वेरिएंट
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.