एक और वीडियो वायरल : बीजेपी प्रत्याशी पर वोट के लिए नोट बांटने का आरोप, कांग्रेस ने उठाए सवाल

मध्यप्रदेश की सियासत में एक और वीडियो से मचा बवाल, कांग्रेस ने ट्विटर पर शेयर किया वीडियो, बीजेपी प्रत्याशी और पूर्व मंत्री गोविंद सिंह पर वोट के लिए नोट बांटने का आरोप..

By: Shailendra Sharma

Published: 23 Oct 2020, 08:37 PM IST

भोपाल. मध्यप्रदेश में उपचुनाव की जंग दिन ब दिन तेज होती जा रही है। जुबानी हमलों के साथ ही बीजेपी और कांग्रेस दोनों ही दल एक दूसरे की पार्टी के प्रत्याशियों पर निशाना साधने का कोई मौका नहीं गंवा रहे हैं। उपचुनाव की जंग में प्रत्याशियों के वीडियो भी जमकर वायरल हो रहे हैं जो सोशल मीडिया पर छाए हुए हैं। ऐसा ही एक और वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इस वीडियो के सामने आने के बाद कांग्रेस ने एक बार फिर बीजेपी पर निशाना साधा है। कांग्रेस का आरोप है कि बीजेपी प्रत्याशी नोट के जरिए वोटों की खरीदने को कोशिश कर रहे हैं। जो वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है उसकी पत्रिका पुष्टि नहीं करता है। वायरल वीडियो में बीजेपी प्रत्याशी और प्रदेश के पूर्व मंत्री गोविंद सिंह राजपूत के चुनावी पंपलेट के साथ लोगों को लिफाफे में नोट दिए जाने का खुलासा हो रहा है।

देखें वीडियो-

 

सोशल मीडिया पर वायरल हुआ वीडियो
सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो में वैसे तो किसी की बातचीत साफ सुनाई नहीं दे रही है लेकिन देखने पर ये वीडियो किसी प्रत्याशी के चुनावी कार्यालय का नजर आ रहा है। वीडियो में कुछ लोग चुनावी पंपलेट और उनके साथ लिफाफे बनाते दिख रहे हैं और ठीक इसके बाद प्रदेश सरकार के पूर्व मंत्री और बीजेपी प्रत्याशी गोविंद सिंह राजपूत के चुनावी पंपलेट के साथ लिफाफे से पांच सौ रुपए का नोट निकालते हुए युवक को देखा जा सकता है। वीडियो कब का है और कहां का है इसके बारे में कोई जानकारी नहीं मिल पाई है। पत्रिका इस वायरल वीडियो की पुष्टि नहीं करता है।

कांग्रेस ने ट्विटर पर शेयर किया वीडियो
वायरल वीडियो को कांग्रेस ने अपने ट्विटर पेज पर शेयर किया है। कांग्रेस ने वीडियो को शेयर करते हुए लिखा है कि 35 करोड़ आया बाज़ार में। महामारी में जनादेश का सौदा करने वाले कुर्सीखोर गोविंद राजपूत रूपये बांटकर वोट ख़रीदने निकले हैं। शिवराज जी, कोई भी कुकृत्य और अनैतिकता छोड़ना मत, अपनी सत्ता हवस मिटाने के लिये मध्यप्रदेश को नीलाम करके ही मानना। “बेशर्म बीजेपी, बेनक़ाब बीजेपी”।

Shailendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned