खंडवा कलेक्टर को हटाओ, ये सपाक्स विरोधी है

खंडवा कलेक्टर को हटाओ, ये सपाक्स विरोधी है

Harish Divekar | Publish: Nov, 10 2018 09:47:40 PM (IST) | Updated: Nov, 10 2018 09:47:41 PM (IST) Bhopal, Bhopal, Madhya Pradesh, India

अध्यक्ष हीरालाल त्रिवेदी ने भारत निर्वाचन आयोग को लिखा पत्र

खंडवा कलेक्टर विशेष गढ़पाले अजाक्स समर्थक हैं, इसलिए सपाक्स पार्टी के उम्मीदवारों को परेशान कर रहे हैं। ये अकेले कलेक्टर नहीं है, इंदौर कलेक्टर निशांत बरवड़े का भी झुकाव अजाक्स की ओर है।

कलेक्टर जिला निर्वाचन अधिकारी होता है उसे निष्पक्ष भाव से चुनाव कराना चाहिए, वो किसी जाति या पार्टी की ओर झुकाव नहीं रख सकता।

ऐसे में इन कलेक्टरों को तत्काल प्रभाव से हटाया जाए, जिससे निष्पक्ष चुनाव हो सके।

सपाक्स पार्टी के अध्यक्ष हीरालाल त्रिवेदी ने पत्रिका से चर्चा करते हुए कहा कि मैंने खंडवा कलेक्टर के खिलाफ मुख्य निर्वाचन आयुक्त ओपी रावत को शिकायत की है।
उन्होंने बताया कि प्रदेश में निर्वाचन कार्य में अजाक्स संगठन से जुड़े अधिकारी कर्मचारियों के कार्य पर आयोग को विशेष निगरानी रखना होगी।

 

उन्होंने कलेक्टर खंडवा का उदाहरण देते हुए कहा कि कलेक्टर के पक्षपातपूर्ण रवैए के कारण जिले के रिटर्निंग अधिकारियों द्वारा सपाक्स के उम्मीदवारों को वायुयान चुनाव चिन्ह भरने पर आपत्ति ली गई और उन्हें सपाक्स पार्टी का उम्मीदवार नहीं माना गया।

उन्होंने कलेक्टर खंडवा का उदाहरण देते हुए कहा कि कलेक्टर के पक्षपातपूर्ण रवैए के कारण जिले के रिटर्निंग अधिकारियों द्वारा सपाक्स के उम्मीदवारों को वायुयान चुनाव चिन्ह भरने पर आपत्ति ली गई और उन्हें सपाक्स पार्टी का उम्मीदवार नहीं माना गया।

उन्होंने कलेक्टर खंडवा को तुरंत वहां से हटाने की मांग की ।

त्रिवेदी ने कहा कि मध्यप्रदेश में विधानसभा निर्वाचन 2018 की कार्रवाई में सपाक्स पार्टी, जो अब पंजीकृत राजनीतिक दल हो गया है, के द्वारा प्रदेश के अधिकांश विधानसभा सीटों पर प्रत्याशी खड़े कर निर्वाचन में भाग लिया जा रहा है ।

प्रदेश के कुछ जिलों में निर्वाचन कार्य में लगे कुछ ऐसे अधिकारी कर्मचारी, जो अजाक़्स संगठन के पदाधिकारी सदस्य हैं और जो चुनाव से जुड़े महत्वपूर्ण पदों पर बैठे है, सपाक्स पार्टी के उम्मीदवारों को बिना किसी आधार के अनावश्यक नियम लगाकर परेशान कर रहे है ।

कुछ उम्मीदवारों को चुनाव चिन्ह पर आपत्ति ली गई है और उन्हें वायुयान चुनाव चिन्ह आवंटित नहीं किया जा रहा है।इस तरह की शिकायते इंदौर जिले से भी प्राप्त हो रही हैं ।

त्रिवेदी ने कहा कि ऐसा लगता है ऐसे अधिकारियों की मनमानी को प्रदेश के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी का भी मौन समर्थन प्राप्त है।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned