सपाक्स में दो फाड़ : अलग कार्यकारिणी गठित, पुराने धड़े ने बताया फर्जी

सपाक्स में दो फाड़ : अलग कार्यकारिणी गठित, पुराने धड़े ने बताया फर्जी

Harish Divekar | Publish: Oct, 29 2018 11:41:14 PM (IST) | Updated: Oct, 29 2018 11:41:15 PM (IST) Bhopal, Bhopal, Madhya Pradesh, India

सपाक्स नेता ललित शास्त्री ने खुद को सपाक्स का संस्थापक बताकर अपनी नई कार्यकारिणी घोषित कर दी

-बने विवाद के हालात

विधानसभा चुनाव में भाजपा-कांग्रेस को टक्कर को देने उतरी सपाक्स पार्टी में दो फाड़ हो गए हैं।

रविवार को सपाक्स नेता ललित शास्त्री ने खुद को सपाक्स का संस्थापक बताकर अपनी नई कार्यकारिणी घोषित कर दी।

साथ ही सपाक्स संरक्षक हीरालाल त्रिवेदी को अधिकार विहीन बताया। इसके चंद घंटों बाद ही सपाक्स समाज के प्रांताध्यक्ष केएल साहू ने इसे फर्जी करार दे दिया। इससे सपाक्स पार्टी में विवाद के हालात बन गए हैं।

शास्त्री ने सपाक्स संस्था के गठन का २०१६ में होने का हवाला देकर अपनी नई कार्यकारिणी घोषित की है।

उन्होंने लिखा है कि हीरालाल त्रिवेदी को कोई अधिकार नहीं हैं। वे सपाक्स पर जबरन अधिकार बता रहे हैं।

 

शास्त्री ने अमित खम्परिया को कार्यकारी अध्यक्ष, दीपक पचौरी को संयोजक, सह-संयोजक अशुवेंद्र प्रताप सिंह और आशीष कुर्ल को नियुक्त कर दिया।

इसके तत्काल बाद सपाक्स समाज के प्रांताध्यक्ष केलए साहू ने बयान जारी किया कि शास्त्री सपाक्स संस्था के संस्थापक थे, लेकिन अप्रैल में ही अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे चुके हैं।

इसलिए उनको नियुक्ति करने का अधिकार ही नहीं है। साहू ने कहा कि शास्त्री अब राजनीतिक फायदे के लिए सपाक्स का नाम इस्तेमाल कर रहे हैं। वे सपाक्स में पदाधिकारी नहीं हैं।

इसके बाद से सपाक्स को लेकर बवाल मचा हुआ है।

--

इधर, २१ संगठनों का महागठबंधन-
दूसरी ओर सपाक्स ने २१ संगठनों से हाथ मिलाकर महागठबंधन बनाया है। रविवार को इसके तहत इन संगठनों की बैठक हुई। इसमें मिलकर चुनाव में भाजपा सरकार के खिलाफ काम करने पर सहमति बनी। इनका नेतृत्व सपाक्स ही करेगा। इस अलायंस के संचालन के लिए सपाक्स अध्यक्ष हीरालाल त्रिवेदी की अध्यक्षता में समिति भी गठित की गई है। इसमें सपाक्स उपाध्यक्ष राजीव खंडेलवाल को संयोजक, भारतीय पार्टी अलायंस के कुलदीप सक्सेना और समानता मोर्चे के विनायक पांडे व अन्य दलों के सदस्य समन्वयक के रूप में शामिल रहेंगे।

--

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned