BREAKING NEWS: 9 हजार पटवारी होली के साथ मनाएंगे दिवाली, आ गई है रिजल्ट की तारीख!

BREAKING NEWS: 9 हजार पटवारी होली के साथ मनाएंगे दिवाली, आ गई है रिजल्ट की तारीख!

rishi upadhyay | Publish: Feb, 15 2018 01:38:18 PM (IST) Bhopal, Madhya Pradesh, India

मध्यप्रदेश में बीते साल आयोजित हुई पटवारी भर्ती परीक्षा के 9 हजार अभ्यर्थियों का इंतजार जल्द ही खत्म हो सकता है।

भोपाल। मध्यप्रदेश में बीते साल आयोजित हुई पटवारी भर्ती परीक्षा के 9 हजार अभ्यर्थियों का इंतजार जल्द ही खत्म हो सकता है। सूत्रों की मानें तो इस बार प्रदेश में 9 हजार सफल अभ्यर्थी होली के साथ सफलता के जश्न की दिवाली मनाएंगे। आपको बता दें कि मध्यप्रदेश में पटवारी के 9 हजार पदों के लिए 12 लाख परीक्षार्थियों ने परीक्षा दी। दिसंबर 2017 में हो चुकी परीक्षा के परिणाम का अभी भी इंतजार हो रहा है। लगभग दो महीने पहले हुई परीक्षाओं ने नतीजे अब तक आ जाने थे, लेकिन कुछ अभ्यर्थियों पर अनुचित साधनों के इस्तेमाल के आरोप के बाद जांच समिति अपनी रिपोर्ट नहीं दे पाई। माना जा रहा है कि जल्द ही निराकरण समिति अपनी रिपोर्ट सौंपेगे, जिसके बाद परीक्षा परिणाम भी जारी कर दिए जाएंगे।

 

आपको बता दें कि परीक्षा के दौरान करीब 125 ऐसे परीक्षार्थी मिले थे, जिन्हें अनुचित साधनों यानि अनफेयर मीन्स का इस्तेमाल करने का दोषी पाया गया। ऐसे अभ्यर्थियों के सामने आने के बाद प्रोफेश्नल एक्जामिनेशन बोर्ड (पीईबी) की निराकरण समिति को इन्हें लेकर फैसला करना है। माना जा रहा था कि फरवरी की शुरूआत में निराकरण समिति अपनी रिपोर्ट सौंप देगी, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। इस वजह से ये तो तय है कि फरवरी में नतीजे नहीं आएंगे। लेकिन ये भी संभावना की जा रही है कि मार्च के पहले हफ्ते में ही पटवारी भर्ती परीक्षा के परिणाम जारी हो सकते हैं।

 

अनुचित साधनों का इस्तेमाल करने पर इस तरह होता है एक्शन
किसी भी परीक्षार्थी को नकल करने के लिए अनुचित साधनों (अनफेयर मीन्स) का प्रयोग करते पाया जाने पर उस परीक्षार्थी को परीक्षा तो देने दी जाती है, लेकिन इस्तेमाल की जा रही नकल सामग्री या उपकरण को जब्त कर आंसरशीट के रिकॉर्ड में यूएफएम केस दर्ज कर दिया जाता है। इसके बाद ऐसे परीक्षार्थियों को नकल का दोषी ठहराने से पूर्व एक कमेटी पूरे मामले की जांच करती है और संबंधित परीक्षार्थी को पक्ष रखने का मौका देती है। परीक्षा के स्कोर में नकल सामग्री से जुड़े हिस्से की मार्किंग को शामिल नहीं किया जाता है। कमेटी के निर्णय के बाद ही ऐसे उम्मीदवारों को परिणाम घोषित किया जाता है।

 

इस गाइडलाइन के अनुसार निर्धारित किए गए थे अनुचित साधन के प्रकार
- परीक्षार्थी के पास मोबाइल फोन, केलकुलेटर, लॉग टेबिल, नकल परचा, रफ पेपर, लूज पेपर स्लिप, इलेक्ट्रॉनिक घड़ी और इलेक्ट्रॉनिक उपकरण ले जाने पर पाबंदी थी।
- परीक्षा में चिल्लाना, बोलना, कानाफूसी करना, इशारे करना व किसी दूसरे परीक्षार्थी से संपर्क करने पर प्रतिबंध था।
- प्रतिबंधित सामाग्री मिलने और उसे सौंपने से इनकार करने, खुद नष्ट करने और उपयोग करने पर यूएफएम प्रकरण दर्ज हो सकता है।
- नकल प्रकरण से जुड़े दस्तावेज और प्रपत्र पर हस्ताक्षर से इनकार करना।
- सक्षम अधिकारी के निर्देश के बाद भी दस्तावेज वापस नहीं करने और इनकार पर।
- पटवारी भर्ती परीक्षा का परिणाम पहले फरवरी में जारी होने की तैयारी थी, लेकिन कुछ परिक्षार्थियों को वंचित रहने की वजह से बाद में परीक्षा दिलवाई गई। यूएफएम के प्रकरणों को कमेटी में रखा जाएगा। इसके परिणाम 15 मार्च के पहले जारी हो जाएंगे।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned