scriptmp police new plan for law and order | युवाओं को कट्टर सोच से बचाने मप्र पुलिस बढ़ाएगी ‘संवाद’ | Patrika News

युवाओं को कट्टर सोच से बचाने मप्र पुलिस बढ़ाएगी ‘संवाद’

-बीट और मोहल्ला स्तर पर मैदानी अधिकारी बढ़ाएंगे मेलजोल

भोपाल

Published: April 25, 2022 10:28:26 pm

भोपाल. प्रदेश में सांप्रदायिक घटनाओं पर अंकुश लगाने के साथ ही समाज में समसरता को बेहतर बनाने में मप्र पुलिस मैदानी स्तर पर अधिकारियों-कर्मचारियों को सक्रिय करेगी। इसके अलावा बीट और मोहल्ला स्तर पर पुलिसकर्मी मेलजोल बढ़ाने के साथ ही सूचनाओं का संकलन करेंगे। बता दें, धार्मिक कट्टरता के चलते हाल ही में छोटी घटनाओं ने भी बड़ा रूप ले लिया। इनमें खरगोन, सेंधवा के साथ ही रायसेन जिले में हुआ उपद्रव प्रमुख है। सूत्रों के मुताबिक डीजीपी सुधीर कुमार सक्सेना ने गांव से लेकर शहरों तक खूफिया तंत्र को और मजबूत करने के साथ ही सूचनाओं का विश्लेषण कर त्वरित कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। बता दें, प्रदेश में अवैध रूप से रह रहे विदेशी नागरिकों की पहचान के लिए भी विशेष अभियान चलाया जा रहा है। साथ ही किराएदारों की जानकारी संबंधित थानों में देना और सत्यपान भी अनिवार्य किया गया है।
युवाओं को कट्टर सोच से बचाने मप्र पुलिस बढ़ाएगी ‘संवाद’
युवाओं को कट्टर सोच से बचाने मप्र पुलिस बढ़ाएगी ‘संवाद’
सोशल मीडिया पर खास नजर
सोशल मीडिया पर भडक़ाऊ और आपत्तिजनक पोस्ट वायरल करने वालों पर पुलिस की खास नजर रहेगी। यहां बता दें, सोशल मीडिया पर वायरल होने वाली पोस्ट से हालात बिगड़े हैं। असामाजिक तत्व माहौल बिगाडऩे के लिए सोशल मीडिया का उपयोग करते हैं। पीएचक्यू से ऐसे लोगों की पहचान करने और कार्रवाई करने को कहा गया है। बता दें, बांग्लादेश के आतंकी संगठन जमात ए मुजाहिद्दीन धार्मिक कट्टरता के जरिये प्रदेश में युवाओं को स्लीपर सेल में शामिल करने की फिराक में था। इसके लिए राजधानी समेत आसपास के जिलों के ग्रामीण परिवेश के युवाओं को टागरेट किया था।
कट्टर सोच वालों की पहचान
हाल ही में राजधानी में हुई कॉन्फ्रेंस में डीजीपी सुधीर कुमार सक्सेना ने समाज में कट्टर सोच रखने वाले लोगों खासतौर से युवाओं की पहचान करने के लिए सिस्टम डवलप करने की बात कही थी। कट्टर सोच को सिरे से समाप्त करने के लिए परिवार और समाज के महत्व को जरूरी बताया गया है। इसके लिए पुलिस अधिकारियों को इनसे निरंतर संपर्क बनाए रखने को कहा गया है। इस कॉन्फे्रेंस में एसपी और एएसपी स्तर के अधिकारियों के अलावा पीएचक्यू के आला अधिकारी शामिल हुए थे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

बुध जल्द वृषभ राशि में होंगे मार्गी, इन 4 राशियों के लिए बेहद शुभ समय, बनेगा हर कामज्योतिष: रूठे हुए भाग्य का फिर से पाना है साथ तो करें ये 3 आसन से कामजून का महीना किन 4 राशियों की चमकाएगा किस्मत और धन-धान्य के खोलेगा मार्ग, जानेंमान्यता- इस एक मंत्र के हर अक्षर में छुपा है ऐश्वर्य, समृद्धि और निरोगी काया प्राप्ति का राजराजस्थान में देर रात उत्पात मचा सकता है अंधड़, ओलावृष्टि की भी संभावनाVeer Mahan जिसनें WWE में मचा दिया है कोहराम, क्या बनेंगे भारत के तीसरे WWE चैंपियनफटाफट बनवा लीजिए घर, कम हो गए सरिया के दाम, जानिए बिल्डिंग मटेरियल के नए रेटशादी के 3 दिन बाद तक दूल्हा-दुल्हन नहीं जा सकते टॉयलेट! वजह जानकर हैरान हो जाएंगे आप

बड़ी खबरें

'तमिल को भी हिंदी की तरह मिले समान अधिकार', CM स्टालिन की अपील के बाद PM मोदी ने दिया जवाबहिन्दी VS साऊथ की डिबेट पर कमल हासन ने रखी अपनी राय, कहा - 'हम अलग भाषा बोलते हैं लेकिन एक हैं'Asia Cup में भारत ने इंडोनेशिया को 16-0 से रौंदा, पाकिस्तान का सपना चूर-चूर करते हुए दिया डबल झटकाअजमेर की ख्वाजा साहब की दरगाह में हिन्दू प्रतीक चिन्ह होने का दावा, पुलिस जाप्ता तैनातबोरवेल में गिरा 12 साल का बालक : माधाराम के देशी जुगाड़ से मिली सफलता, प्रशासन ने थपथपाई पीठममता बनर्जी का बड़ा फैसला, अब राज्यपाल की जगह सीएम होंगी विश्वविद्यालयों की चांसलरयासीन मलिक के समर्थन में खालिस्तानी आतंकी ने अमरनाथ यात्रा को रोकने की दी धमकीलगातार दूसरी बार हैदराबाद पहुंचे PM मोदी से नहीं मिले तेलंगाना CM केसीआर
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.