script बेफिक्र मनाएं नये साल का जश्न, 100 से ज्यादा महिला बाउंसर्स, हजारों पुलिसकर्मी रखेंगे आपकी सुरक्षा का ख्याल | mp police special arrangements for security on new year celebration female bouncers for security | Patrika News

बेफिक्र मनाएं नये साल का जश्न, 100 से ज्यादा महिला बाउंसर्स, हजारों पुलिसकर्मी रखेंगे आपकी सुरक्षा का ख्याल

locationभोपालPublished: Dec 30, 2023 03:32:40 pm

Submitted by:

Sanjana Kumar

नए साल के जश्न में कोई खलल न हो इसके लिए शहर के एक दर्जन से अधिक पब, होटल्स, बार में 100 से अधिक महिला बाउंसर तैनात होंगी। ये संगीत समारोहों व डांस के दौरान पुरुषों की गतिविधियों पर बारीक नजर रखेंगी। ताकि महिलाएं जश्न का बेफिक्री से आनंद उठा सकें...

woman_bouncers_for_security_in_mp_on_new_year.jpg

नए साल के जश्न में कोई खलल न हो इसके लिए शहर के एक दर्जन से अधिक पब, होटल्स, बार में 100 से अधिक महिला बाउंसर तैनात होंगी। ये संगीत समारोहों व डांस के दौरान पुरुषों की गतिविधियों पर बारीक नजर रखेंगी। ताकि महिलाएं जश्न का बेफिक्री से आनंद उठा सकें। निजी सुरक्षा एजेंसियों के अनुसार शारीरिक रूप से फिट और सॉफ्ट स्किल्स से लैस होने के कारण बाउंसर सभी विषम परिस्थितियों और उपद्रवियों से चतुराई से निपटने में सक्षम हैं।

धैर्य के साथ करती हैं काम: एक क्लब में लेडी बाउंसर रूबिका बताती हैं कि कई बार झगड़ों में लोग गलत शब्दों का प्रयोग करते हैं। ऐसे में हम महिला बाउंसर धैर्य का परिचय देते हुए अपने आत्मसम्मान को बनाए रखते हुए नियमानुसार लोगों को क्लब से बाहर का रास्ता दिखातीं हैं। जबकि एक नाइट क्लब में लेडी बाउंसर हरप्रीत कहती हैं कि लेडी बाउंसर का काम काफी कठिन है। कई बार दिक्कतें भी आती हैं। देर तक घर जाना होता है। क्लबों के बाहर अलग-अलग तरह के लोग आते हैं। कई बार बहस भी हो जाती है।

महिलाएं अच्छे से कर पाती हैं पार्टी इंजॉय

महिला बाउंसरों को उनके पुरुष समकक्षों के बराबर वेतन दिया जाता है। एक महिला बाउंसर को 1,000 से 1,500 रुपए के बीच भुगतान किया जाता है। एक होटल में बाउंसर के रूप में काम करने वाली 30 वर्षीय श्रेया का कहना है कि मैं पिछले 5 वर्षो से बाउंसर के रूप में काम कर रही हूं। हमें सॉफ्ट स्किल के साथ-साथ शारीरिक फिटनेस में भी प्रशिक्षित किया गया है। हमारी मौजूदगी में महिलाएं सुरक्षित महसूस करती हैं और पार्टी इंज्वाय कर पाती हैं।

भीड़ प्रबंधन में मददगार

शहर के एक प्रमुख होटल संचालक ने बताया कि न्यू ईयर पर होटल में बेहतर भीड़ प्रबंधन के लिए पुरुष बाउंसरों के साथ विशेष रूप से महिला बाउंसरों को भी काम पर रखा है। महिला बाउंसर न केवल भीड़ को प्रबंधित करने में मदद करेंगी बल्कि उन विषम परिस्थितियों से भी निपटेगीं जहां महिलाओं को संभालना पड़ता है।

देर रात सुरक्षित घर पहुंचाने का जिम्मा

राजधानी के होटल्स, क्लब में रोज पार्टियां आयोजित होती हैं। इनमें युवतियों की संख्या अच्छी खासी होती है। ऐसे में क्लब और होटल्स में देर रात तक युवतियों की सुरक्षा बड़ी जिम्मेदारी होती है। पब और क्लब के बाहर ये महिला बाउंसर पुरुष बाउंसर के साथ पूरी मुस्तैदी के साथ खड़ी रहती हैं। देर रात लड़कियों से छेड़छाड़ के मामले न हों या कोई उनसे अभद्रता न करे इसलिए लेडी बाउंसर देर रात लड़कियों को सुरक्षित घर पहुंचाने की जिम्मेदारी भी निभाती हैं।

ट्रेंडिंग वीडियो