scriptMP students benefited from Corona 7000 students will be inligible | NEET PG 2022: सात हजार छात्र होंगे अपात्र, MP के छात्रों को मिलेगा बेहतर अवसर | Patrika News

NEET PG 2022: सात हजार छात्र होंगे अपात्र, MP के छात्रों को मिलेगा बेहतर अवसर

- नीट पीजी 2022: पांच राज्यों ने कोविड ड्यूटी को नहीं माना इंटर्नशिप

- इंटर्नशिप पूरी न होने से केरल सहित चार अन्य राज्यों के छात्र काउंसिलिंग में नहीं हो पाएंगे शामिल

भोपाल

Published: May 23, 2022 12:29:47 pm

भोपाल । Bhopal

इस साल नीट पीजी में मध्यप्रदेा के छात्रों के लिए सबसे बेहतर मौका है। जब भी कोरोना की बात आती है तो उससे हुए नुकसान की ही बात अवश्य होती है, लेकिन इस बार कोरोना से प्रदेश के सैकड़ों छात्रों को फायदा होने वाला है।

NEET PG 2022:हजारों छात्र होंगे अपात्र, हमारे छात्रों को मिलेगा बेहतर अवसर
NEET PG 2022:हजारों छात्र होंगे अपात्र, हमारे छात्रों को मिलेगा बेहतर अवसर

कारण यह कि कोरोना के चलते बिहार, झारखंड, उत्तर प्रदेश, केरल सहित अन्य कुछ राज्यों के एमबीबीएस छात्रों की इंटर्नशिप पूरी नहीं हुई है। यहां की सरकारों ने कोरोना काल में की गई कोविड ड्यूटी को इंटर्नशिप मनने से इनकार कर दिया है। इसका मतलब 50 प्रतिशत स्टेट कोटे की सीटों पर प्रतिस्पर्धा हर साल की तुलना में कम रहेगी। ऐसे में मध्य प्रदेश के छात्रों को इस बार मेरिट में ऊपर आने के लिए ज्यादा मौके रहेंगे।

वर्ष : शामिल छात्रों की संख्या
2021 : 12000
2020 : 11500
2019 : 10700
2018 : 9050
2017 : 10800

एमबीबीएस के बाद नौ महीने की इंटर्नशिप जरूरी: एमबीबीएस पास करने के बाद छात्रों को अस्पताल में नौ महीने ड्यूटी करना होती है। इसे ही इंटर्नशिप कहा जाता है। इसके बाद ही छात्र नीट पीजी परीक्षा में शामिल होने के लिए पात्र होते हैं। पीजी में किसी भी राज्य के मेडिकल कॉलेज की 50 प्रतिशत सीटों पर सेंट्रल व 50 स्टेट कोटे की सीटें होती हैं। वहीं नीट यूजी में 15 फीसदी सीटें केंद्रीय व 85 प्रतिशत सीटें राज्य के कोटे की होती हैं।

MP में यहां कोविड ड्यूटी को माना इंटर्नशिप: नीट पीजी 2022 की तैयारी कर रहे छात्रों ने बताया कि बीते दो साल तक सभी ने कोविड ड्यूटी की। इनमें वे छात्र भी शामिल थे जो एमबीबीएस पास कर चुके थे और इंटर्नशिप करने वाले थे, लेकिन कोविड के चलते इंटर्नशिप नहीं हो पाई। इन छात्रों की मांग पर मप्र सरकार ने कोविड ड्यूटी को ही इंटर्नशिप मान लिया। हालांकि बिहार, झारखंड, उत्तर प्रदेश, केरल सहित अन्य राज्यों ने कोविड ड्यूटी के रूप में मान्यता नहीं दी।

अगले साल होगी दोगुनी प्रतिस्पर्धां
चिकित्सा शिक्षक डॉ. राकेश मालवीय बताते हैं कि इन राज्यों के नीट पीजी परीक्षा में शामिल न होने का खामियाजा अगले साल सामने आएगा। इन राज्यों में 2023 में दो बैच एक साथ परीक्षा देंगे। उस स्थिति में इस साल के मुकाबले प्रतिस्पर्धा दोगुनी हो जाएगी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

धन को आकर्षित करती है कछुआ अंगूठी, लेकिन इस तरह से पहनने की न करें गलतीज्योतिष: बुध का मिथुन राशि में गोचर 3 राशि के लोगों को बनाएगा धनवानपैसा कमाने में माहिर माने जाते हैं इस मूलांक के लोग, तुरंत निकलवा लेते हैं अपना कामजुलाई में चमकेगी इन 7 राशियों की किस्मत, अपार धन मिलने के प्रबल योगडेली ड्राइव के लिए बेस्ट हैं Maruti और Tata की ये सस्ती CNG कारें, कम खर्च में देती हैं 35Km तक का माइलेज़ज्योतिष: रिश्ते संभालने में बड़े कच्चे होते हैं इस राशि के लोगजान लीजिए तुलसी के इस पौधे को घर में लगाने से आती है सुख समृद्धिहाथ में इन निशान का होना मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होने का माना जाता है संकेत

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: 16 बागी विधायक अगर फ्लोर टेस्ट में नहीं देंगे वोट तो क्या होगी तस्वीर, यहां जानें पूरा समीकरणMaharashtra Political Crisis: क्या उद्धव ठाकरे के इस फैसले ने बिगाड़ा सारा खेल! NCP की भूमिका पर भी उठ रहे है सवालMaharashtra Political Crisis: फ्लोर टेस्ट के खिलाफ शिवसेना की अर्जी सुप्रीम कोर्ट में मंजूर, आज शाम 5 बजे होगी सुनवाईपहले खुलेआम कन्हैयालाल की नृशंस हत्या की धमकी, फिर सिर कलम कर दिया, आतंकियों की करतूतों से मेल खाता है तरीकानवीन जिंदल को भी कन्हैया लाल की तरह जान से मारने की मिली धमकी, दिल्ली पुलिस से की शिकायतMumbai News Live Updates: शिवसेना के बागी विधायक एकनाथ शिंदे ने कहा- 2/3 बहुमत है हमारे पासSecurity To Ambani Family: मुकेश अंबानी की सुरक्षा से जुड़े मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने लगाई त्रिपुरा HC के आदेश पर रोकजावेद पंप ने खोला राज, अटाला हिंसा में मौलाना और कई नेताओं के नाम आए सामने
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.