बजट सत्र में बाबूलाल गौर ने सरकार पर छोड़ा तीखा बाण, कहा - जनता सब देखती है..

बजट सत्र में बाबूलाल गौर ने सरकार पर छोड़ा तीखा बाण, कहा - जनता सब देखती है..

Yogendra Sen | Publish: Mar, 14 2018 01:32:24 PM (IST) Bhopal, Madhya Pradesh, India

MP VIDHAN SABHA BUDGET SESSION में हंगामा

भोपाल। मध्यप्रदेश विधानसभा के बजट सत्र में बुधवार को सूखाग्रस्त और नक्सली हमले के मुद्दे को जोरशोर से उठाया गया। शिक्षा और कुपोषण को लेकर सरकार के जवाब से नाराज बाबूलाल गौर ने कहा कि सरकार सुने न सुने जनता सब देखती है। इधर, प्रश्नकाल के दौरान रजनीश सिंह ने अपने जिले की चिंता जाहिर करते हुए सरकार से सूखाग्रस्त करने की मांग की। उन्होंने कहा कि सूखाग्रस्त सर्वे के लिए बड़े-बड़े नेता तक आ चुके है लेकिन अभी तक सूखाग्रस्त मामले में कोई कार्यवाही नहीं हुई। जिले का निरीक्षण करने मुख्यमंत्री शिवराज सहित कई नेता आ चुके है। कृषि मंत्री खुद सहमत है.. इस बात पर उमाशंकर गुप्ता ने जवाब देते हुए कहा कि हमारे नियमों में नहीं आता.. नए तथ्य दोगे तो दिखवा लेंगे।

मध्यप्रदेश विधानसभा लाइव अपडेट
- नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने कहा कि मध्यप्रदेश-छत्तीसगढ़ की सीमा को सील किया जाए। नक्सली के मूवमेंट पर पैनी नजर रखी जाए। मध्यप्रदेश के कई जिलों नक्सली मूवमेंट को देखा गया है।
- जयवर्धन सिंह बोले, गुना में खाद्यान प्रकरण में गलत कार्यवाही हुई। संविदा कर्मचारी पर कार्यवाही, फिर जाँच हो। सीएमओ की जाँच करिये। भुपेन्द्र सिंह बोले, जाँच सही।
- शून्यकाल में रामनिवास रावत बोले, परीक्षा के समय बिजली काट दी, इस पर दोनों पक्षों में तकरार होते हुए, हंगामा शुरू हो गया।
- अजय सिंह बोले महिलाओं पर अत्याचार। इस पर स्थगन चर्चा की मांग की। इस दौरान भी सदन में जमकर हंगामा के साथ नारेबाजी हुई।
- शिक्षा और कुपोषण को लेकर सरकार के जवाब से नाराज बाबूलाल गौर का बयान, कहा - सरकार सुने न सुने जनता सब देखती है।

सोमवार को भी घेरा था गौर ने...
इससे पहले सोमवार को हुई इस बैठक में उस समय अजब स्थिति बन गई जब सत्तापक्ष के सदस्यों ने आरोप लगाया कि उनके सवालों पर गलत जानकारी दी जा रही है। अफसर जो जवाब लिखकर दे देते हैं, मंत्री उसी को पढ़ देते हैं। जमीनी हकीकत उससे अलग होती है।

प्रश्नकाल में भाजपा की नीना वर्मा ने लेबड़ से मुलथान फोरलेन हाइवे ऊबड़-खाबड़ हो गया है। जिम्मेदार कंपनी टोल टैक्स वसूल रही है, लेकिन मेंटेनेंस नहीं करवा रही है। लोक निर्माण मंत्री रामपाल सिंह ने उनकी बात पर असहमति जताई। भाजपा के यशपाल सिंह सिसौदिया ने नीना का समर्थन किया।

गौर बोले, उद्यानिकी में हो रहा भ्रष्टाचार:
पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर ने कहा कि उद्यानिकी विभाग में लाभार्थियों के नाम जोडऩे-घटाने में भ्रष्टाचार हो रहा है। सूची उजागर होनी चाहिए। कांग्रेस के विजय सिंह सोलंकी ने खरगोन में उद्यानिकी विभाग की योजनाओं से लाभांवितों की सूची मांगी तो सरकार ने संख्या थमा दी।

 

Ad Block is Banned