जाते-जाते बड़ा ए​क झटका देकर जाएगा ये मानसून!, बदल देगा सारे समीकरण

Deepesh Tiwari

Publish: Sep, 16 2017 06:40:48 (IST)

Bhopal, Madhya Pradesh, India
जाते-जाते बड़ा ए​क झटका देकर जाएगा ये मानसून!, बदल देगा सारे समीकरण

मौसम विभाग ने आगामी 24 घंटों में कई स्थानों पर सामान्य से भारी बारिश की संभावना जताई हैं।

भोपाल। इस साल अब तक मध्यप्रदेश से मानसून रूठा सा रहा है। इसके चलते अधिकांश जिलों में औसत वर्षा भी नहीं हो सकी हैं, जिस कारण अधिकतर जिले इस वर्ष सूखे की चपेट में जाते दिख रहे हैं।

वर्षा में इस वर्ष हुई कमी के बावजूद मौसम वैज्ञानिक अभी भी मौसम से आस लगाए बैठे हैं। कई मौसम के जानकारों का मानना है कि इस साल सितंबर में जमकर बारिश होने के आसार बने हुए है। और तो और कुछ लोगों का तो यहां तक मानना है कि जाते—जाते मानसून इस बार प्रदेश को तगड़ा झटका देकर जा सकता है। जिसके कारण माना जा रहा है कि औसत बारिश की आस में बैठे लोगों के सारे समीकरण ही गड़बड़ा जाएंगे।

ये है अगले 24 घंटों का पूर्वानुमान:
मौसम विभाग ने आगामी 24 घंटों में कई स्थानों पर सामान्य से भारी बारिश की संभावना जताई हैं। मौसम विभाग के मुताबिक, बंगाल की खाड़ी से आ रही नमी के कारण राज्य में बादल छाने के साथ गरज-चमक के साथ बौछारें पड़ रही है। शनिवार की सुबह भी बादल छाए हुए हैं और गर्मी का असर कम हुआ है, लेकिन उमस बनी हुई है।

-वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक एसके डे ने बताया कि अरब सागर से नमी आ रही है। वहीं दो-तीन दिन बाद उड़ीसा के पास बने सिस्टम का असर यहां हो सकता है। इसके बाद एक और सिस्टम आने का अनुमान लगाया जा रहा है। ऐसे में सितंबर के बाकी दिनों में हल्की बारिश होने की संभावना बनी हुई है। वहीं जानकारी के अनुसार बारिश की वजह से कोलांस नदी में पांच फीट तक पानी बहने लगा है। इस वजह से बड़े तालाब का लेवल 1660.60 से बढ़कर 1660.70 फीट हो गया।

मौसम विभाग ने आगामी 24 घंटों में राज्य के खासतौर पर इंदौर,उज्जैन व शहडोल संभाग के कई हिस्सों में भारी बारिश होने का अंदेशा है। जबकि रीवा,उज्जैन, सीहोर, रायसेन, विदिशा, बैतुल, होशंगाबाद, डिडौरी व अनुपपुर में गरज-चमक के साथ बौछारें पड़ने की संभावना है। वहीं भोपाल, राजगढ़,हरदा, छिंदवाड़ा, सिवनी, बालाघाट, उमरिया, टीकमगढ़, सागर व दमोह में कुछ स्थानों पर भारी बारिश भी हो सकती है।

- राज्य में बादलों के छाने से तापमान में गिरावट आई है। शनिवार को भोपाल का न्यूनतम तापमान 23.6 डिग्री सेल्सियस, इंदौर का 21.5 डिग्री सेल्सियस, ग्वालियर का 25 डिग्री सेल्सियस और जबलपुर का न्यूनतम तापमान 24.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।
-वहीं शुक्रवार को भोपाल का अधिकतम तापमान 28.5 डिग्री सेल्सियस, इंदौर का 28 डिग्री सेल्सियस, ग्वालियर का 35.6 डिग्री सेल्सियस और जबलपुर का अधिकतम तापमान 32.3 डिग्री सेल्सियस रहा।

पिछले 24 घंटों (16 सितंबर, 2017) में शहरों में हुई वर्षा का आंकड़ा:
खण्डवा : 62.0, मण्डला : 58.0, रायसेन : 33.8, दमोह : 29.0, इंदौर : 21.2, धार : 15.2, रतलाम : 13.0, खरगौन : 10.5, पचमढ़ी : 6.0, मण्डला : 5.8, सागर : 5.0, शाजापुर : 4.0, भोपाल (शहर) : 3.4, उज्जैन : 3.4, बैतूल : 3.0, भोपाल (हवाई अड्डा) : 3.1, गुना : 1.2 मिलीमीटर वर्षा हुई।

IJ verma

नए मौसम निदेशक ने संभाला पद:
शनिवार को मौसम केन्द्र, भोपाल में आईजे वर्मा, ने निदेशक मौसम केन्द्र, भोपाल की हैसियत से पदभार ग्रहण कर लिया है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned