मौसमः नवंबर में कड़ाके की ठंड, कोहरे के साथ शीत लहर

- 8 साल में पहली बार ठंड ने नवम्बर में दी दस्तक
- उत्तर - पूर्व से आ रही हवा के कारण बढ़ रही ठंड

By: Hitendra Sharma

Updated: 17 Nov 2020, 09:18 AM IST

भोपाल. मध्य प्रदेश में रविवार को हुई बारिश के बाद अचानक मौसम में बदलाव (weather forecast) आ गया है। प्रदेश में कोहरा ( fog ) छाने के साथ ही शीतलहर ने दस्तक दे दी है। सोमवार को ही सूबे में ठण्डी हवाएं (cold weves)चलने लगी थी। मंगलवार को सुबह से (weather update) ही कोहरे की चादर ने प्रदेश के शहर और गांव को अपने आगोस में ले लिया, जिससे ठण्ड बढ़ गई। सबह से उठते ही लोगों को कोहरा और ठंडी हवा ने लोगों को ऊनी कपड़ों पहनने पर मजबूर कर दिया। गांव में अलाव जलने लगे हैं।

बर्फबारी के चलते मौसम में बदलाव
मध्यप्रदेश में लगातार दिन पर दिन ठंड बढ़ती जा रही है। सर्द हवाएं चलने से रात के समय ठंडका जलवा बरकरार है, अब दिन के मौसम का मिजाज बदल गया। मौसम विभाग का कहना है कि उत्तर भारत के पहाड़ों पर जबरदस्त बर्फबारी के चलते मौसम में बदलाव आया है साथ ही रविवार को हुई बारिश के बाद पूरे मध्य प्रदेश में कड़ाके की ठंड पड़ सकती है। कई स्थानों पर शीतलहर भी चल सकती है।

8 साल में पहली बार पड़ रही ऐसी ठंड
भोपाल में तापमान की बात करें तो रात का तापमान सामान्य से कम रिकॉर्ड हुआ। यह इस सीजन में अब तक रात का सबसे कम तापमान है। नवंबर माह के पहले दिन से पड़ रही ठंड दीपावली के बाद से और अधिक तेजी से बढ़ गई है।

बदल रहा है हवा का रुख
मध्य प्रदेश के पांच शहरों में रात का तापमान पहले ही 10 डिग्री से नीचे पहुंच गया था। सूबे में शाम होते ही ठंड का बढ़ने का सिलसिला शुरु हो जाता है। शुरुआती तीन घंटे में ही पारा 7 से 8 डिग्री तक नीचे आ जाता है। बता दें कि हवा का रुख उत्तर-पूर्वी हो रहा है। इस दिशा से सूखी व ठंडी हवा आने से ही पारा तेजी से नीचे आता है। नमी व ओसांक बिंदु भी कम है। तेज ठंड पड़ने के यही तीन खास कारण हैं। अभी दो-तीन दिन तापमान में और गिरावट आने की संभावना है।

Imd weather forecast
Show More
Hitendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned