छत और बालकनी पर सज रहीं संगीत की महफिल

यंगस्टर्स म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट्स पर कर रहे परफॉर्म

By: hitesh sharma

Published: 18 Apr 2020, 09:49 PM IST

भोपाल। कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के कारण खुशी में डूबा रहने वाला और जश्न मनाता हमारा शहर खामोश हो गया है। यहां म्यूजिक के शौकिनों की हर शाम महमिलें जमी मिल जाती हैं लेकिन अब ये सूने पड़े हैं। शहर की सड़कों पर सन्नाटा पसरा है। यह खामोश सड़कें और सन्नाटे मन को डरा रहे हैं। ऐसे में शहर के यंगस्टर्स ने एक अनोखी पहल की है। सिटी यंगस्टर्स अपने घर के आंगन, छत, बालकनी और खिड़की पर अपने-अपने फेवरेट सिंगर्स के सॉन्ग्स गा रहे हैं। जिससे उनका संगीत न सिर्फ उन्हें बल्कि उनके पड़ोसियों को भी एक सुकून दे रहा है। इन युवाओं की यह पहल एक उम्मीद है कि एक दिन शहर फिर खिल-खिलाएगा, हम सब मिलकर नए संगीत गुनगुनाएंगे। कुछ जगह पर नजारा ऐसा होता है कि पड़ोसी घर की बालकनी में आकर ध्यान से उनके गीत सुनने जा रहे और तालियां बजाकर उन्हें मोटिवेट कर रहे हैं।

मन को सुकून और शांति मिलती है
मुझे शुरू से ही म्यूजिक का शौक रहा है। लॉकडाउन के दौरान म्यूजिक की क्लास अभी बंद है, इसलिए घर के आंगन में अपनी फैमिली के साथ संगीत का आनंद लेता हूं, जिससे आस-पास के लोगों का मनोरंजन भी हो जाता है। लोगे जब मेरे इस संगीत पर तालियां बजाते हैं तो मन को सुकून और शांति मिलती है।
स्वप्निल पटेरिया, मिनाल रेसीडेंसी

छत और बालकनी पर सज रहीं संगीत की महफिल

हर दिन शाम को परफॉर्म करता हूं
लॉकडाउन डाउन के दौरान के बीच सबसे बड़ी परेशानी है, टाइम पास नहीं होना। मैं लोगों का मनोरंजन करने के लिए घर की बालकनी में गिटार के साथ पंसदीदा गाने गाता हूं। इसमें ज्यादातर किशोर कुमार, मुकेश के गाने होते हैं, जो सभी को पंसद आ रहे हैं। जिससे मेरे कॉलोनी में लोगों का मनोरंजन भी हो रहा है। मैं हर दिन शाम को परफॉर्म करता हूं।
अमन सक्सेना, न्यू सुभाष नगर

छत और बालकनी पर सज रहीं संगीत की महफिल

वीडियो को सोशल मीडिया पर भी शेयर करता हूं
मैं जब भी फ्री होता हूं तो गिटार के साथ कुछ गाने गुनगुनाता हूं। मैं अपने वीडियो को सोशल मीडिया पर भी शेयर करता हूं। फिलहाल लॉकडाउन में घर की छत पर ही गिटार के साथ कुछ नए और पुराने गाने गाता हूं। जिससे पड़ोसियों का भी मनोरंजन होता है और मेरा भी।
विकास विश्वकर्मा, राजेंद्र नगर

छत और बालकनी पर सज रहीं संगीत की महफिल

म्यूजिक के माध्यम से स्ट्रेस फ्री कर रहा हूं
मैं राब्ता बैंड में रिद्म गिटारिस्ट और वॉकलिस्ट हूं। बच्चों को गिटार सिखाता हूं। जिस दिन जनता कफ्र्यू लगा था तब लोगों का संगीत से बहुत मनोरंजन किया था। फिलहाल घर पर रियाज करने के साथ पड़ोसियों को भी अपने म्यूजिक के माध्यम से स्ट्रेस फ्री कर रहा हूं।
शादाब पठान, जहांगीराबाद

hitesh sharma Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned