भारत में राष्ट्रीय पक्षी मोर को मिलता है ऐसा सम्मान, प्रोटोकाल के तहत होती है अंतिम विदाई

भारत का राष्ट्रीय पक्षी है मोर, आपने पहले नहीं देखा होगा मोर की अंतिम विदाई का यह दृश्य...।

By: Manish Gite

Published: 06 Jun 2020, 02:01 PM IST

 

भोपाल। भारत के राष्ट्रीय पक्षी (national bird peacock) का इतना सम्मान है यह इस वीडियो में देखा जा सकता है। पुलिस के जवान भी राष्ट्रीय पक्षी मोर की मौत के बाद किस प्रकार से सम्मान देकर अंतिम विदाई दे रहे हैं।

पिछले कुछ दिनों से यह वीडियो वायरल हो रहा है। वीडियो कहां का है यह पता नहीं चल पाया है। लेकिन, इस वायरल वीडियो में देख सकते हैं कि एक राष्ट्रीय पक्षी मोर का प्रोटोकाल के तहत अंतिम संस्कार किया जाता है। इससे पहले भी कई बार राष्ट्रीय पक्षी मोर की मौत के बाद श्मशान में सम्मान के साथ दाह संस्कार किया जा चुका है। हाल ही में राजस्थान के भरतपुर में भी एक मोर की मौत के बाद राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया था।

 

एक नजर- राष्ट्रीय पक्षी मोर
-दुनिया के सुंदर पक्षियों में से एक है मोर। इसके सिर पर मुकुट होने के कारण इसे पक्षी राज भी कहा जाता है।
-इसके सिर पर मुकुट के समान कलगी और रंगबिरंगी इंद्रधनुषी रंग होने से यह अति संदुर दिखाई पड़ता है।
मयूर परिवार में मोर एक नर है और मादा को मोरनी कहा जाता है।
-एक मोर औसतन 20 साल जिंदा रहते हैं।
-भारत सरकार ने 26 जनवरी 1963 को इसे राष्ट्रीय पक्षी घोषित किया था।
-इन्हें न केवल धार्मिक तौर पर बल्कि संसदीय कानून ‘भारतीय वन्यजीव संरक्षण अधिनियम 1972’ के तहत सुरक्षा प्रदान की गई है।
-इंडियन वाइल्ड लाइफ प्रोटेक्शन एक्ट, 1972 के तहत मोर या किसी भी क्षी को मारने पर 7 साल की सजा का प्रावधान है।

Show More
Manish Gite
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned