राष्ट्रीय मतदाता दिवस: जानें आपके प्रदेश में कुल कितने वोटर्स, क्यों मनाया जाता है मतदाता दिवस

राष्ट्रीय मतदाता दिवस का उद्देश्य लोगों को मतदान और वोटर के रूप में उनके अधिकारों के प्रति जागरूक बनाना है।

By: Pawan Tiwari

Published: 25 Jan 2021, 02:44 PM IST

भोपाल. आज राष्ट्रीय मतदाता दिवस है। देश में हर साल 25 जनवरी को राष्ट्रीय मतदाता दिवस के रूप में मनाया जाता है। इसका उद्देश्य लोगों को मतदान और वोटर के रूप में उनके अधिकारों के प्रति जागरूक बनाना है।

2011 से शुरू हुआ था मतदाता दिवस
देश में राष्ट्रीय मतदाता दिवस बनाने की शुरुआत 2011 हुई थी। इसके बाद हर साल 25 जनवरी को इसे मनाया जाता है। मतदाता दिवस पर सरकारों और विभिन्न संगठनों की ओर से कार्यक्रम किए जाते हैं और मतदाता को उनके अधिकार के बारे में जानकारी दी जाती है। इसके साथ ही उन्हें मतदान करने के लिए भी प्रेरित किया जाता है।

मध्यप्रदेश में कितने मतदाता
मध्यप्रदेश में इसी महीने राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा फोटोयुक्त मतदाता सूची का अंतिम प्रकाशन किया गया है। संयुक्त मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी धरणेन्द्र कुमार जैन के अनुसार वोटर लिस्ट के फाइनल प्रकाशन के समय मध्यप्रदेश में कुल 5 करोड़ 30 लाख 64 हजार 142 मतदाता हैं। इनमें दो करोड़ 75 लाख 41 हजार 281 पुरूष, दो करोड़ 55 लाख 21 हजार 381 महिला तथा 1480 थर्ड जेंडर मतदाता हैं।

प्रदेश की जनसंख्या का लिंगानुपात 931 की तुलना में मतदाताओं का लिंगानुपात 927 हैं। इसी प्रकार कुल सर्विस मतदाता 75136 है। प्रदेश के मतदाताओं का जनसंख्या पर अनुपात 63.21 प्रतिशत है। जबकि 64 हजार 592 मतदान केन्द्र हैं।

वोटर लिस्ट का प्रारूप प्रकाशन 25 नवम्बर 2020 के समय प्रदेश की समस्त 230 विधानसभा क्षेत्रों में कुल 5 करोड़ 22 लाख 20 हजार 675 मतदाताओं के नाम दर्ज थे। पुनरीक्षण के दौरान 11 लाख 67 हजार नये मतदाता जोड़े गये जबकि तीन लाख 24 हजार मतदाताओं के नाम मृत्यु, स्थान परिवर्तन, दोहरे पंजीकरण आदि के कारण हटायें गये। इस प्रकार कुल 8 लाख 43 हजार मतदाताओं की बढ़ोत्तरी हुई है।

Pawan Tiwari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned