मोक्ष के लिए चाहिए पास, इंतजार में रखे अस्थि कलश

- मोक्ष के लिए 200 से ज्यादा आवेदन पेंडिंग, अलग-अलग कार्यों के लिए अब तक आए कुल 37737 आवेदन, 1954 को ही मिली अनुमति, 22987 रिजेक्ट

प्रवेंद्र तोमर. कोरोना काल में सामान्य मृत्यु को प्राप्त हो रहे लोगों की अस्थियों को मोक्ष दिलाने के लिए पास की जरूरत पड़ रही है। शहर के अलग-अलग विश्राम घाटों में रखे 500 से ज्यादा अस्थिकलश को विसर्जित करने के लिए इनके परिजनों ने पास के लिए प्रशासन को आवेदन कर रखे हैं। 200 से ज्यादा आवेदन सिर्फ अस्थी कलश के लिए बाहर जाने की अनुमति के ही पेंडिंग हैं। लोग सीएम हेल्प लाइन में फोन लगाकर इसकी अनुमति के बारे में पूछते हैं, लेकिन आसानी से अनुमतियां जारी नहीं हो रहीं। सिर्फ होशंगाबाद नर्मदा घाट की परमिशन मिल जाती है। वो भी कड़े प्रयासों से। हरिद्वार जाने को लेकर कोई अनुमति जारी नहीं हो रही।

शहर में भदभदा, प्रेम कुटी छोला, सुभाष नगर, कोलार, अशोका गार्डन सहित कई बड़े विश्राम घाट और बड़ी संख्या में छोटे-छोटे विश्राम घाट हैं। ग्रामीण क्षेत्र में घाटों का संचालन पंचायतें भी करती हैं। श्री विश्राम घाट ट्रस्ट के महामंत्री प्रमोद चुघ बताते हैं कि जब से लॉकडाउन हुआ है, उसके बाद नाम मात्र ही अस्थिकलश का विसर्जन किया जा रहा है। बड़ी संख्या में अस्थियां विश्राम घाट के लॉकर रूम में ही रखी हुईं हैं। क्योंकि अनुमति आसानी से नहीं मिल रही। खासकर एक स्टेट से दूसरे स्टेट में जाने की अनुमति तो बिल्कुल ही नहीं दी जा रही।

शहर में यहां है ये स्थिति

सुभाष नगर विश्राम घाट पर विसर्जन के लिए करीब 200 अस्थिकलश रखे हुए हैं। छोला में 150, भदभदा में 100। इसी प्रकार कोलार, अशोका गार्डन, बैरागढ़ विश्राम घाटों में जलाए जा रहे शवों की अस्थियां भी विसर्जन के इंतजार में रखी हुईं हैं। यही नहीं उनके तेरहवीं के भोज भी लॉकडाउन खुलने के बाद विधिवत किए जाएंगे।

ये है पास की स्थिति
लॉकडाउन के बाद ई पास की जब से व्यवस्था की गई है उसके बाद से अब तक 37737 आवेदन प्राप्त हुए हैं। इसमें से मात्र 1954 को ही अनुमति मिली है। 22987 आवेदन रिजेक्ट कद दिए गए हैं। जो पेंडिंग हैं उसमें से बड़ी संख्या में एक राज्रू से दूसरे राज्य में फंसे लोगों को लाने के हैं।

प्रवेंद्र तोमर Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned