scriptnew chief minister name shivraj singh chauhan, narendra singh tomar, prahlad patel bjp legislative party meeting | आज का सबसे बड़ा सवाल, कौन बनेगा मुख्यमंत्री? शिवराज, तोमर या प्रहलाद...। | Patrika News

आज का सबसे बड़ा सवाल, कौन बनेगा मुख्यमंत्री? शिवराज, तोमर या प्रहलाद...।

locationभोपालPublished: Dec 11, 2023 08:08:01 am

Submitted by:

Manish Gite

new chief minister name - शाम 4 बजे तय हो जाएगा मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री का नाम...।

mp-shivraj.png
मध्यप्रदेश का नया मुख्यमंत्री कौन?

मध्यप्रदेश में मुख्यमंत्री कौन होगा, यह कुछ ही घंटों में तय हो जाएगा। अभी भी संशय बना हुआ है कि मध्यप्रदेश की कमान भाजपा किसको देगी। क्या शिवराज सिंह चौहान वापस मुख्यमंत्री बनेंगे या फिर केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर या प्रहलाद पटेल में कोई एक नया मुख्यमंत्री होगा। हालांकि सवाल यह भी है कि क्या भाजपा नए नाम को लाकर चौंका भी सकती है। फिलहाल नाम को लेकर कुछ भी स्पष्ट नहीं है। सबकी निगाहें शाम 4 बजे होने वाली भाजपा की विधायक दल की बैठक पर हैं, जिसमें मुख्यमंत्री के चेहरे से सस्पेंस खत्म हो जाएगा।

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर की अगुवाई में तीन केंद्रीय पर्यवेक्षक भाजपा विधायकों से रायशुमारी कर शीर्ष नेतृत्व के नाम पर मोहर लगवाएंगे। इसके बाद सीएम चेहरे का ऐलान होगा। छत्तीसगढ़ में आदिवासी चेहरे को सीएम और दो डिह्रश्वटी सीएम का फॉर्मूला देकर बड़ा संदेश दिया है। इससे प्रदेश में डिह्रश्वटी सीएम फॉर्मूला लागू होने की संभावना बढ़ गई है। छग में आदिवासी चेहरे को सीएम बनाने के बाद मध्यप्रदेश में सामान्य या ओबीसी वर्ग के चेहरे को सीएम बनाने की संभावना ज्यादा है।

नए सीएम का गणित

लोकसभा चुनाव पर टिका है। पीएम का लक्ष्य मप्र की सभी 29 सीट जीतने का है। इसी हिसाब से चेहरे भी तय होंगे, जो जीत का रथ आगे बढ़ा सके।

सिंधिया खेमा

सिंधिया की 2020 में सरकार बनने में अहम भूमिका थी, इस बार सिंधिया को सीधे तौर पर प्रदेश में कोई पद नहीं मिला तो उनका कोई समर्थक, डिप्टी सीएम से लेकर मंत्रिमंडल के किसी बड़े पोर्टफोलियो का दावेदार रहेगा।

पीएम को पसंद लोप्रोफाइल नेता

मोदी-शाह को लो-प्रोफाइल नेता पसंद हैं। इनमें वीरेंद्र खटीक जैसे नाम शामिल हैं। यह फॉर्मूला चला तो ऐसे चेहरे की लॉटरी खुल सकती है।

1. यदि शिवराज ही निरंतर सीएम होते हैं तो दो डिप्टी सीएम ओबीसी के अलावा दूसरी जाति के होंगे। एक सामान्य और दूसरा दलित या आदिवासी हो सकता है। महिला को प्राथमिकता मिल सकती है।

2. सीएम शिवराज को हटाते हैं तो ओबीसी, दलित या सामान्य चेहरे को मौका। केंद्र से आए नेता को प्राथमिकता मिल सकती है। इसमें भी दो डिह्रश्वटी सीएम और उसमें एक महिला का गणित रहेगा।

ट्रेंडिंग वीडियो