scriptngt hearing | भोपाल में रेस्टोरेंट बिना अनुमति के खुले में तंदूर जलाकर दू​षित कर रहे हवा, एनजीटी ने मांगा जवाब | Patrika News

भोपाल में रेस्टोरेंट बिना अनुमति के खुले में तंदूर जलाकर दू​षित कर रहे हवा, एनजीटी ने मांगा जवाब

locationभोपालPublished: Oct 14, 2023 01:09:46 am

कलेक्टर, निगमायुक्त सहित 10 से अधिक रेस्टोरेंट को नोटिस, जांच के लिए तीन सदस्यीय समिति भी बनाई

ngt.jpg
भोपाल. राजधानी में सड़क किनारे चलने वाले खान-पान के ठेले और कई रेस्टोरेंट न तो प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड से अनुमति ले रहे हैं और न पर्यावरण नियमों का पालन कर रहे हैं। वे बिना किसी अनुमति के खुले में जहरीला धुआं उड़ा रहे हैं और अपने यहां का पानी भी बिना ईटीपी में ट्रीट किए सीधे नालों में मिला रहे हैं। इस संबंध में एनजीटी ने जिला कलेक्टर, नगर निगम आयुक्त के साथ 10 से अधिक रेस्टोरेंट को नोटिस जारी किया है। इसमें जवाब मांगा है कि यह रेस्टोरेंट किसकी अनुमति से खुले में धुआं उड़ा रहे हैं। जांच के लिए एक समिति भी गठित की गई है। इसमें नगर निगम, सीपीसीबी और फूड सेफ्टी विभाग के प्रतिनिधियों को शामिल किया गया है।
नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल सेंट्रल जोन बेंच ने प्रतीक भोंसले की पत्र याचिका पर संज्ञान लेकर यह निर्देश दिए हैं। याचिका में बताया गया है कि सड़क किनारे चलने वाले रेस्टोरेंट्स द्वारा स्थापना और संचालन के लिए कोई अनुमति नहीं ली जा रही है। इनके द्वारा सीपीसीबी द्वारा जारी गाइडलाइन का भी पालन नहीं किया जा रहा है। यह बाहर खुले में रखे तंदूर में लकड़ी और कोयला जलाकर धुआं उड़ा रहे हैं। इसके लिए प्रॉपर डक्टिंग और हुड का इंतजाम भी नहीं है। इन पर खुले में मांस और अन्य खाद्य सामग्री बनाई जा रही है। इससे बड़ी मात्रा में जहरीला धुआं सीधे हवा में मिल रहा है।
Copyright © 2023 Patrika Group. All Rights Reserved.