scriptNGT order | एनजीटी ने मांगा जवाब- भोपाल के कोलार रोड निर्माण में क्यों नहीं हो रहे धूल और प्रदूषण रोकने के इंतजाम | Patrika News

एनजीटी ने मांगा जवाब- भोपाल के कोलार रोड निर्माण में क्यों नहीं हो रहे धूल और प्रदूषण रोकने के इंतजाम

locationभोपालPublished: Nov 04, 2023 07:11:20 pm

नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल ने ईको फ्रेंडली निर्माण प्रक्रिया अपनाने के दिए निर्देश ताकि प्रदूषण कम हो सके, जांच के लिए भी बनाई एक समिति

kolar_road.jpg
राजधानी में कोलार सिक्सलेन सड़क निर्माण में पर्यावरण नियमों का उल्लंघन हो रहा है। यहां बिना किसी नियंत्रक उपायों के काम चल रहा है इसलिए चारों ओर धूल उड़ रही है, इसके साथ ध्वनि प्रदूषण से भी रहवासी परेशान हैं। इसका असर रहवासियों के स्वास्थ्य पर भी पड़ रहा है। पत्रिका ने कई बार इस मुद्दे को प्रमुखता से उठाया है। इसके बाद पत्र याचिका के माध्यम से यह शिकायत एनजीटी को की गई थी। इसके बाद ट्रिब्यूनल ने राज्य शासन, नगर निगम, लोक निर्माण विभाग आदि से जवाब तलब किया है। इसके साथ जांच के लिए एक संयुक्त समिति भी गठित की है। रोड निर्माण करने वाली एजेंसी को इको फ्रेंडली निर्माण विधियों को अपनाने के निर्देश दिए हैं।
एनजीटी सेंट्रल जोन बेंच के समक्ष यह पत्र याचिका नितिन सक्सेना ने प्रस्तुत की है। ट्रिब्यूनल ने निर्देश दिए हैं कि प्रोजेक्ट का काम कर रही एजेंसी धूल नियंत्रण, ध्वनि प्रदूषण रोकने के उपायों के साथ उचित वेस्ट मैनेजमेंट का इंतजाम करे। कोलार रोड पर प्रदूषण की सतत निगरानी और रिपोर्टिंग की भी व्यवस्था होना चाहिए ताकि पर्यावरणीय मापदंडों का पालन हो सके।
Copyright © 2023 Patrika Group. All Rights Reserved.