राजधानी का एक ऐसा क्षेत्र जहां हर माह 800 रुपए लेने के बाद भी मेंटेनेंस नहीं

गौरी शंकर कौशल आवासीय परिसर

By: दीपेश तिवारी

Published: 24 May 2018, 08:11 PM IST

भोपाल/कटारा हिल्स। बीडीए ने बर्रई स्थित गौरी शंकर कौशल आवासीय परिसर का मेंटेनेंस वर्क दो साल के लिए अकाल इंटरप्राइजेज को ठेके पर दिया है। कंपनी रहवासियों को कॉल कर वन-बीएचके का 550 और टू-बीएचके का 800 रुपए प्रतिमाह के हिसाब से मेंटेनेंस चार्ज एडवांस में मांगा जा रहा है। रहवासियों का आरोप है कि कंपनी चार से पांच माह का चार्ज एडवांस में मांग रही है। मेंटेनेंस के नाम पर गेट पर सिर्फ दो सिक्योरिटी गार्ड बैठाए हैं। डोर टू डोर कचरा कलेक्शन भी नहीं किया जा रहा है। वहीं अकाल इंटरप्राइजेज के मैनेजर का दावा है कि सभी काम विधिवत हो रहे हैं, रहवासी व्यर्थ में मेंटेनेंस नहीं होने के आरोप लगा रहे हैं।

एप्रोच रोड भी खराब

गौरी शंकर कौशल आवासीय परिसर में करीब एक हजार परिवार रहने पहुंच गए हैं। परिसर की एप्रोच रोड बहुत खराब है। रहवासी एप्रोच रोड के निर्माण को लेकर करीब पांच बार बीडीए के अफसरों से शिकायत कर चुके, लेकिन सुनवाई नहीं हो रही है। एप्रोच रोड के नहीं बनने से बारिश के दौरान रहवासियों को आवाजाही में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ेगा।

परिसर में जगह-जगह फैला कचरा, टाइल्स भी टूटे पड़े

बीडीए के बर्रई स्थित आवासीय परिसर में वन-बीएचके और टू-बीएचके मिलाकर 1800 फ्लैट हैं। रहवासी लंबे समय से बीडीए के अधिकारियों से मेंटेनेंस नहीं होने की शिकायत कर रहे हैं। इसके बाद भी इस ओर ध्यान नहीं दिया जा रहा है। रहवासी शशिनारायण शुक्ला ने बताया कि आवासीय परिसर में जगह-जगह कचरा पड़ा है। चेंबर खुले पड़े हैं। डोर टू डोर कचरा कलेक्शन भी नहीं हो रहा है। परिसर में कई जगह टाइल्स भी टूटी पड़ी हैं, लेकिन एजेंसी मेंटेनेंस नहीं कर रही हैं। निजी एजेंसी ने सिर्फ छह सिक्योरिटी गार्ड तैनात किए हैं, जो तीन शिफ्ट में गेट पर बैठे रहते हैं।

साफ-सफाई के लिए 10 कर्मचारी लगाए गए हैं। सिक्योरिटी गार्ड, प्लंबर और इलेक्ट्रीशियन की सुविधा भी उपलब्ध कराई है। मेंटेनेंस के सभी काम विधिवत कराए जा रहे हैं। यदि किसी को दिक्कत है तो वह सीधे मुझसे शिकायत कर सकता है, मैं परमानेंट यहीं रहता हूं।
-राकेश जाटव, सुपरवाइजर अकाल इंटरप्राइजेज

मेंटेनेंस के नाम पर कुछ नहीं किया जा रहा है
निजी कंपनी द्वारा मेंटेनेंस के नाम पर कुछ भी नहीं किया जा रहा है। पूरे परिसर में कांच और कचरा पड़ा है। मेंटेनेंस चार्ज के लिए दबाव बना जा रहा है। कह रहे हैं कि मेंटेनेंस चार्ज जमा नहीं करोगे तो बिजली और पानी सप्लाई बंद कर देंगे।
-अखिलेश बिल्लोरे, रहवासी 22/303 ईडब्ल्यूएस

कांच टूटने की शिकायत दो माह से कर रहा हूं
बीडीए ने शिफ्टिंग के लिए पहले दिन से दबाव बनाया, लेकिन काम अभी तक कुछ नहीं किया गया है। मेरे घर की खिडक़ी का कांच टूटा है। दो माह से शिकायत कर रहा हूं, लेकिन सुनवाई नहीं हो रही है। अकाल इंटरप्राइजेज वाले को भी बताया, लेकिन अभी तक काम नहीं किया गया।
-दिलीप यादव, रहवासी 22/204 ईडब्ल्यूएस

Show More
दीपेश तिवारी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned