नोटबंदी: बैंकों में लाखों रुपए डिपोजिट कराने वालों पर आयकर का शिकंजा, जानें किन पर होगी कार्रवाई

नोटबंदी: बैंकों में लाखों रुपए डिपोजिट कराने वालों पर आयकर का शिकंजा, जानें किन पर होगी कार्रवाई
Income Tax,bhopal,mp

sanjana kumar | Publish: Jan, 04 2017 10:43:00 AM (IST) Bhopal, Madhya Pradesh, India

आयकर विभाग ने बैंकों से ऐसे लोगों की जानकारी मांगी है, जिन्होंने नोटबंदी के दौरान 40 लाख रुपए से अधिक राशि जमा करवाई है।

भोपाल। नोटबंदी के दौरान लाखों रुपए की राशि बैंकों में जमा करने वालों पर नजर रख रहे आयकर विभाग ने आखिरकार उन पर शिकंजा कसने की तैयारी कर ली है। दरअसल विभाग ने बैंकों से ऐसे लोगों की जानकारी मांगी है, जिन्होंने नोटबंदी के दौरान 40 लाख रुपए से अधिक राशि जमा करवाई है।

आयकर विभाग ने इस संदर्भ के नोटिस प्रदेश के सभी बैंकों को भेज दिए हैं। नोटिस में बैंकों को सात दिन का समय दिया गया है। यानी सप्ताह भर में सभी बैंकों को इन लोगों की जानकारी विभाग को देनी होगी। 

2 जनवरी को भेजे नोटिस
इस संबंध में आयकर विभाग की इंटेलीजेंस एंड क्रिमिनल इन्वेस्टिगेशन विंग की ओर से 2 जनवरी को प्रदेश के सभी बैंकों को नोटिस भेजे गए थे। मंगलवार को ये नोटिस बैंकों के अधिकारियों को मिले।

फास्ट ट्रैक पर होगी कार्रवाई
जानकारी के मुताबिक आयकर विभाग फास्ट ट्रैक पर सारी कार्रवाई करना चाहता है। इसलिए वह सीधे बैंकों को नोटिस भेज रहा है। अन्यथा उसके बैंगलुरू स्थित सेंट्रल सर्वर में बैंक के सारे डिपॉजिटर्स की जानकारी है। लेेकिन यह जानकारी पेनकार्ड के आधार पर निकलती है। पर कई डिपॉजिटर ऐसे हैं, जिनके पास पेनकार्ड नहीं है। आशंका है कि इन लोगों के बैंक खाते में भी बड़े पैमाने पर पैसा जमा हुआ है। इसलिए विभाग सीधे बैंकों को नोटिस दे रहा है। 

पहले ही मिल चुकी है जानकारी 
माना जा रहा है कि आयकर विभाग को एक करोड़ से ज्यादा रुपए जमा करने वाले 400 लोगों की जानकारी पहले ही मिल चुकी है। 


दूसरे और तीसरे चरण में ये लोग शामिल
अब दूसरे चरण में 10 लाख रुपए से अधिक जमा कराने वालों और तीसरे चरण में 2.5 लाख व चौथे चरण में ऐसे सभी लोगों की जानकारी एकत्र की जाएगी, जिन्होंने 50 हजार रुपए तक जमा कराए हैं। पर ये वे लोग हैं, जिन्होंने पेन कार्ड ही नहीं बनवाए हैं।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned