scriptनिर्माण के लिए अब भवन अनुज्ञा के साथ खनिज की एनओसी भी लगेगी | Now along with building permit, mineral NOC will also be required for construction | Patrika News
भोपाल

निर्माण के लिए अब भवन अनुज्ञा के साथ खनिज की एनओसी भी लगेगी

इंट्रो…राजधानी में निर्माण के साथ अब खनिज की एनओसी भी लगेगी। ऐसा इसलिए क्योंकि शहर में अरेरा हिल्स, श्यामला हिल्स से लेकर टीटी नगर, एमपी नगर तक खुदाई में पत्थर निकलते हैं तो रातीबड़- नीलबड़ और संबंधित पठारी क्षेत्रों में मुरम निकलती है। इसे खनिज की श्रेणी में मानते हुए शिकायतें जिला प्रशासन के पास […]

भोपालJul 03, 2024 / 11:02 am

देवेंद्र शर्मा

इंट्रो…राजधानी में निर्माण के साथ अब खनिज की एनओसी भी लगेगी। ऐसा इसलिए क्योंकि शहर में अरेरा हिल्स, श्यामला हिल्स से लेकर टीटी नगर, एमपी नगर तक खुदाई में पत्थर निकलते हैं तो रातीबड़- नीलबड़ और संबंधित पठारी क्षेत्रों में मुरम निकलती है। इसे खनिज की श्रेणी में मानते हुए शिकायतें जिला प्रशासन के पास पहुंच रही। ऐसे में अब ऐसी जगह पर निर्माण के लिए खनिज की एनओसी के साथ खुदाई में निकलने वाले पदार्थ खनिज विभाग को ही देना होंगे। यदि निर्माणकर्ता इसे बेचता है तो फिर इसके एवज में तय रॉयल्टी जमा करना होगी। इसे लेकर जल्द ही नोटिस जारी होंगे।
यहां खुदाई में पत्थर-मुरम

  • अरेरा हिल्स, श्यामला हिल्स, इदगाह हिल्स पर पत्थर
  • टीटी नगर में लाल पत्थर
  • नीलबड़-रातीबड़ व संबंधित पठारों में मुरम
  • अयोध्या बायपास व संबंधित क्षेत्रों में पत्थर-मुरम
इसलिए जरूरी एनओसी
  • पठारी- पहाड़ी क्षेत्र में निकले पत्थरों का बाजार में अच्छा मूल्य है। खनिज विभाग इसके लिए खदाने लीज पर देता है। रॉयल्टी वसूलता है। ऐसे में यदि किसी निजी निर्माण में पत्थर या मुरम निकलती है तो शिकायतें मिली है कि वह उसकी बिक्री करता है। ऐसे में विभाग की कोशिश है कि पत्थर-मुरम को लेकर एनओसी ली जाए, रॉयल्टी या फिर जो पत्थर-मुरम निकले उसे विभाग को दिया जाए।
कोट्स
खनन को लेकर शिकायतें आ रही है। खनिज विभाग के नियमों के अनुसार ही कोई पत्थर-मुरम की खुदाई और विक्रय हो। इसे सुनिश्चित करेंगे। बड़े निर्माणों में बल्क खुदाई होती है, वहां ध्यान दिया जाएगा।
  • अशोक नागरे, प्रभारी खनिज अधिकारी

Hindi News/ Bhopal / निर्माण के लिए अब भवन अनुज्ञा के साथ खनिज की एनओसी भी लगेगी

ट्रेंडिंग वीडियो