अपने गढ़ की ओर भाजपा: संगठन का फोकस भोपाल पर, अमित शाह के रोड शो में होगा शक्ति प्रदर्शन

राष्ट्रीय महासचिव अनिल जैन ने लिया तैयारियों का जायजा, ताकि न रहे कोई गुंजाइश...

भोपाल। प्रदेश में दूसरे चरण का मतदान खत्म होते ही भाजपा ने भोपाल सीट पर फोकस कर लिया है। दरअसल भोपाल लोकसभा में करीब पिछले तीन दशक से भाजपा का ही कब्जा बना हुआ है। जिसके चलते यह भाजपा का गढ़ भी कहलाती है।

ऐसे में यहां 8 मई को राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह का रोड शो होना है। इसे सफल बनाने के लिए भाजपा राष्ट्रीय महासचिव और शाह के दौरों के प्रभारी अनिल जैन ने सोमवार को भोपाल में तैयारियों को जांचा।

उधर, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और गुजरात प्रभारी ओमप्रकाश माथुर ने भी भोपाल में डेरा डाल लिया है। वे चुनाव होने तक मप्र में रहेंगे। संगठन को भोपाल में स्थानीय नेताओं के असहयोग की शिकायतें मिल रही हैं।

Amit Shah

पिछले दिनों राष्ट्रीय संगठन महामंत्री रामलाल ने भोपाल में विधायकों और पार्षदों की क्लास ली थी। ऐसे में भाजपा को डर है कि कहीं शाह का रोड शो फ्लॉप न हो जाए।

भाजपा शाह के इस रोड शो से पूरे प्रदेश में पार्टी की ताकत का संदेश देना चाहती है। सोमवार को रोड शो में अलग-अलग इलाकों में भीड़ जुटाने को लेकर रणनीति बनती रही।

राष्ट्रीय उपाध्यक्ष: इस तरह बांटी गई है जिम्मेदारी...

1- विनय सहस्त्रबुद्धे : प्रदेश प्रभारी भोपाल में डटे हैं। हर सीट पर नजर।

2- ओमप्रकाश माथुर: गुजरात प्रभारी, मप्र में रणनीति संभालेंगे। पहले एमपी के प्रभारी रह चुके हैं।

3- प्रभात झा: चुनाव में विंध्य और मध्य क्षेत्र की सीटों पर ध्यान केंद्रित कर रखा है।

4- शिवराज सिंह चौहान: स्टार प्रचारक के रूप में हर सीट पर पहुंचे। रणनीति बनाने में अहम भूमिका है।

5- उमा भारती: संगठनात्मक रणनीति से दूर, लेकिन स्टार प्रचारक की भूमिका में।

11 में से 5 उपाध्यक्ष मप्र में...
भाजपा के 11 राष्ट्रीय उपाध्यक्षों में से पांच मप्र में तैनात हैं। इसमें से कुछ स्टार प्रचारक हैं तो कुछ प्रदेश कार्यालय में रणनीतिक तैयारियों में जुटे हैं। भाजपा को डर है कि प्रदेश में सीटें कम हो सकती हैं। ऐसे में पार्टी बाकी 16 सीटों पर पूरी ताकत लगा रही है।

Amit Shah
Show More
दीपेश तिवारी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned