कलेक्टर के ना के बाद मिर्ची बाबा की नई'नौटंकी', 20 जून से नहीं खाएंगे खाना

कलेक्टर के ना के बाद मिर्ची बाबा की नई'नौटंकी', 20 जून से नहीं खाएंगे खाना

Pawan Tiwari | Updated: 16 Jun 2019, 07:10:09 PM (IST) Bhopal, Bhopal, Madhya Pradesh, India

भोपाल कलेक्टर ने मिर्ची बाबा को जल समाधि के लिए नहीं दी इजाजत, अब छोड़ेंगे खाना

भोपाल. दिग्विजय सिंह की हार के बाद मिर्ची बाबा ने जिंदा समाधि लेने का प्रण किया था। लोकसभा चुनाव के परिणाम आने के बाद वह लंबे अर्से तक गायब रहे थे। दो दिन पूर्व अचानक से यह खबर आई कि बाबा 16 जून को जल समाधि लेंगे। इसके लिए उन्होंने भोपाल कलेक्टर से पत्र लिख अनुमति मांगी थी। अनुमति नहीं मिलने के बाद बाबा की नई नौटंकी शुरू हो गई है।


बाबा दिन भर भोपाल शहर के एक निजी होटल में कैद रहें। उसके बाद मीडिया से बात करने आएं। स्वामी वैराग्यानंद उर्फ मिर्ची बाबा ने कहा कि उन्हें इजाजत नहीं मिली। मैं अपने प्रण पर अडिग हूं। वैराग्यानंद ने कहा कि वे मुहूर्त के हिसाब से 16 जून को 2 बजकर 11 मिनट पर जल समाधि लेने वाले थे, लेकिन भोपाल जिला प्रशासन ने मुझे अनुमति नहीं दी।

इसे भी पढ़ें: मिर्ची बाबा के अग्निकुंड में आत्मदाह का प्रोग्राम आज हुआ कैंसल, अब 20 तारीख के बाद त्याग देंगे भोजन!

 

मुहूर्त देखकर लूंगा फैसला
स्वामी वैराग्यानंद ने कहा कि मैं अभी भी अपने प्रण पर कायम हूं। आगे मैं फिर मुहूर्त निकालूंगा, उसके बाद ऐलान करूंगा। इस पर लोगों ने उनसे सवाल पूछा कि मरने के लिए भी मुहूर्त देखा जाता है क्या। तो बाबा ने कहा कि समाधि की एक प्रक्रिया होती है, इसलिए इसे मुहूर्त के हिसाब से ही किया जाता है।

 

20 जून से छोड़ दूंगा खाना
बाबा वैराग्यानंद ने कहा कि मैं 20 जून तक लगातार भोपाल कलेक्टर से अनुमति मांगूंगा कि मुझे जलसमाधि की इजाजत दी जाए। मिर्ची बाबा ने कहा कि अगर प्रशासन से इसके लिए मुझे परमिशन नहीं मिली तो मैं 20 जून से अन्न-जल त्याग दूंगा। उन्होंने कहा कि मैं अपनी घोषणा पर दृढ संकल्प हूं।

इसे भी पढ़ें: जल समाधि लेने भोपाल पहुंचे मिर्ची बाबा, कहा- प्रशासन नहीं देगा अनुमति फिर भी लूंगा समाधि

 

माफी मांगी
स्वामी वैराग्यानंद ने देश की जनता से माफी भी मांगी है। उन्होंने कहा कि अगर मेरी बातों से किसी को ठेस पहुंची है तो मैं सभी देशवासियों से माफी मांगता हूं। लेकिन मैंने कुछ गलत नहीं किया है। या फिर कोई पाप या दुष्कर्म नहीं किया कि मुझे पछतावा होगा। वैराग्यानंद ने कहा कि चुनाव के बाद मेरी दिग्विजय सिंह से कोई मुलाकात नहीं हुई है।

 

अखाड़ा ने नहीं निकाला
दिग्विजय सिंह की हार के मिर्ची बाबा लापता हो गए थे। सोशल मीडिया पर उन्हें ढूंढा जा रहा था। उसके बाद निरंजनी अखाड़ा ने बाबा को महामंडलेश्वर की पद से हटा दिया था। लेकिन स्वामी वैराग्यानंद का कहना है कि मेरे पास ऐसी कोई सूचना नहीं है। मैं अभी भी महामंडलेश्वर हूं।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned