scriptNow tourists will do safari with electric vehicle in national parks | अब नेशनल पार्कों में इलेक्ट्रिक व्हीकल से सफारी करेंगे पर्यटक | Patrika News

अब नेशनल पार्कों में इलेक्ट्रिक व्हीकल से सफारी करेंगे पर्यटक

- प्रदूषण को रोकने और वन्य प्राणियों के रहन-सहन में व्यवधान को रोकने का अभिनव प्रयास

- वर्तमान में सभी नेशनल पार्कों में रोज करीब १५ से २० वाहन शफारी के रूप में अलग अलग क्षेत्रों से प्रवेश करते हैं

भोपाल

Published: January 23, 2022 07:51:21 pm

भोपाल। नेशनल पार्क और टाइगर रिजर्व में पेट्रोल और डीजल से चलने वाले वाहन प्रवेश नहीं कर पाएंगे। पेट्रोलिंग से लेकर पर्यटकों को सफारी करने वाले सभी वाहन भी इलेक्ट्रिक होंगे। वन विभाग ने ये प्रयास पार्कों को प्रदूषण से मुक्त रखने और वन्य प्राणियों के रहन सहन में व्यवधान को रोकने के लिए किए हैं। वर्तमान में सभी नेशनल पार्कों में रोज करीब १५ से २० वाहन शफारी के रूप में अलग अलग क्षेत्रों से प्रवेश करते हैं।
पार्क प्रबंधन ने सफारी कराने वाली सभी समितियों से इलेक्ट्रिक व्हीकल के प्रबंध में प्रस्ताव तैयार करने के लिए कहा है। इस आधार पर पेट्रोल और डीजल से चलने वाल वाहनों की जगह पर इलेक्ट्रिक व्हीकल को चलाया जाएगा। प्रस्ताव में यह देखा जाएगा कि इलेक्ट्रिक व्हीकल को एक बार चार्ज करने पर कितने किलोमीटर तक चलाया जा सकता है, जो वाहन सफारी के रूप में उपयोग किए जाएंगे उनकी क्षमता पहाडियों में चढऩे की होगी या नहीं होगी। इसके अलावा बिजली नहीं होने पर उनके चार्जिंग की क्या व्यवस्था होगी, इन सभी बातों को लेकर प्रस्ताव तैयार किया जा रहा है।

fvvdvvfv.jpeg

लगाए जाएंगे सोलर पैनल
पार्कों में सोलर पैनल भी लगाए जाएंगे। जिससे सफारी को चार्ज किया जा सके। ये सोलर सिस्टम पार्क के सभी प्रवेश द्वारा पर लगाए जाएंगे, जिससे बिजली नहीं होने पर सोलर लाइट जलाई जा सके और इलेक्ट्रिक व्हींकल भी इसी से चार्ज किया जा सके। बताया जाता है कि इस तरह के प्रयोग पार्कों के कुछ प्रवेश द्वार पर किए जाएंगे। प्रयोग सफल होने पर सभी गेटों में इस तरह की व्यस्था की जाएगी।

अनुदान की होगी व्यवस्था
वाहन खरीदने पर पर्यटन समितियों को अनुदान की भी व्यवस्था की जाएगी। पार्क प्रबंधन और समितियां यह तय करेंगी कि प्रति वाहन कितना अनुदान दिया जा सकता है। हालांकि यह अनुदान समितियों की वित्तीय स्थिति पर निर्भर करेगा। लेकिन जिन समितियों की वित्तीय स्थिति ठीक नहीं है वहां वाहन खरीदने के लिए अनुदान विभाग के जरिए दिया जा सकेगा, जिससे कि पार्कों में इलेक्टिक व्हीकल चलाया जा सके। वाहन खरीदने के लिए लोन उपलब्ध कराने के लिए भी पार्क प्रबंधन सहयोग करेगा।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ज्योतिष: ऊंची किस्मत लेकर जन्मी होती हैं इन नाम की लड़कियां, लाइफ में खूब कमाती हैं पैसाशनि देव जल्द कर्क, वृश्चिक और मीन वालों को देने वाले हैं बड़ी राहत, ये है वजहताजमहल बनाने वाले कारीगर के वंशज ने खोले कई राजपापी ग्रह राहु 2023 तक 3 राशियों पर रहेगा मेहरबान, हर काम में मिलेगी सफलताजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथJaya Kishori: शादी को लेकर जया किशोरी को इस बात का है डर, रखी है ये शर्तखुशखबरी: LPG घरेलू गैस सिलेंडर का रेट कम करने का फैसला, जानें कितनी मिलेगी राहतनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

IPL 2022: टिम डेविड की तूफानी पारी, मुंबई ने दिल्ली को 5 विकेट से हराया, RCB प्लेऑफ मेंपेट्रोल-डीज़ल होगा सस्ता, गैस सिलेंडर पर भी मिलेगी सब्सिडी, केंद्र सरकार ने किया बड़ा ऐलान'हमारे लिए हमेशा लोग पहले होते हैं', पेट्रोल-डीजल की कीमतों में कटौती पर पीएम मोदीArchery World Cup: भारतीय कंपाउंड टीम ने जीता गोल्ड मेडल, फ्रांस को हरा लगातार दूसरी बार बने चैम्पियनआय से अधिक संपत्ति मामले में ओम प्रकाश चौटाला दोषी करार, 26 मई को सजा पर होगी बहसऑस्ट्रेलिया के चुनावों में प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन हारे, एंथनी अल्बनीज होंगे नए PM, जानें कौन हैं येगुजरात में BJP को बड़ा झटका, कांग्रेस व आदिवासियों के लगातार विरोध के बाद पार-तापी नर्मदा रिवर लिंक प्रोजेक्ट रद्दजापान में होगा तीसरा क्वाड समिट, 23-24 मई को PM मोदी का जापान दौरा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.