scriptNow 'Western Disturbance' is coming, there is a possibility of rain | तापमान पहुंचा 3 डिग्री, अब आ रहा है 'पश्चिमी विक्षोभ' , इन जिलों में बारिश की संभावना | Patrika News

तापमान पहुंचा 3 डिग्री, अब आ रहा है 'पश्चिमी विक्षोभ' , इन जिलों में बारिश की संभावना


-कड़ाके की ठंड में हार्ट अटैक, ब्रेन स्ट्रोक और ब्रेन हेमरेज के मामले बढ़े....
- 7 दिन में 694 लोगों को भर्ती होना पड़ा

भोपाल

Published: December 23, 2021 02:46:25 pm

भोपाल। राजधानी सहित पूरे प्रदेश में इन दिनों कड़ाके की सर्दी का दौर जारी है। बुधवार को खजुराहो, नौगांव, उमरिया, मंडला में तापमान 3 डिग्री दर्ज किया। शीतलहर का प्रभाव रहा। 10 से ज्यादा स्थानों पर तापमान 3 से 5 डिग्री के बीच रहा। वहीं, पूरे राज्य में न्यूनतम तापमान 10 डिग्री से नीचे बन हुआ है। मौसम विभाग के अनुसार आगामी 24 घंटे में रीवा, उमरिया, मंडला, बालाघाट, सिवनी, छतरपुर आदि जिलों में शीतलहर की संभावना है।

b_2.jpg
weather

मौसम विज्ञानी का कहना है कि अभी हवा का रुख पश्चिमी उत्तर पश्चिमी है। एक पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय है। 24 व 26 दिसंबर को भी एक पश्चिमी विक्षोभ आने की संभावना है। इनके असर से 27 से 29 दिसंबर तक हल्की बारिश की संभावना है। नए साल में फिर कड़ाके की बना हुआ है। सर्दी का एक दौर आने की संभावना है।

अब बारिश के भी आसार

बुधवार को खजुराहो, नौगांव, डिग्री दर्ज किया गया। 10 से ज्यादा स्थानों पर तापमान 3 से 5 डिग्री के बीच रहा। मौसम विज्ञानी पीके साहा के अनुसार, अभी हवा पश्चिमी उत्तर पश्चिमी है। पश्चिमी विक्षोभ भी सक्रिय है। 24 व 26 दिसंबर को दूसरा विक्षोभ आ सकता है। इनके असर से 27 से 29 दिसंबर तक हल्की बारिश की संभावना है। नए साल में फिर कड़ाके की सर्दी का एक दौर आने के आसार हैं।

जानिए क्या रही पारे की चाल ( तापमान डिग्री सेल्सियस में)

4.1- ग्वालियर
4.2- रीवा
3.2- खजुराहो
3.3- नौगांव
3.3- उमरिया

सर्दी में इसलिए दिल को ज्यादा खतरा

प्रदेशभर में कड़ाके की सर्दी का दौर जारी है। लगातार गिरते तापमान का असर लोगों की सेहत पर पड़ने लगा है। बीते 7 दिन में प्रदेशभर के कार्डियोलॉजी, न्यूरोलॉजी और न्यूरो सर्जरी विभाग में हार्टअटैक, ब्रेन स्ट्रोक और ब्रेन हेमरेज के 694 मरीज भर्ती हुए हैं। इनमें से 82 मरीज अकेले भोपाल के हैं। आम दिनों के मुकाबले एक सप्ताह में 15 फीसदी तो ब्रेन हेमरेज के केस 25 फीसदी बढ़े हैं। 13 से 20 दिसंबर के बीच हमीदिया पहुंचे मरीजों में 18 ऐसे थे, जिन्हें गंभीर स्थिति में अस्पताल लाना पड़ा। जिकित्जा एंबुलेंस से मिली जानकारी के मुताबिक, 12 मरीजों को गंभीर हार्टअटैक और 6 मरीजों को ब्रेन स्ट्रोक की समस्या के चलते भर्ती कराया गया।

हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ. आरएस मीना कहते हैं, पारा गिरने पर शरीर ठिठुरने लगता है। दिल तक ब्लड लाने ले जाने वाली वाहिकाएं सिकुड़ने लगती हैं। ऐसे में ब्लड सर्कुलेशन के लिए हार्ट को जोर डालना पड़ता है। ब्लड प्रेशर अधिक बढ़ने पर हार्टअटैक के केस सामने आते हैं। न्यूरासर्जन डॉ. आइडी चौरसिया के अनुसार, सर्दी के मौसम में ब्लड गाढ़ा होने लगता है। इससे आसानी से थक्के जमने लगते हैं। नतीजा, मरीज स्ट्रोक से जूझते हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Republic Day 2022 LIVE updates: देश आज मना रहा 73वें गणतंत्र दिवस का जश्न, ITBP के जवानों ने - 40 डिग्री तापमान में फहराया तिरंगाRepublic Day 2022: गणतंत्र दिवस पर दिल्ली की किलेबंदी, जमीन से आसमान तक करीब 50 हजार सुरक्षाबल मुस्तैदRepulic Day 2022: जानिए क्या है इस बार गणतंत्र दिवस की थीमस्वास्थ्य मंत्री ने कोरोना हालातों पर राज्यों के साथ की बैठक, बोले- समय पर भेजें जांच और वैक्सीनेशन डाटाBudget 2022: कोरोना काल में दूसरी बार बजट पेश करेंगी निर्मला सीतारमण, जानिए तारीख और समयRepublic Day: छत्तीसगढ़ के दो सैन्य ग्राम, जहां कदम रखते ही सुनाई देती है शहीदों और वीर सैनिकों की वीर गाथा, ऐसा देश है मेरा...UP Election 2022: सपा ने 39 प्रत्याशियों की जारी की सूची, 2002 के बाद पहली बार राजा भैया के खिलाफ उतारा प्रत्याशीpetrol diesel price today: पेट्रोल-डीजल के दामों में कोई बदलाव नहीं
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.