नंबर गेम से समझिए, शुक्रवार को किसका 'कमल' खिलेगा?

छह विधायकों के इस्तीफा मंजूर होने के बाद विधायकों की कुल संख्या 222 रह गई है

By: Devendra Kashyap

Updated: 19 Mar 2020, 07:40 PM IST

भोपाल. मध्यप्रदेश की राजनीति में शुक्रवार का दिन काफी अहम है। अभी से ही यह सवाल तैरने लगे हैं कि शुक्रवार को किसका 'कमल' खिलेगा? आइए आपको नंबर गेम के जरिए समझाते हैं कि आखिर सदन में अभी स्थिति क्या है। वर्तमान स्थिति के हिसाब से सरकार पास होगी या फेल। ऐसे कई सवाल हैं, जिसे लोग समझना चाह रहे हैं। सत्ता की चाभी बेंगलुरू में रुके उन विधायकों के पास ही हैं, जिन्होंने विधानसभा अध्यक्ष को अपना इस्तीफा भेज दिया है। साथ ही लगातार मांग कर रहे हैं कि इसे स्वीकार किया जाए।

क्या है नंबर गेम

मध्यप्रदेश विधानसभा में 230 सीट है, जिनमें दो पहले से ही रिक्त हैं। छह विधायकों के इस्तीफा मंजूर होने के बाद विधायकों की कुल संख्या 222 रह गई है। वर्तमान में कांग्रेस के 108 और बीजेपी के 107 विधायक बचते हैं। विधायकों की संख्या के हिसाब से देखें तो सरकार बनाने के लिए 112 की संख्या होनी जरूरी है। कांग्रेस को अन्य- 07 (4 निर्दलीय, 2 बसपा, 1 सपा ) का समर्थन हासिल है। ऐसे में सरकार पर कोई खतरा नहीं है। अगर बागी 16 विधायक बेंगलुरू से नहीं आते हैं तो कांग्रेस के पास विधायकों की संख्या 92 रह जाएगी। साथ ही विधानसभा सदस्यों की संख्या 206 हो जाएगी। फिर सरकार बनाने के लिए 104 विधायकों की जरूरत पड़ेगी।

अगर बागी विधायक नहीं आते हैं तो...

ज्योतिरादित्य सिंधिया के पार्टी छोड़ने पर कांग्रेस के कुल 22 सदस्यों ने इस्तीफा दिया है। जिनमें से विधानसभा स्पीकर ने इनमें से 6 सदस्यों का इस्तीफा मंजूर कर लिया है। 16 विधायकों का इस्तीफा पर अभी तक कोई निर्णय नहीं हुआ है और ये सभी अभी बेंगलुरू में मौजूद हैं, इनका कहना है कि हमलोग सिंधिया के साथ हैं और अपनी मर्जी से इस्तीफा दिया है। अगर कल फ्लोर टेस्ट के दौरान ये सदन में नहीं पहुंचते हैं तो कमलनाथ सरकार का बचना मुश्किल है।

BJP Congress Kamal Nath
Show More
Devendra Kashyap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned