scriptOm Shiv Shakti Seva Mandal members tell the experiences of Amarnath | बचकर आए श्रद्धालुओं ने बताया मौत का मंजर, गुफा से दो किमी के दायरे में था सैलाब का असर | Patrika News

बचकर आए श्रद्धालुओं ने बताया मौत का मंजर, गुफा से दो किमी के दायरे में था सैलाब का असर

बाबा बर्फानी के दर्शन के बाद लौटे भक्तों ने सुनाई आपबीती

 

भोपाल

Updated: July 21, 2022 06:12:55 pm

भोपाल। राजधानी से अमरनाथ यात्रा पर गए यात्रियों का लौटना भी शुरू हो गया है। 11 जुलाई को ओम शिव शक्ति सेवा मंडल के तत्वावधान में 506 भक्तों का बड़ा जत्था अमरनाथ के लिए रवाना हुआ था। ये सभी भक्त अमरनाथ के दर्शन कर सकुशल वापस आ गए हैं। अमरनाथ से लौटे ये यात्री अपने साथ वहां का पवित्र जल और मिट्टी भी लेकर आए हैं। अब ओम शिव शक्ति सेवा मंडल के सदस्य इस पवित्र जल से भोपाल और आसपास के शिव मंदिरों में जाकर अभिषेक करेंगे। अमरनाथ गुफा के पास से लाई गई पवित्र मिट्टी से शिवलिंग बनाए जाएंगे और उनका विधिविधान से पूजा की जाएगी। ये वे यात्री हैं जिन्होंने बादल फटने की आपदा को खुद देखा है. कुछ यात्रियों ने इस संबंध में अपने अनुभव भी साझा किए.

amarnath.png
भक्तों ने सुनाई आपबीती

अमरनाथ से लौटे मनोज पांडे बताते हैं कि वह मंजर बहुत भयावह था. बादल फटने के बाद सभी यात्री बुरी तरह डर चुके थे। कैंप तक में रुकने में भी डर लग रहा था। घरवाले भी परेशान होकर फोन लगा रहे थे, लेकिन मोबाइल लग ही नहीं रहा था। जब—जब भी नेटवर्क मिलता तब—तब परिजनों को फोन करके हाल बता देते थे। कीचड़ के कारण कई जगहों पर फिसले, कई बार समय पर भोजन नहीं मिला.

कई दिक्कत आईं, लेकिन बाबा की कृपा से आखिरकार सारी कठिनाइयां खत्म हो गईं। जल्द ही यात्रा फिर से शुरू हो गई और हमने अमरनाथ बाबा के दर्शन किए। एक अन्य यात्री ने बताया कि हमने मौत का मंजर बिल्कुल करीब से देखा है. गुफा से दो किमी तक के दायरे में इस सैलाब का असर था। उस समय सेना के जवान देवदूत बनकर आए। श्रद्धालुओं को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाने के लिए उन्होंने अपनी जान जोखिम में डाली। बादल फट जाने के बाद कई जगहों पर मलबा पड़ा था, जिसे सेना ने तेजी से हटाया। इतने बड़े हादसे के बाद भी केवल तीन दिन में फिर से यात्रा शुरू हो गई थी। आक्सीजन की लगातार कमी होने से सांस लेने में दिक्कत होती थी पर ऐसे लोगों के लिए तुरंत आक्सीजन की व्यवस्था की जा रही थी।

गौरतलब है कि अमरनाथ यात्रा में कुछ दिनों पहले गुफा के पास बादल फट गए थे. इस आपदा में कई यात्रियों की मौत हो गई थी. घटना के बाद यात्रा में कई तरह की कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Bihar Cabinet Expansion Live Updates: तेजस्वी के पास सड़क, स्वास्थ्य व नगर विकास विभाग, तेज बने वन व पर्यावरण मंत्रीकौन होगा बिहार का नेता प्रतिपक्ष: जेपी नड्डा की मौजूदगी में दिल्ली में बैठक, इन मुद्दों पर भी होगी चर्चागुजरात में कांग्रेस को बड़ा झटका, 6 MLA बीजेपी में हो सकते हैं शामिलTarget Killing In Kashmir: 'मोदी सरकार कश्मीरी पंडितों की हिफाजत करने में हुई फेल', AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसीJammu-Kashmir: शोपियां में नाम पूछकर आतंकियों ने कश्मीरी पंडितों पर बरसाईं गोलियां, एक की मौत, लश्कर फ्रंट ने ली जिम्मेदारीJammu-Kashmir: पहलगाम में 39 ITBP जवानों को ले जा रही बस खाई में गिरी, 7 जवान शहीद, अमित शाह ने जताया दुखKejriwal Press Conference: केजरीवाल ने बताया कैसे बनेगा देश का हर गरीब अमीर, इन 4 बड़े कामों पर दिया जोरMumbai Rains: मुंबई और ठाणे में सुबह से हो रही तेज बारिश, कई जगहों पर जलभराव, जानें- लोकल ट्रेन और बेस्ट बस की स्थिति
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.